भारत में ज़्यादा पैसे किस तरह से भेज सकते हैं?

हम आपको चार बेहतरीन विकल्पों के बारे में बता रहे हैं जिनका इस्तेमाल करके आप अमेरिका से भारत में ज़्यादा पैसे भेज सकते हैं.

भारत में ज़्यादा पैसे किस तरह से भेज सकते हैं?

किसी दूसरे देश में पैसा भेजना उतना आसान नहीं है जितना एक करेंसी से दूसरी करेंसी में बदलना. इसमें फ़ीस और ट्रांसफ़र शामिल हैं, इसलिए सही सर्विस प्रोवाइडर चुनने में दिमाग लगाना पड़ सकता है. 

पैसे ट्रांसफ़र करने के लिए लगने वाली कई तरह की फ़ीस

पैसे ट्रांसफ़र करने के पुराने तरीकों में बैंकों और स्पेशलाइज्ड करेंसी एक्सचेंज बिज़नेस के द्वारा पैसे भेजे जाते हैं, लेकिन आप पाएंगे कि नीचे सूची में दिए गए कुछ विकल्पों को चुनना पुराने तरीकों की तुलना में ज़्यादा बेहतर है. पहला तरीका:- आप पर लगने वाला शुल्क एक फिक्स्ड फ़ीस के तौर पर लिया जा सकता है, इससे कोई फ़र्क नहीं पड़ता कि आपने कितना पैसा ट्रांसफ़र किया है. कम पैसे भेजने के लिए फिक्स्ड फ़ीस देने का कोई फ़ायदा तो है नहीं, इसलिए ट्रांसेक्शन करने से पहले हमेशा एक बार देख ज़रूर लें. 

दूसरा तरीका:- इसे परसेंटेज फ़ीस के तौर पर भी लिया जा सकता है, जो तब ज़्यादा काम आता है जब आप कम पैसा भेज रहे हों. ज़्यादातर मामलों में, परसेंटेज फ़ीस ट्रांसफ़र होने वाली राशि का लगभग 0.75% से लेकर 3% तक होती है, लेकिन ज़्यादा स्पीड से ट्रांसफ़र करने पर ये 5% तक भी जा सकता है. 

तीसरा तरीका:- एक तीसरे प्रकार का शुल्क भी है - एक्सचेंज रेट का अंतर, जो दिन के लिए वास्तविक एक्सचेंज रेट और ट्रांसफ़र सर्विस आपको वास्तव में कितना एक्सचेंज रेट ऑफर करती है इन दोनों के बीच अंतर है. उदाहरण के लिए, अगर एक्सचेंज रेट 1 डॉलर के लिए एक्सचेंज रेट 65 रुपये है, तो आपको फीस निकालकर, 64 रूपये का एक्सचेंज रेट मिल सकता है.

इससे जुड़ी जानकारी: विदेश घूमने जा रहे हैं तो इन फॉरेन करेंसी के विकल्पों को ज़रूर जानें

मनी ट्रांसफर सर्विस प्रोवाइडर

अगर आप विदेशों से (उदाहरण के लिए, अमेरिका) से भारत में कोई बड़ा अमाउंट भेजना चाहते हैं तो इसके कई विकल्प उपलब्ध हैं. हम इसे समझने के लिए डॉलर का उदाहरण ले रहे हैं. आइए देखें कि मनी ट्रांसफर के कुछ विकल्प कौन से हैं:

ट्रांसफ़रवाइज़

सभी सर्विस प्रोवाइडर्स में ट्रांसफरवाइज़ सबसे कम पैसे काटता है. इससे आप वास्तविक एक्सचेंज रेट (जिसे 'मिड-मार्किट रेट'भी कहा जाता है) पर पैसे ट्रांसफ़र कर सकते हैं और यह इस सर्विस के लिए एक फिक्स्ड फ़ीस लेता है. यह दूसरों की तुलना में ज़्यादा समय ले सकता है, लेकिन ट्रांसफ़रवाइज़ फटाफट ट्रांसफ़र का विकल्प देता है, जैसे कि तत्काल या उसी दिन ट्रांसफ़र करना. हालांकि, आपको इसके लिए प्रीमियम चुकाना पड़ सकता है. 

