अब चेक बाउंस हुआ तो होगी मुसीबत! चेक पर हस्ताक्षर करने से पहले हमेशा याद रखें ये 10 टिप्स

अपने वित्त की सुरक्षा और महँगी गलतियों से बचने के लिए सुरक्षित चेक पर हस्ताक्षर करने की कला सीखें।

चेक पर हस्ताक्षर

Tips for Signing a Cheque: वित्तीय साधन के रूप में चेक का उपयोग करना सुविधाजनक है, लेकिन इसके साथ जिम्मेदारियाँ भी जुड़ी हुई हैं। ऐसे में यह जानना जरूरी है कि सेल्फ चेक कैसे भरे (Check Kaise Bhare), चेक बाउंस की समस्याओं से कैसे बचें और अपने वित्त की सुरक्षा कैसे करें। सुचारू लेन-देन सुनिश्चित करने और अनावश्यक परेशानियों से बचने के लिए इन 10 टिप्स को आजमाएं:

  • सेल्फ चेक भरने में सावधानियाँ बरतनी चाहिए। 

  • बैंक चेक पर हस्ताक्षर करते समय की 10 गलतियाँ कभी न करें। 

  • चेक पर सही तरीके से हस्ताक्षर के कुछ नियम हैं। 

1. चेक के उद्देश्य को समझें:

किसी भी चेक पर हस्ताक्षर करने से पहले, उसके उद्देश्य को समझें और धनराशि किसे प्राप्त होगी। 

2. तारीख दोबारा जांचें:

हमेशा सुनिश्चित करें कि चेक पर तारीख सटीक है और उस दिन से मेल खाती है जिस दिन आप इसे जारी कर रहे हैं। 

3. चेक बाउंस न होने दें:

चेक पर हस्ताक्षर करने पहले के चरण में सुनिश्चित करें कि आपके बैंक खाते में राशि कवर करने के लिए पर्याप्त धनराशि है ताकि चेक बाउंस न हो और कानूनी परेशानियों से बचा जा सके। 

यह भी पढ़ें: बैंक लॉकर से चोरी हुई तो बैंक नहीं जिम्मेदार! जानें नियम

4. प्राप्तकर्ता का नाम स्पष्ट रूप से लिखें:

जिस व्यक्ति या व्यवसाय को आप चेक जारी कर रहे हैं उसका नाम स्पष्ट रूप से लिखें। वर्तनी की गलतियों से बचें क्योंकि इससे चेक क्लियरिंग में देरी हो सकती है।

5. स्थायी स्याही का प्रयोग करें:

हस्ताक्षरित चेक (Signed cheque) के लिए स्थायी स्याही का उपयोग करें, जिससे छेड़छाड़ और संभावित धोखाधड़ी के प्रयासों को रोका जा सके। 

6. सुसंगत हस्ताक्षर:

तो, चेक पर सही तरीके से हस्ताक्षर कैसे करें? चेक पर अपने पूरे नाम का उपयोग करते हुए वह हस्ताक्षर करें जो आपने बैंक को प्रदान किया था। बेमेल हस्ताक्षरों के कारण चेक अस्वीकृत हो सकते हैं और भुगतान में देरी हो सकती है।

7. चेक नंबर रिकॉर्ड करें:

चेक नंबर का ध्यान रखें और इसे सुरक्षित स्थान पर रखें। चेक नंबर विवादों को सुलझाने या बैंक के साथ लेनदेन को सत्यापित करने में उपयोगी हो सकता है।

8. पोस्ट-डेटिंग से बचें:

सुनिश्चित करें कि आपके खाते से धनराशि की कटौती के लिए चेक की तारीख सटीक है। चेक को पोस्ट-डेटिंग करने से बचें।

9. कभी भी खाली चेक जारी न करें:

बचाव और सुरक्षा के लिए कभी भी ब्लैंक चेक न दें। चेक को अधूरा छोड़ने से कोई व्यक्ति कितनी भी राशि लिख सकता है। 

10. अपनी चेकबुक सुरक्षित रखें:

हानि या चोरी से बचने के लिए अपनी चेकबुक को सुरक्षित स्थान पर रखें। हालांकि आपके हस्ताक्षर के बिना चेक का कोई मूल्य नहीं है लेकिन चोरी हुआ चेक संभावित धोखाधड़ी का कारण हो सकता है।

यह भी पढ़ें: भारत में 3 सबसे सुरक्षित बैंक कौन हैं?

NEWSLETTER

Related Article

Premium Articles

Union Budget