4 बहाने जो महिलाओं को अपने पैसों का प्रबंधन करने से नहीं रोक सकते

आप अपना बिल समय पर भरती हैं, किसी पेशेवर की तरह मोलभाव करती हैं, अपने पैसों का ध्‍यान रखती हैं और अपने खर्चों पर नज़र रखती हैं। क्या यह सब देखकर ऐसे व्‍यक्ति की तस्‍वीर नहीं उभरती जो कि पैसे से जुड़े मामलों को बेहतर तरीके से समझता है? लेकिन जब फाइनेंशियल प्‍लानिंग की बात हो, तो आप अपनी भलाई को प्राथमिकता देने में विफल हो जाती है।

4 बहाने जो महिलाओं को अपने पैसों का प्रबंधन करने से नहीं रोक सकते

आइए कुछ ऐसे बहानों पर गौर करते हैं जिन्‍हें आप स्‍वयं को तब देती हैं, जब आपके पास अपने वित्तीय भविष्य की जिम्‍मेदारी उठाने का मौका आता है --- हम आपको अपनी ओर से उनका समाधान भी बताएंगे। 

बहाना 1: "मुझे पर्सनल फाइनेंस की समझ नहीं है।"

मजे की बात है कि दुनिया भर में महिलाएं हर रोज विभिन्‍न भूमिकाओं जैसे एक प्रभावशील चिकित्‍सक, बेहतरीन प्रबंधक या एक रचनाशील गृहिणी के रूप में अपनी प्रवीणता और आत्‍मविश्‍वास का प्रदर्शन करती हैं। लेकिन जब पर्सनल फाइनेंस की बात आती है तो उनका आत्‍मविश्‍वास न जाने कहां चला जाता है। 

यदि आप नौसीखिया हैं, तो आप निश्‍चित समय अंतराल के अपने वित्‍तीय विवरणों का अध्‍ययन करें। इससे आपको पता चलेगा कि आप कहां हैं। जैसे ही आप इस विषय से अधिक परिचित हो जाएंगी, तब आप पर्सनल फाइनेंस से जुड़े आर्टिकल और ब्लॉग को पढ़कर स्वयं को इस बारे में प्रशिक्षित कर सकती हैं। 

आप किसी विश्‍वसनीय व्‍यक्ति जैसे अपने जीवन साथी, परिवार के सदस्‍य, मित्र, सहकर्मी आदि की मदद ले सकती हैं, जो एक फाइनेंशियल एडवाइजर के रूप में आपकी मदद कर सकता है। वे आपको एक आसान तरीके से फाइनेंस को समझने में मदद कर सकते हैं। एक बार मौलिक बातों को सही से समझ लेने के बाद, वित्तीय दुनिया को समझना आपके लिए कोई असंभव बात नहीं होगी। 

बहाना 2: "मैं ज्‍यादा नहीं कमाती। इसलिए, मेरे पति/परिवार निवेश का ख्‍याल रखते हैं।"

सिर्फ पैसे बचाने से आपकी संपत्ति बढ़ने वाली नहीं है। निवेश करना भी उतना ही जरूरी है। इसके अलावा, यह भी सच में बेहद अनुचित है कि निवेश से जुड़े निर्णय लेने का पूरा बोझ एक व्यक्ति के कंधे पर हो। आपकी भागीदारी उनके लिए इसे अधिक आसान बना सकती है। 

निवेश करने के लिए जरूरी नहीं है कि आपको बड़ी राशि इसमें डालनी होगी। आप कभी भी छोटी राशि के साथ शुरुआत कर सकती हैं, इसके प्रदर्शन पर नज़र रख सकती हैं और इसी के आधार पर, आप उस उपकरण में निवेश कर सकती हैं जो आपको वह सुरक्षा तथा रिटर्न प्रदान करता हो जो आप चाहती हैं।यह याद रखना महत्वपूर्ण है कि आपके निवेश में भविष्य में आपकी संपत्ति बढ़ाने की क्षमता होती है।

