50 वर्ष के हो जाने के बाद इन पैसे की गलतियों से बचें

आइए उन चीजों पर एक नज़र डालें जो 50 साल की उम्र में अपने वित्तीय भविष्य की सुरक्षा के लिए , आपको नहीं करनी चाहिए।

50 वर्ष के हो जाने के बाद इन पैसे की गलतियों से बचें

जैसे ही 50 का दशक आ जाता है , हममें से अधिकांश लोग सेवानिवृत्ति को हमारे नज़रों के सामने खड़ा पाते हैं। यह हमारे कार्यशील जीवन का अंतिम दशक है और यह उन सभी बचत और निवेशों के फलों की रक्षा के बारे में होगा जो हमने वर्षों में बनाए थे। बेशक, हम अपनी बचत में जोड़ सकते हैं, लेकिन यह एक ऐसा समय है जब ज़रूरी खर्च अधिक होने शुरू होते हैं - चाहे वह चिकित्सक बिल हो या बच्चों का शैक्षणिक खर्च।

इसके अलावा, कई गलतियां हैं जो लोग अपने 50 के दशक में कर सकते हैं। आइए देखते हैं कि इनमे आम क्या हैं:

1 सेवानिवृत्ति फंडों को बहुत जल्दी खर्च करना

वास्तव में,सेवानिवृत्त होने से पहले, किसी को भी अपनी सेवानिवृत्ति निधि को नहीं छूना चाहिए। लेकिन कुछ मौकों पर, लोग इस तरह के फंड के महत्व को कम आंकते हैं और यह सोचकर खर्च करते हैं कि वे बाद में इसकी भरपाई कर लेंगे । लेकिन अपने सेवानिवृत्ति फंड को नियमित खर्च पर खर्च करने का सवाल कभी नहीं उठना चाहिए। किसी आपात स्थिति में भी, आपके पास एक अलग आपातकालीन निधि होनी चाहिए, ताकि आपको इससे बाहर निकालने के लिए अपने सेवानिवृत्ति कोष को हाथ लगाने की आवश्यकता न हो।

2. बच्चों का (या पोते-पोतियों का) खर्च उठाना

50 का दशक एक ऐसा समय होता है जब आप अपने बच्चों या पोते-पोतियों से संबंधित दायित्वों का सामना कर सकते हैं। यदि आपकी संतान अभी भी नाबालिग है, तो आपको उनके शैक्षिक खर्चों को पूरा करना होगा। आपको उनके कैरियर को आरंभ करने में भी मदद करनी पड़ सकती है, जैसे कि उनके व्यवसाय की प्रारंभिक पूंजी में योगदान देकर। पोते/पोतियों के मामले में, एक नए दादा-दादी के रूप में, आप स्वाभाविक रूप से उन्हें लाड़ प्यार करने के लिए उत्सुक होंगे, कभी-कभी अपनी सेवानिवृत्ति योजनाओं की कीमत पर भी। तो, जबकि आप उदार हो सकते हैं, तो विवेकपूर्ण भी हो सकते हैं।

3. अब शुरू करने में बहुत देर हो चुकी है,ऐसा सोचना

हर कोई जल्दी बचत शुरू करने की तैयारी नहीं करता है। हो सकता है कि आप जीवन में देर से सेटल हुए हो या दुनिया की काफी यात्रा की हो जिससे बचत न हो पाई हो । लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि आप अभी बचत शुरू नहीं कर सकते। आप अभी भी अपने 50 के दशक में अच्छी बचत कर सकते हैं,और एक अच्छी सेवानिवृत्ति कोष बना सकते हैं। एक आम गलतफेहमी जो किसी भी उम्र के लोगों को होती है, वह यह है कि बचत शुरू करने के लिए - या उस मामले में कुछ भी शुरू करने के लिए बहुत देर हो चुकी है। यह मत मानिए कि सिर्फ इसलिए कि आप 50 वर्ष के हो गए हैं, आप वह करना शुरू नहीं कर सकते हैं जो आप हमेशा चाहते थे ... चाहे वह फ्रेंच सीखना हो, जिम जाना हो, या पैसे की बचत करना हो।

