टैक्स रिफंड का बेहतर इस्तेमाल करने के 8 स्मार्ट तरीके

टैक्स रिफंड आने वाला है? कुछ समय निकाल कर इस लेख को पढ़ें और रिफंड के पैसे को समझदारी से इस्तेमाल करें।

टैक्स रिफंड का बेहतर इस्तेमाल करने के 8 स्मार्ट तरीके

आप किसी सुबह अपना मेलबॉक्स खोलते हैं और आपको आयकर विभाग का ईमेल मिलता है कि आपका टैक्स रिफंड आ चुका है। आप मन ही मन धन्यवाद देते हैं! और सोचते हैं कि रिफंड वापस आने के लिए इससे बेहतर दिन नहीं हो सकता था। अभी कल ही आपने एक ड्रेस देखी थी जिसे आप खरीदना चाहते थे और दोस्तों के साथ छुट्टियों पर जाने का प्लान भी काफी समय से रूका पड़ा है….

लेकिन थोड़ा ठहरें। इससे पहले की आप पार्टी मनाना शुरू करें जैसे कि आपकी कोई लॉटरी लगी हो, यह ध्यान रखें कि यह आपकी मेहनत का ही पैसा है जो सरकार आपको वापस कर रही है। इसे ऐसे ही ना उड़ाएं। क्यों नहीं इस पैसे का अच्छा इस्तेमाल किया जाए और इसे कुछ काम में लिया जाए? 

खरीदारी करना, घूमने जाना और खुद को खुश रखना भी ज़रूरी है लेकिन अपने भविष्य के लिए पैसा बचाना भी उतना ही ज़रूरी है। अगर आप पर कोई कर्ज़ है तो उसे चुकाना भी ज़रूरी है। टैक्स रिफंड के पैसे से आपको अपनी बचत का लक्ष्य पूरा करने या कर्ज़ को कम करने में सहायता मिल सकती है।

यहां हम कुछ बातें बताने जा रहे हैं कि आप कैसे अपने रिफंड का समझदारी से इस्तेमाल करने के साथ कुछ मस्ती भी कर सकते हैं!

1) आकस्मिक खर्च के लिए पैसा बचाएं

कोई आकस्मिक घटना पहले से बता कर नहीं आती। पता नहीं कब आपको बड़ी राशि की ज़रूरत पड़ जाए। बचत करना शुरू करें और हमेशा 4-6 महीने के ज़रूरी खर्च के बराबर पैसा आकस्मिक खर्च के लिए बचा कर रखें। चाहे कुछ भी हो जब तक कोई आपात स्थिति ना हो इस पैसे को ना छुएं।

2) भविष्य के लिए निवेश करें

म्युचुअल फंड या किसी दूसरे निवेश के साधन में पैसा लगाएं जिससे 5-10 वर्ष के बाद आपको अच्छा रिटर्न मिल सके। निवेश का ऐसा साधन चुनें जिसमें कोई लॉक-इन पीरियड हो जिसके कारण आप उसे चाह कर भी समय से पहले इस्तेमाल ना कर पाएं। लॉक-इन पीरियड खत्म होने पर इस पैसे को फिर से किसी बेहतर निवेश के साधन में निवेश कर दें। 

3) अपना कर्ज़ घटाएं या खत्म करें 

क्या आप पर कोई कर्ज़ है? अगर समय से पहले कर्ज़ चुकाने पर कोई अतिरिक्त शुल्क नहीं लग रहा हो तो रिफंड से मिले पैसों से इसे चुका दें। इससे आपका कर्ज़ कम करने में सहायता मिलेगी। आप जितना जल्दी अपना कर्ज़ उतार पाएंगें, उतना जल्दी आप उस पैसे का इस्तेमाल बचत, निवेश या अपने शौक को पूरा करने के लिए कर पाएंगें। 

4) अपने कौशल को बेहतर बनाएं

अगर जुनून की बात करें तो क्या आपको कभी लगता है कि आप कोई नया कौशल सीखना चाहते हैं या फिर से कॉलेज जाना चाहते हैं? क्या इससे आपको कैरियर बेहतर बनाने, अच्छी नौकरी पाने या बेहतर तनख्वाह पाने में कोई मदद मिलेगी? अगर ऐसा है तो इसे ज़रूर करें। हालांकि अब आप इतने बड़े हो चुके हैं कि आपको अपनी पढ़ाई के लिए अपने माता-पिता से मदद नहीं मांगनी चाहिए। अपने आयकर रिफंड को खुद को बेहतर बनाने के लिए इस्तेमाल करें।

5) खुद पर खर्च करें

बड़े होने और ज़िम्मेदारी निभाने में कई बार हम खुद को खुश करना भूल जाते हैं । इस लेख का मकसद आपको जिंदगी के मजे लेने से रोकना नहीं है बल्कि आपके लिए सही संतुलन तलाशना है। अगर आप हमेशा से सही काम करते रहे हैं तो शायद अब समय आ गया है कि आप थोड़ा मजा करें।उन कपड़ों को खरीदें जिन्हें आप लंबे समय से लेना चाहते थे। किसी स्पा या सलून में जाएं। जो दिल चाहता है करें। कभी-कभी मजे करना भी अच्छा होता है खासतौर से तब जब आपको नियमित रूप से ऐसा करने की आदत ना हो।

6) रिफंड राशि को बांट कर इस्तेमाल करें

हम आपको मजे करने की सलाह ज़रूर दे रहे हैं लेकिन ऐसा करने से पहले उस राशि का एक हिस्सा बचत या निवेश में ज़रूर लगाएं। पहले से ही तय करें कि बचत और खर्च में क्या अनुपात होगा जैसे- 50:50, 40:60, या 30:70- और रिफंड मिलने पर इसी अनुपात के हिसाब से काम करें।

7) दान दें

महीने का बजट चलाने के चक्कर में आप चाह कर भी अपनी पसंदीदा जगह पैसा दान नहीं दे पाते हैं। आप कितना भी कोशिश करें लेकिन दान देने का निर्णय हमेशा टलता ही रहता है। लेकिन आपका टैक्स रिफंड इसमें मदद कर सकता है। आप रिफंड का कुछ हिस्सा किसी चैरिटेबल संस्था को दान दे सकते हैं। इससे ना केवल आपको किसी की मदद करने की खुशी हासिल होगी बल्कि किसी रजिस्टर्ड चैरिटेबल संस्था को पैसे दान करने पर आपको आयकर में छूट भी मिलेगी। 

8) अपने व्यापार में निवेश करें

क्या आप अपने व्यापार को आगे ले जाना चाहते हैं? या हो सकता है कि आपके पास व्यापार शुरू करने का कोई विचार हो और आपको उसके लिए पैसे की ज़रूरत हो। आप टैक्स रिफंड को इस काम में ले सकते हैं। अपने आयकर रिफंड को आय में बदलें और अगले वित्तीय वर्ष में स्मॉल बिजनेस टैक्स डिडक्शन का फायदा उठाएं।

निष्कर्ष 

चाहे रिफंड में बहुत बड़ी राशि मिलने वाली हो या बहुत कम, आपको इसे बहुत समझदारी से इस्तेमाल करना है। आप इससे अपनी वित्तीय स्थिति को बेहतर बना सकते हैं।तो क्या आप ऐसा ही कुछ करेंगे? 

संबंधित लेख

Most Shared