लेकिन निवेश करने से पहले, आप बाजार में मौजूद विभिन्न निवेश विकल्पों के बारे में जानकारी अवश्‍य प्राप्त कर लें। आप मार्गदर्शन भी ले सकते हैं। आप जिस व्यक्ति से संपर्क करेंगी वह आपको उस निवेश विकल्प का चयन करने में मदद कर सकता है जो आपके लिए सबसे बेहतर होगा।

महिलाएं आम तौर पर कम वर्षों तक काम करती हैं, वहीं वे लंबे समय तक जीवित भी रहती हैं। इसलिए, एक महिला होने के नाते, अपने रिटायरमेंट के वर्षों की योजना बनाते समय अपनी बेहद खास जरूरतों पर ध्यान देना महत्वपूर्ण है। 

बहाना 3: " अगर मुझे सही निवेश विकल्प नहीं मिलता है तो क्या होगा? क्या मैं अपनी कम आय के बावजूद निवेश जारी रख सकती हूँ?"

कोई भी स्विमिंग पूल के बाहर खड़े रहकर तैरना नहीं सीखता है। अपने फैसलों का अधिक विश्लेषण करने से केवल चिंता और उलझन पैदा होती है। याद रखें कि आपके लिए अपने वित्तीय भविष्य पर नियंत्रण रखना बहुत महत्वपूर्ण है। 

यदि आप सही निवेश उत्पाद को लेकर उलझन में हैं और परेशान हैं, तो यह बात समझ लें कि यहां कोई भी ऐसी निवेश रणनीति नहीं है जो सभी को सुरक्षा प्रदान करे। उतनी ही मात्रा में सही और उपयोगी जानकारी जुटाएं जो आपको भ्रमित होने से बचाए और आपको निवेशित बनाए रखे। 
 
 बहाना 4: "नौकरी, घर और बच्‍चों को संभालने के बाद, मेरे पास वित्‍तीय मामलों से निपटने के लिए पर्याप्‍त समय नहीं बचता।"

सच में कभी-कभी दिन के 24 घंटे कम लगते हैं। शुरू-शुरू में वित्‍तीय गतिविधियों में शामिल होने के लिए समय और प्रयास दोनों की ही जरूरत होती है। आप कुछ बुनियादी चीजों के साथ शुरुआत कर सकती हैं- जैसे एक बैंक खाता रखना, टैक्‍स भरना इत्‍यादि। बाद में, आप निवेश उपकरणों के बारे में पढ़ सकती हैं जैसे म्‍यूचुअल फंड्स, स्‍टॉक्स, स्‍कीम्‍स इत्यादि। एक बार जब आप ऐसा करना शुरू करेंगी, आपको वित्तीय मामलों पर विचार करने के लिए ज्‍यादा समय देने की आवश्यकता नहीं होगी। 

आजकल, आपके पास विभिन्न ऐप्स हैं जो आपको सभी आवश्यक वित्तीय जानकारियां प्रदान करती हैं। इसके साथ, आप अपने पैसे का चलते-फिरते कभी भी ख्‍याल रख सकती हैं। 

अभी किया गया थोड़ा सा प्रयास आपको आत्मविश्वासी और आजाद बनाएगा, जिससे कि आप खुद चीज़ें संभाल सकें, विशेष रूप से आपात स्थितियों के दौरान। 

निष्‍कर्ष

महिलाएं लक्ष्‍य निर्माण और निवेश विकल्‍पों में जिस प्रकार तेजी से रुचि ले रही हैं वैसे ही समय के साथ सोच में भी बदलाव आ रहा है। पैसे को एक ऐसे उपकरण के रूप में देखें जो आपको अपने लक्ष्‍य प्राप्त करने में मदद करेगा और आपकी भलाई को सुनिश्चित करेगा। आप हमेशा से जीवन में जो विजय हासिल करना चाहती थीं, यह उसका एक जरिया भी हो सकता है। 

संबंधित लेख

Most Shared