4. सावधानी बरतने में गलत आंकलन करना

बहुत से लोग सेवानिवृत्ति के बाद अपनी निवेश रणनीति को बदलते हैं। वे जोखिम भरे निवेशों को बंद या काफी कम करते हैं और फिक्स्ड डिपॉजिट या सरकारी बचत योजनाओं जैसे रूढ़िवादी विकल्पों पर जा सकते हैं। आय के प्रवाह में अपेक्षित कमी के साथ, उनके लिए अपने निवेश में जोखिम लेने से बचना स्वाभाविक है। निवेश में जोखिमों को कम नहीं करके, एक 50 वर्षीय व्यक्ति अपने वित्तीय भविष्य को खतरे में डाल सकता है।

50 वर्ष की आयु के बाद पूंजी संरक्षण प्राथमिक उद्देश्य होना चाहिए, लेकिन साथ ही, बाजार की वृद्धि और उसके फल को पूरी तरह से खोना बुद्धिमानी नहीं है। इसलिए सुरक्षित निवेशों का संयोजन और मान ले, बाजार से जुड़े म्यूचुअल फंड या ब्लू-चिप स्टॉक यह सुनिश्चित करेंगे कि आप अपने निवेश की रक्षा करें और बाजार की उत्पादकता के अनुरूप भी रहें।

5. सेवानिवृत्ति के बाद की जरूरतों को पूरा करना

सेवानिवृत्ति के बाद आरामदायक जीवन जीने के लिए आपको कितने पैसे की आवश्यकता होगी, यह जानने के लिए आप हमेशा टुमारोमेकर्स के रिटायरमेंट नियोजन कैलकुलेटर को देख सकते हैं। पहले, यह गणना मान्यताओं के आधार पर की गई थी। हालांकि, वर्तमान समय में ऐसा करना गलत होगा। आदर्श सेवानिवृत्ति कोष राशि जोड़ने के लिए आपको सभी उपलब्ध संसाधनों का उपयोग करना चाहिए ताकि बाद में इसमें कोई कमी न हों।

6. रोजगार लाभ पर निर्भरता

रोजगार के लाभ के कई घटक हो सकते हैं - सेवानिवृत्ति के दौरान अवकाश के नकदीकरण की गणना, भविष्य निधि, ग्रेच्युटी आदि । हालांकि, इस पर अति-निर्भरता का सुझाव नहीं दिया जाता है क्योंकि आपके पास मिलने वाली राशि पर पूरी स्पष्टता नहीं हो सकती है। उदाहरण के लिए, सेवानिवृत्ति के समय नकदीकरण की गणना हम में से अधिकांश के लिए एक अस्पष्ट क्षेत्र है। इसलिए, रोजगार लाभों का सेवानिवृत्ति कोष में एक अतिरिक्त लाभ के रूप में स्वागत करें ।

जैसे-जैसे हम बूढ़े होते हैं, हमारे खर्चों में बढ़ोतरी होती है, और साथ ही जोखिम भी। एक अच्छा उदाहरण चिकित्सा व्यय है, जो उम्र के साथ बढ़ता है, जबकि स्वास्थ्य बीमा कवर घटकर और अधिक महंगा हो जाता है। इसलिए, बढ़ती उम्र के साथ, हमे अपने बचत को लेकर अतिरिक्त सतर्क रहना महत्वपूर्ण होगा और हमारे दिन-प्रतिदिन के खर्चों पर कड़ी नजर रखना चाहिए। इस बात पर ध्यान दें कि सेवानिवृत्ति की योजना की अनदेखी करना आर्थिक रूप से हानिकारक हो सकता है जिससे आप इन 6 गलतियों से क्यों बचा जाना चाहिए, इसकी बेहतर समझ हासिल नहीं कर पाएंगे ।

संबंधित लेख