आर्थिक रूप से अपने पहले घर के लिए कैसे योजना बनाएं

एक सही घर ढूंढना महिलाओं के लिए कोई बड़ी चुनौती नहीं है, लेकिन इसकी योजना बनाना और अपने वित्त का प्रबंधन करना,यक़ीनन है|

आर्थिक रूप से अपने पहले घर के लिए कैसे योजना बनाएं

विश्व स्तर पर, महिलाओं का परिवर्तन लाना जारी है, जिससे वे साबित करती है कि लैंगिक समानता के लिए कोई विशेष स्थान बनाने की जरूरत नहीं है । खेल का मैदान अब एक हद तक समतल किया गया है, और महिलाएं तेजी से अपने पैर जमा रही हैं क्योंकि वे अब निर्णय लेती हैं और ऐसे काम करती हैं जो पहले आम नहीं थे ।

यदि आप एक औरत हैं, तो आपका खुद से एक घर लेना निश्चित रूप से सबसे बड़ा पड़ाव के रूप में गिना जाता है । एक किराए की जगह का आराम और एक खुद के अपने घर होने की सुरक्षा कभी मेल नहीं कर सकते । एक व्यक्तिगत स्थान आपकी सफलता को पूरा और पूरक करता है। विकल्पों की बाढ़ को देखते हुए, चुनौती सही घर खोजने में नहीं है, परन्तु अपने सपनों का घर पाने के लिए अपने वित्त का इंतज़ाम करने में है ।

यहां एक त्वरित नज़र डालें कुछ कदमों पर अगर आप अपने पहले घर खरीदने की योजना बना रहे हैं ।

अपने नए घर के आदर्श मूल्य निर्धारित करें

अनिर्णय और गलत फैसलों का मुख्य कारण यही है। सच कहा जाए तो ऐसा कोई निश्चित आंकड़ा नहीं है जिसे घर खरीदने के लिए आदर्श मूल्य माना जा सकता है। एकमात्र निर्धारक कारक,अग्रिम भुगतान करने और ऋण अवधि के दौरान ईएमआई का भुगतान करने की आपकी क्षमता है। इसलिए, आपको एक उपयुक्त आंकड़े पर पहुंचने के लिए उलटी दिशा में काम करने की आवश्यकता होगी।

आप कितनी ईएमआई राशि वहन कर सकते हैं?

आपके सभी ईएमआई का कुल मूल्य, आपकी आय के 50% से अधिक नहीं होना चाहिए, जिसमें होम लोन ईएमआई घटक आपकी कुल आय का अधिकतम 40% पर सीमित होनी चाहिए।

एक उपयुक्त ऋण अवधि क्या है?

अगला विचार, आपकी उम्र और नियोजित कमाई की क्षमता होनी चाहिए। उदाहरण के लिए, यदि आपकी उम्र 30 के आसपास हैं, तो आपको 30 साल के ऋण कार्यकाल को नहीं चुनना चाहिए। एक अधिक प्रैक्टिकल विकल्प होगा कि आप अपनी सेवानिवृत्ति की आयु से कुछ साल पहले अपने ईएमआई के अंतिम किश्त का भुगतान कर दें। इससे 20 से 25 वर्ष का कार्यकाल अधिक उपयुक्त होगा।

घर के आदर्श मूल्य की गणना कैसे करें?

  • मान लेते हैं आपकी मासिक आय 80,000 रुपये है
  • 80,000 रुपये का 40% = मासिक ईएमआई के लिए 32,000 रुपये
  • 20 साल का कार्यकाल = 32,000 x 12 x 20 = 76,80,000 रुपये

डाउन पेमेंट का हिसाब लगाएं

अब जब आपके पास हिसाब लगाने के लिए एक आंकड़ा है, तो अब अग्रिम भुगतान की गणना करने का समय है। आमतौर पर, होम लोन ,घर के मूल्य के 80% राशि तक सीमित होता है। इसका मतलब है कि आपको 20% राशि की अग्रिम भुगतान करने की आवश्यकता है। उपरोक्त ईएमआई और लोन अवधि के लिए मानक होम लोन ब्याज दरों के साथ थोड़ा विपरीत दिशा में हिसाब लगाने से पता चलता है कि ऋण राशि 35 लाख और डाउन पेमेंट 9 लाख होगी। प्रभावी रूप से, आपको डाउन पेमेंट के लिए लगभग 9 लाख रुपये जुटाने की आवश्यकता होगी। यह कुछ घर खरीदारों के लिए एक चुनौती हो सकती है।

