7 सुविधाएं जिसे आपको अपने नियोक्ता से मांगनी चाहिए

जीवन मिश्रण के लिए इन सुविधाओं के बारे में अपने नियोक्ता से बात करे

X Perks you must question your employer for

बदलते वक़्त के साथ, कर्मचारी काम और निजी जीवन में बेहतर संतुलन चाहते हैं | कोई भी सारा दिन काम में फंसे रहना पसंद नहीं करता | इसके बजाय, लोगो को ऐसी ज़िन्दगी चाहिए जो लचीली और पूरक हो | अगर आपको ऐसी नौकरी दी जाए, जिनमे ये नीतियां मौजूद नहीं है तो उन से मांगिये और उन्हें समझाइये की क्यों उन्हें ऐसे विकल्पों को शामिल करना चाहिए|

यहाँ दिए गए कुछ सुविधाएं हर कर्मचारी को मांगनी चाहिए :

1) लचीली कार्य सारिणी : सबसे बेहतर गैर वित्तीय सुविधा जो आपको मिल सकती है वो है एक लचीली कार्य समयसारिणी | सभी अलग अलग समय अनुसार उत्पादक होते हैं - कुछ लोग सुबह 5 बजे उठकर काम कर सकते हैं ,जबकि कुछ लोग सुबह 11 बजे के बाद कार्यशील  होते हैं | अगर आप वह व्यक्ति हैं जिसे सुबह 9 से शाम 5 की सारिणी में काम करना पसंद नहीं है , तो अपने नियोक्ता से बात करें और देखे की वो आपको एक लचीली कार्य सारिणी देने के इच्छुक हैं की नहीं | 

कितने प्रतिशत कर्मचारी वेतन वृद्धि के मुकाबले सुविधाओं का चयन करते हैं 

89% कर्मचारी जिनकी आयु सीमा 18 से 34 वर्ष है 
70% कर्मचारी जिनकी आयु सीमा 45 से 54 वर्ष है 
66% कर्मचारी जिनकी आयु सीमा 55 से 64 वर्ष है 
सुविधाएं जिनका मूल्य वेतन वृद्धि से अधिक है :

हैल्थकेयर इन्शुरन्स : 40 %

अवकाश या छुटियाँ जिनमे वेतन प्राप्त हुआ हो : 37 %

परफॉरमेंस बोनस : 35 %

बीमार रहे दिनों के वेतन का भुगतान : 32 %

सेवानिवृत्ति या पेंशन : 31 %

लचीली सारिणी (घर से कार्य करना ): 30 %

ऑफिस की सुविधाएं ( मुफ्त खाना, कैसुअल पहनावा ):19 %

कर्मचारी विकास कार्यक्रम ( नौकरी पर प्रशिक्षण, व्यावसायिक विकास) :19 %

2) टेलेवर्किंग/घर से कार्य का विकल्प : आज के ज़माने में ,आपको काम करने के लिए ऑफिस में शारीरिक रूप से उपस्थित होना ज़रूरी नहीं है | घर से काम करना या टेलेवर्किंग आपको स्वतंत्रता और लचीलापन दोनों प्रदान करता है| बेशक, यह एक आदर्श पूर्णकालिक कामकाजी समाधान नहीं है |हालांकि, अंशकालिक नौकरी से भी आपका काम हो सकता है | एक आरामदेह समय सारिणी के साथ-साथ आप अपने यात्रा के खर्च को भी बचा सकते हैं , और अपने परिवार के साथ और समय बिता सकते हैं जो आपके लिए एक वरदान स्वरुप है |

3) व्यावसायिक विकास: कई लोग इस बारे में विचार नहीं करते हैं परन्तु यह आपके करियर के लिए महत्वपूर्ण है |

सर्टीफिकेशन्स, कक्षाएं, कॉन्फरेन्सेस इत्यादि व्यावसायिक विकास के प्रकार हैं | हालांकि, आपके नियोक्ता को इसके लिए थोड़े और पैसे निकालने होंगे,पर आगे जाकर यह आपके लिए काफी फायदेमंद रहेगा |यह सुविधा आपके नए विकास कार्य को उजागर करती है और आपको अतिरिक्त अनुभव देती हैं जो आपके बायोडाटा को बिना कुछ खर्च किये मज़बूती देगी |एक बोनस यह जुड़ जाएगा की आपके नियोक्ता को भी आपके हुनर और सर्टिफिकेट्स का बराबर लाभ मिलेगा |

