आपकी बकेट लिस्ट को पुनः देखे : अब अपडेट करने का समय क्यों हैं ?

बकेट लिस्ट का होना आपके जीवन में मौज-मस्ती, रोमांच और आनंद भरने की योजना के समान है - और हर किसी के लिए यह महत्वपूर्ण है कि वह यथार्थवादी हो।

आपकी बकेट लिस्ट को पुनः देखे : अब अपडेट करने का समय क्यों हैं ?

किसी व्यक्ति को जानने का सबसे अच्छा तरीका यह है कि उनसे पूछा जाए कि उनकी बकेट लिस्ट में क्या है। चूंकि यह बेहद व्यक्तिगत सपनों और लक्ष्यों की सूची है - यात्रा, वित्तीय, स्वास्थ्य, आध्यात्मिक विकास और भी बहुत कुछ से संबंधित - यह बताता है कि वे वास्तव में जीवन से क्या चाहते हैं।

किसी को जानने के लिए अगला सबसे अच्छा तरीका है कि आप उनसे पूछें कि उस सूची की कितनी चीजें वे पूरा करने में कामयाब रहे हैं। संभावना है कि जब वे बहुत छोटे थे तब उन्होंने अपनी बकेट लिस्ट बनाई होगी; शायद बच्चों या किशोर के रूप में। तो, सूची में बहुत से अवास्तविक लक्ष्य हो सकते हैं जिनकी कोई समय सीमा या क्रिया योजना नहीं होगी ।

उदाहरण के लिए, दुनिया के हर एक देश में यात्रा करना बकेट लिस्ट में बहुत लोकप्रिय प्रविष्टि है, लेकिन यहां तक ​​कि सबसे व्यापक रूप से यात्रा करने वाले लोग भी अपने जीवनकाल में 10% से अधिक यात्रा नहीं कर पाते हैं। इसका मतलब, वे लगभग केवल 20 देशों का दौरा ही कर पाते हैं।

आपका क्या? अपनी बकेट लिस्ट के बारे में सोचने के लिए एक मिनट निकालें। क्या उसमें लिखी गई हर चीज आपको याद भी है? या शायद आपने कभी भी एक भी सूचि नहीं बनाई। किसी भी तरह, एक वयस्क के रूप में, जिसे अब दुनिया (और अपने आप) की बेहतर समझ होगी, अपनी बकेट लिस्ट को फिर से देखने का समय है!

1. विचार करें कि आप कहां खड़े हैं

इससे पहले कि आप अपनी पुरानी बकेट लिस्ट निकालें, इस बारे में सोचें कि आप वर्तमान में जीवन में कहां खड़े हैं। क्या आपका जीवन आपकी योजनाओं के अनुसार चल रहा है? या क्या इसने आपकी अपेक्षाओं के परे पूरी तरह से अलग दिशा ले ली है? अभी आप सबसे अधिक महत्व किसको देते हैं? अभी आप किन लक्ष्यों को पूरा करने की कोशिश कर रहे हैं?

सबसे महत्वपूर्ण बात, आपको यह तय करना होगा कि आप अपनी बकेट लिस्ट में क्या चाहते हैं - क्या इसमें जीवन के लक्ष्य होंगे जैसे घर खरीदना और व्यवसाय शुरू करना, या मस्ती भरी चीजें जैसे स्काइडाइविंग और बढ़िया वाइन इकट्ठा करना? बेशक, आपके पास दोनों हो सकते हैं, लेकिन यदि आप एक विषय चुनते हैं, तो नेविगेट करना आसान होगा।

यह सलाह दी जाती है कि सभी मज़ेदार चीज़ों के लिए एक बकेट लिस्ट बनाएं जो आपका दिल चाहता है, क्योंकि आप पहले से ही अपने जीवन के पड़ावों के लिए काम कर रहे होंगे।

2. मस्ती के अपने योजनाएं बनाएं

ये असामान्य नहीं है कि आप दोस्तों को देखकर या सोशल मीडिया पर किसी को देखकर बकेट लिस्ट बनाने के लिए प्रेरित हो। रोमांचक खेल और यात्रा बकेट लिस्ट पर सबसे आम चीज़ें हैं, लेकिन आपको आम से हटकर सोचना चाहिए। इस बात को भूल जाइए कि अन्य लोगों के लिए मज़े के मायने क्या है या उनके विचारों में रोमांच और जीवनकाल में एक बार अनुभव करने लायक चीज़ें क्या हैं। चूंकि प्रत्येक व्यक्ति का जीवन अलग है, इसलिए उनके लिए जो महत्वपूर्ण होगा, वह भी अलग होगा।