पेपाल

मनी ट्रांसफर बिज़नेस में सबसे लोकप्रिय नामों में से एक “पेपाल” मनी ट्रांसफर करते समय बहुत-सी सुविधाएं देता है. इसे आपके बैंक खाते या क्रेडिट/डेबिट कार्ड से लिंक करने में बस कुछ ही मिनट लगते हैं, और आपसे पैसे भेजने के लिए आपसे कोई फ़ीस भी नहीं ली जाती. हालाँकि, जिसे पैसे पाने हैं उसे इस ट्रांसफ़र के लिए कुछ फ़ीस देनी पड़ सकती है. 

वेस्टर्न यूनियन

यह विदेश में पैसे भेजने का एक सरल और भरोसेमंद तरीका है जिसे कई लोग पैसे ट्रांसफ़र करने के लिए इस्तेमाल करते हैं. यह कुछ चुने हुए तरीकों में से एक है जो कैश पिकअप (किसी वेस्टर्न यूनियन शाखा से) की सुविधा भी देते हैं. "वेस्टर्न यूनियन" की भारत भर में 1.25 लाख से अधिक ब्रांच हैं, इसलिए इनकी सर्विस से लाभ पाना बहुत आसान है. हालांकि, इनके सर्विस चार्ज शायद आपको ज़्यादा लग सकते हैं. इसके अलावा, आपके पैसे को ट्रांसफ़र होने में एक सप्ताह तक का समय लग सकता है, इसलिए अगर आप जल्दी में हैं तो शायद पैसे भेजने का यह सबसे अच्छा तरीका नहीं है.

मनीग्राम

अगर आपको जल्दी काम करना पसंद है, तो आप "मनीग्राम" को आज़माकर देख सकते हैं. "मनीग्राम" के अनुसार, यह 24 घंटे के अंदर पैसे ट्रांसफ़र कर देगा, हालांकि ज़्यादातर ट्रांसफ़र दस मिनट में ही हो जाते हैं. पैसे भेजने की दिन की अधिकतम सीमा लगभग 10,000 डॉलर है, और यह सुविधा 200 देशों में उपलब्ध है.

इससे जुड़ी जानकारी: सेबी ने ओवरसीज़ शेयर ट्रांसफ़र के नियमों में ढील की

वायर ट्रांसफ़र

यहाँ बताए गए तरीकों में से यह सबसे पुराना है, और 50 सालों से इस्तेमाल किया जाता रहा है. आप बैंक या वायर ट्रांसफर एजेंसी के माध्यम से वायर ट्रांसफर कर सकते हैं. इसके लिए आपको उन्हें पूरी जानकारी देनी होगी. पैसे को अपने डेस्टिनेशन तक पहुंचने में एक दिन लगता है, लेकिन इसकी फ़ीस थोड़ी ज़्यादा हो सकती है (10 से लेकर 35 डॉलर तक). वायर ट्रांसफ़र का एक नुकसान यह है कि आप इसे शुरू करने के बाद रोक नहीं सकते.

ऊपर बताए गए सभी तरीकों के अपने फ़ायदे और नुकसान हैं. इसलिए, पहले सोचें कि फ़ीस और ट्रांसफ़र में लगने वाले समय के मामले में आपके लिए सबसे ज्यादा ज़रूरी क्या है, और फिर एक ऐसा तरीका चुनें जो उन जरूरतों को पूरा करने के लिए सबसे अच्छा हो.

यह भी पढ़ें: फंड ट्रांसफ़र के अलग-अलग तरीके




संबंधित लेख