4) परिवहन खर्च की प्रतिपूर्ति : संचार सस्ता नहीं है | साथ ही, यदि आप शहर से बाहर यात्रा कर रहे हैं और परिवहन के दूसरे साधनो का उपयोग कर रहे हैं तो आपका कुल खर्च छप्पर फाड़ कर होगा| इस खर्च को कम करने के लिए,आपको अपने मासिक यात्रा के खर्चो का हिसाब लगाना चाहिए और अतिरिक्त वेतन की मांग करनी चाहिए|

कुछ कंपनियां छुटियों के यात्रा भत्ता देते हैं |जो कर्मचारी अपने छुटियों के वक़्त, निजी यात्रा खर्चों के लिए प्रतिपूर्ति करवा लेते है | यह राशि जो यात्रा भत्ता के रूप में चुकाया जाता है उसमे कर की छूट होती है |

हालांकि, यह सुविधा केवल देश में ही यात्रा के लिए उपयुक्त है और वास्तविक यात्रा खर्चे के लिए (हवाई यात्रा, ट्रैन टिकट इत्यादि और खाने,रहने या पर्यटन स्थलों पर भ्रमण के लिए) नहीं| 

भारतीय कम्पनिया जो अपनी सुविधाओं के लिए प्रसिद्द हैं :

गूगल इंडिया : लचीली कार्यसारिणी,आउटडोर और इंडोर खेल, मसाज पार्लर, पूरी तरह से सुव्यवस्थित जिम, और निद्रा के लिए कमरे |
आर एम एस आई : अभिभावकों और रिश्तो की काउंसलिंग, बाल मनोविज्ञान, और आत्म सुरक्षा , कार्यशालाएं, फोटोग्राफी क्लब, संगीत और नृत्य कक्षाएं, खेल टूर्नामेंट और महिलाओं के सेहत के लिए कार्यक्रम 
मेर्रियट होटल : स्टाफ डिस्काउंट, स्वस्थ्य लाभ, और सामाजिक अनुबंध 
अमेरिकन एक्सप्रेस : स्मार्ट बचत कार्यक्रम, स्वास्थ लाभ, और गर्भवती महिलाओं के लिए अन्य लाभ 
सैप लैब्स इंडिया : मातृत्व अवकाश 26 हफ़्तों के लिए ,गोद लेने के लिए सवेतन अवकाश

5) अतिरिक्त अवकाश का समय : आपकी कंपनी आपको हर साल 7  से 10  दिन का सवेतन अवकाश देती होगी | कुछ और दिनों की छुट्टी लेकर आप आराम करके अपने मस्तिष्कको शांत कर सकते हैं और अपने हौसलों को बुलंद कर सकते हैं | आखिरकार,किसे अपने लिए समय निकालना अच्छा  नहीं लगता | 


6) परफॉरमेंस बोनस : साल के अंत में अपने परफॉरमेंस के लिए बोनस पाना प्रेरणा स्वरुप होता है | आपके परफॉरमेंस अनुसार और आपके कंपनी के संपूर्ण परफॉरमेंस को देखकर, आपको बोनस प्राप्त हो सकता है | एक उच्च वेतन हम सभी चाहते हैं | परन्तु इस प्रकार की सुविधाएं आपको लम्बा काम करने के लिए मदद कर सकती है, ज़्यदा उत्पादक बना सकती हैं और प्रभावी परिणाम दिलवा सकती हैं |


7) हेल्थ इन्शुरन्स : एक और प्रेरक बिंदु कर्मचारियों के लिए कंपनी द्वारा करवाया गया हेल्थ इन्शुरन्स कवरेज है | कंपनी अनुसार, आप व्यक्तिगत या सामूहिक हेल्थ इन्शुरन्स ,अपनी और अपने परिवार के लिए पा सकते हैं| नियमित सेहत की जांच ,अस्पताल के खर्च, चिकित्सा खर्च आदि का भी ख्याल कई बार कंपनी रखती है |ये सुविधाएं लोगो को यह सुनिश्चित कराती है की आपके नियोक्ता आपका ध्यान रखते है और आपके हित का ख्याल रखते है |

इन सब के अलावा, एक कर्मचारी अपने संस्था से कई और लाभ भी पा सकता है जैसे की शुक्रवार के दिन बच्चो का ध्यान रखने के लिए समय मिलना, आदि | हालांकि ये सब मौद्रिक सुविधाएं नहीं हैं ,परन्तु यह गुणवत्ता लाती है और आपके जीवन को आसान करती है और थोड़ा अधिक सुविधाजनक बनाती है|

संबंधित लेख

 

Most Shared