अपनी बकेट लिस्ट को दूसरों के साथ साझा करने के बारे में भूल जाओ। इसे कुछ ऐसा समझें, जिसे सिर्फ आप देखेंगे। यह आपको 'निरपेक्ष' होने के दबाव से दूर ले जाता है। अपने लिए तय करें कि आपके लिए मज़ा क्या है और इसके बारे में पूरी तरह से ईमानदार रहें।

3. अपने नए सपनों को सूचीबद्ध करें

अगला, एक नई बकेट लिस्ट बनाएं और अपने वर्तमान सपनों को सूचीबद्ध करें। आप पुराने कलम-कागज़ के तरीके से ऐसा कर सकते हैं, या मोबाइल ऐप पर एक सूची बना सकते हैं, या खुद को एक ई-मेल भेज सकते हैं। बस यह सुनिश्चित करें कि जहां भी आप सूची को सहेजते हैं, अगले कुछ दशकों में वह आपको आसानी से उपलब्ध हो।

आपकी अपडेट की गई बकेट लिस्ट में केवल उन चीजों को सूचीबद्ध करें जिन्हें आप ज़रूर करना चाहते हैं। इसलिए, यदि आप यात्रा करना चाहते हैं, तो आपको दुनिया के सभी देशों की यात्रा करने की आवश्यकता नहीं है। आप शुरू करने के लिए अपने शीर्ष 5 को सूचीबद्ध कर सकते हैं। एक बार जब आप अपनी सूची बना लेते हैं, तो अपने पुराने सूची में देखें कि क्या वहां पर ऐसा कुछ है जो अभी भी ज़रूरी है। यदि हैं, तो उन्हें अपनी नई सूची में जोड़ें।

4. प्रत्येक चीज़ पर एक समय-सीमा रखो

यह एक महत्वपूर्ण कदम है। यदि आपको समय-सीमा नहीं लगाना है, तो सूची में आदर्श चीजों को रखना आसान होगा । उदाहरण के लिए, माउंट एवरेस्ट पर चढ़ना एक ऐसी चीज है जिसके लिए गहन प्रशिक्षण की आवश्यकता होती है, और आपको अच्छे स्थिति और स्वास्थ्य में होना होता है, इसलिए इसे आदर्श रूप से युवावस्था में प्रयास करना चाहिए ।

समय-सीमा पर निर्णय लेते समय, इसे दो पहलुओं से देखें: आप इसे कब करना चाहते हैं और कब तक आप इसे करने में सक्षम होंगे। इच्छा और क्षमता हमेशा मेल नहीं खाते; यदि ऐसा है, तो आपको इसे व्यावहारिक तरीके से देखना होगा। कुछ लक्ष्यों को एक वर्ष या उससे कम समय लग सकता है, जबकि अन्य को एक या अधिक दशक भी लग सकते हैं।

5. वित्तीय खर्च का मूल्यांकन करें

एक सर्वेक्षण के अनुसार, 57% लोगों ने कहा कि पैसे की कमी ही है जो उन्हें अपनी बकेट लिस्ट में काम करने से रोकता है। यह बहुत निराशाजनक हो सकता है, इसलिए अपनी बकेट लिस्ट की चीजों को पूरा करने से जुड़े खर्चों पर विचार करना महत्वपूर्ण है। चीजों को सूचीबद्ध करते समय ऐसा न करें - चूंकि आप नहीं चाहेंगे कि वित्त की कमी आपको सपने देखने से रोके - इसलिए ऐसा तब करें जब आप सूची बनाना समाप्त कर लें।

सबसे पहले, सूची पर कुछ करने की लागत का मूल्यांकन करें, जैसे कि एक महीने के लिए जापान की यात्रा करने की । यह लोजिस्टिक्स के आधार पर निर्भर करता है, जो 2.5 लाख रुपये और 3 लाख रुपये के बीच का खर्च हो सकता है। एक बार जब आपके पास कोई आंकड़ा हो, तो उस पर लगाए जाने वाले समय-सीमा पर विचार करें। अगर यह तीन साल है, तो आपको पता है कि आपके पास कितना समय है। फिर आप इस रोमांचक यात्रा के लिए वित्तीय योजना बना सकते हैं।

एक बार जब आप ये सब कर लेते हैं, तो आपने सफलतापूर्वक एक नई, अपडेट की गई और कार्रवाई करने योग्य बकेट लिस्ट बना ली होगी। यह याद रखना महत्वपूर्ण है कि जब आप अपनी सूची में सभी चीज़ों को पूरा करने की कोशिश कर रहे हो तो कुछ बाधाओं का सामना करना पड़ सकता है; चीजें हमेशा नियोजित नहीं हो सकती हैं। पर ठीक है; जब तक आपका दिल वास्तव में कुछ चाहता है, तो आप रास्ता निकाल ही लेंगे !

 

COVID-19

Most Shared