Best Broker for Intraday Trading in 2022: इंट्राडे ट्रेडिंग के लिए श्रेष्ठ ब्रोकर

भारत में इंट्राडे ट्रेडिंग, कारोबार का बेहद लोकप्रिय तरीका है लेकिन इसके लिए सर्वश्रेष्ठ ब्रोकर ढूँढना एक चुनौती है।

इंट्राडे ट्रेडिंग के लिए श्रेष्ठ ब्रोकर

Best broker for Intraday trading in India: शेयर बाजार में कारोबार करने का एक बेहद लोकप्रिय तरीका है इंट्राडे ट्रेडिंग। मगर इसके लिए सबसे अच्छा ब्रोकर ढूंढना बेहद चुनौतीपूर्ण है। ब्रोकर फर्म ढूंढने के लिए मौजूदा ब्रोकर में से शीर्ष स्टॉकब्रोकरों के इंट्राडे ब्रोकरेज और एक्सपोजर मार्जिन की तुलना की जानी चाहिए। 

इंट्राडे ट्रेनिंग का अर्थ है कि एक ही कारोबारी दिन के भीतर शेयर की खरीद और बिक्री। इंट्राडे के लिए समय बाजार के खुलने के साथ शुरू होता है और बाजार बंद होने से पहले ही खरीद या बिक्री के अवसर भी बंद हो जाते हैं। 

यदि ग्राहक कारोबार के बंद होने तक अपनी ट्रेडिंग पोज़ीशन (खरीद और बिक्री) पूरी नहीं करता है (उस स्टॉक की समान संख्या में रिवर्स स्टील या खरीद) तो ब्रोकर पोजिशन को बंद करने के लिए बाध्य होता है। इंट्राडे ट्रेडिंग लगभग सभी सेक्टर यानी इक्विटी, इक्विटी एफएंडओ (F&O), करंसी एफएंडओ, कमोडिटी एफएंडओ आदि में होती है। जब कारोबारी, दिन के समय में ही कारोबार करता है तो उसे डे ट्रेडर कहा जाता है। 

यह भी पढ़ें: 2022 में निवेश करने के लिए उच्च डिविडेंड वाले स्टॉक

इंट्राडे के लिए सर्वश्रेष्ठ ऑनलाइन ब्रोकर

आमतौर पर सभी स्टॉकब्रोकर दिन में कारोबार का प्रस्ताव देते हैं लेकिन इस कारोबार को फायदेमंद बनाने के लिए ब्रोकर में निम्नलिखित गुण अवश्य होने चाहिए:- 

  • न्यूनतम ब्रोकरेज (बिना न्यूनतम ब्रोकरेज के फ्लैट रेट ब्रोकरेज को प्रधानता)
  • उच्च इंट्राडे मार्जिन (एक्सपोज़र)
  • मुफ्त में ट्रेनिंग प्लेटफार्म (खास कर डेस्क टॉप ट्रेनिंग टर्मिनल )
  • अनुसंधान रिपोर्ट 
  • उत्कृष्ट ग्राहक सेवा

नीचे दी गई सूची में इंट्राडे कारोबार के लिए श्रेष्ठ ब्रोकरों के नाम शामिल है। 

इंट्राडे कारोबार के लिए श्रेष्ठ ब्रोकरों के नाम

एक अच्छे इंट्राडे अनुभव के लिए निम्नलिखित बातों पर ग्राहक ध्यान दें

  • इंट्राडे टिप्स के सर्वश्रेष्ठ ब्रोकर 
  • इंट्राडे मार्जिन के लिए सर्वश्रेष्ठ ब्रोकर 
  • इंट्राडे के लिए सर्वश्रेष्ठ ब्रोकर प्लेटफार्म 
  • इंट्राडे कारोबार के लिए उचित ब्रोकरेज शुल्क 
  • इंट्राडे कारोबार के लाभ और हानि 

इंट्राडे कारोबार के लाभ

  • छोटे निवेश से बड़ा मुनाफा प्राप्त करने के अवसर। 
  • ब्रोकर द्वारा दिन के कारोबार के लिए अधिक मार्जिन देना। 
  • कारोबारी को ट्रेनिंग के बाद बाजार की चिंता नहीं, एक ही दिन में कारोबार पूरा। 
  • यदि ग्राहक कारोबार स्क्वेर-ऑफ करना भूल जाए तो ब्रोकर आवश्यक रूप से स्क्वेर-ऑफ करता है। 
  • जोखिम कम करने के लिए अग्रिम ऑर्डर जैसे ब्रैकेट ऑर्डर या कवर ऑर्डर का प्रयोग किया जा सकता है। 
  • डिस्काउंट स्टॉकब्रोकर के कारण एक ही दिन में की जाने वाली ट्रेनिंग बहुत फायदेमंद है। 

इंट्राडे कारोबार के नुकसान 

  • कारोबार का यह तरीका बहुत जोखिम भरा है। इसमें बहुत अधिक नुकसान का डर होता है।
  • ब्रोकर के साथ सहमति होने पर स्वचालित तरीके से कारोबार स्क्वेर-ऑफ किया जाता है। कारोबार दूसरे दिन के लिए आगे नहीं बढ़ाया जा सकता। 
  • एक ही दिन का कारोबार एक पूर्णकालिक काम है। इसके लिए बाजार की अच्छी समझ और विश्लेषण क्षमता चाहिए। 
  • कारोबार का यह तरीका शेयर बाजार में शुरुआत करने वाले निवेशक के लिए नहीं है।

यह भी पढ़ें: 700% से अधिक रिटर्न वाले स्टॉक्स

Intraday Trading Ke Liye Best Broker

संवादपत्र

संबंधित लेख