यदि आप डाउन पेमेंट की व्यवस्था करने के तरीकों की तलाश कर रहे हैं, तो कई विकल्प उपलब्ध हैं। आइए एक नजर डालते हैं कुछ विकल्पों पर।

  • 15% डाउन पेमेंट के साथ होम लोन चुनें: कुछ कर्जदाता 15% डाउन पेमेंट के साथ लोन प्रदान करते हैं। इससे डाउन पेमेंट राशि में काफी कमी आएगी। दूसरे शब्दों में कहें तो ,आपको 9 लाख रुपये की जगह केवल 6 लाख रुपये ही जुटाने होंगे।
  • ईपीएफ बचत राशि निकाल लें: पांच साल या उससे अधिक समय तक ईपीएफ में योगदान वाले वेतनभोगी कर्मचारी अपने पीएफ कोष की 90% राशि तक निकाल सकते हैं।
  • गोल्ड/एचडीपी लोन लें: आप सोने के एवज में सुरक्षित ऋण ले सकते हैं, या एनबीएफसी द्वारा बढ़ाया गया होम लोन डाउन पेमेंट लोन ले सकते हैं । (याद रखें, यह ऋण चुकौती और अन्य सभी ऋण चुकौती आपकी कुल आय के 50% से अधिक नहीं होनी चाहिए)। यदि यह सब राशि मिलकर आपकी आय के 50% राशि से अधिक पुनर्भुगतान देनदारियों का हिसाब बैठा रही है, तो आपको खरीदे जाने वाले घर के कुल मूल्य को कम करके होम लोन ईएमआई को कम करने पर विचार करना चाहिए।
  • कुछ और वर्षों के लिए बचत करें : यदि उपरोक्त विकल्पों में से कोई भी आपके लिए ठीक नहीं बैठ रहा और आपको अभी भी फंड की कमी लग रही है, तो इसका सबसे अच्छा उपाय, बचत करना शुरू करना है। कुछ साल बाद अपने घर खरीदने की योजना बनाएं और लगन से बचत करना शुरू कर दें । एक व्यवस्थित निवेश योजना (एसआईपी) में प्रति माह 10,000 रुपये अलग करके, आप उम्मीद कर सकते हैं कि आपके कोष में 4-5 वर्षों में लगभग 7 लाख रुपये तक बचत हो सकती है (निवेश और उसके अच्छे प्रदर्शन के आधार पर)।

सही होम लोन चुनें

ऐसे होम लोन का विकल्प चुनें जो आपको कुछ हद तक लचीलापन देता है। विभिन्न पात्रता मानदंड हैं जिन्हें आपको पूरा करने की आवश्यकता है। उदाहरण के लिए, आप न्यूनतम 2 वर्षों के लिए रोजगार में रहे होंगे, और आपका 750 या उससे अधिक का क्रेडिट स्कोर होगा। अधिकांश होम लोन में अलग-अलग प्रोसेसिंग फीस के साथ 8% से ऊपर ब्याज दरें होती हैं। ऊपर सभी ईएमआई गणना पुनर्भुगतान के नज़रिये से देखि जा रही है । इसका मतलब यह है कि आपको प्राप्त वास्तविक ऋण राशि ,20 वर्षों के अंत में आपके द्वारा चुकाई गई कूल राशि से कम होगी।

वास्तव में, आपको आदर्श होम लोन चुनने से पहले अपनी पुनर्भुगतान योजना तैयार करने, बचत करने या अपने डाउन पेमेंट के लिए एक कोष बनाने की आवश्यकता है। वर्तमान में उपलब्ध विकल्पों की संख्या को देखते हुए, अपने बजट के भीतर आपको अपने सपनों का घर ढूंढ़ने में कोई समस्या नहीं होगी।




संबंधित लेख