Withdrawing advance cash from a credit card can be quite expensive: क्रेडिट कार्ड से एडवांस कैश निकालना काफी महंगा हो सकता है।

क्रेडिट कार्ड से कैश निकालने के पहले उस पर लगने वाले शुल्क का पता कर लें।

Charges on advance cash withdrawal

Credit card: त्योहारों के मौसम में अक्सर लोग अपने बजट की परवाह किए बिना ऑनलाइन और ऑफलाइन खरीदारी करते हैं। इस खरीदारी के लिए बड़े पैमाने पर क्रेडिट कार्ड का उपयोग भी किया जाता है। क्रेडिट कार्ड का उपयोग करने की खास वजह है बिना नकदी दिए लेनदेन की सुविधा और ब्याज मुक्त अवधि। इसके साथ ही क्रेडिट कार्ड पर मिलने वाला कैशबैक, रिवार्ड पॉइंट, और फ्यूल सरचार्ज वेवर जैसी कई तरह की छूट इनका उपयोग करने के लिए प्रेरित करती हैं। 

इन सुविधाओं के साथ-साथ क्रेडिट कार्ड पर अग्रिम नकदी निकासी की भी सुविधा मिलती है, जिससे कोई भी उपयोगकर्ता जरूरत के समय क्रेडिट कार्ड से नकद रकम भी निकाल सकता हैं। लेकिन अग्रिम नकदी निकासी की सुविधा का उपयोग करने से बचना ही अच्छा होता है। अगर करना भी पड़े तो केवल इमरजेंसी होने पर ही अग्रिम नकदी निकासी की सुविधा का उपयोग करना चाहिए, क्योंकि इस पर आपको बहुत अधिक ब्याज लगता है और ब्याज के अलावा ट्रांजैक्शन चार्ज भी देना पड़ता है। ध्यान रहे बार-बार अग्रिम नकदी निकासी करने का क्रेडिट स्कोर पर भी बुरा असर पड़ सकता है।

यह भी पढ़ें: ७ वित्तीय नियम

क्रेडिट कार्ड से अग्रिम नकदी निकासी 

अलग-अलग बैंक क्रेडिट कार्ड धारकों के लिए नकदी निकासी की अलग-अलग सीमा तय करते हैं और यह सीमा कार्ड की कुल क्रेडिट लिमिट के आधार पर निश्चित की जाती है। आम तौर पर क्रेडिट कार्ड की कुल सीमा के 20 से 40 प्रतिशत तक की राशि की नकदी निकासी की जा सकती है। मान लें कि आपके क्रेडिट कार्ड पर कुल क्रेडिट लिमिट 5 लाख रुपये है, तो अपने कार्ड से आप 1 से 2 लाख रुपए तक नकद निकाल सकते हैं।

क्रेडिट कार्ड से अग्रिम नकदी निकासी पर ब्याज के अलावा अतिरिक्त शुल्क भी देना पड़ता है, जो निकाली गई नकदी के 2.5% से 3% तक हो सकता है। तो अगर आपने अपने क्रेडिट कार्ड से नकद 1 लाख रुपये निकाले हैं, तो इसक लिए बैंक आप से 2 से 3 हजार रुपए वसूल सकता है। बैंक नकदी निकासी पर हर महीने 3.5 प्रतिशत की दर से ब्याज भी वसूलेगा। BankBazaar.com के सीईओ आदिल शेट्टी का कहना है कि अपने क्रेडिट कार्ड से नकद या कैश निकालने से पहले दो बातें जान लेना बहुत जरूरी है। पहली यह कि अग्रिम नकद निकासी पर कोई ब्याज मुक्त समय नहीं मिलता है, पैसे निकालते ही उस पर ब्याज लगना शुरू हो जाता है। और दूसरी खास बात कि नकद निकालने को क्रेडिट कार्ड का उपयोग माना जाता है और आपके कार्ड की क्रेडिट लिमिट कम हो जाती है।

क्रेडिट कार्ड से नकद रकम निकालना आपके लिए बहुत ही महंगा हो सकता है, इसलिए जब आप के पास कोई और तरीका या विकल्प न बच जाए केवल तभी और आकस्मिकता के लिए ही इस विकल्प का उपयोग करना चाहिए। कोई आकस्मिक ज़रूरत पड़ने पर अगर कभी आपको इस सुविधा का उपयोग करना पड़े तो जितनी जल्दी संभव हो इस नकद का भुगतान कर देना चाहिए। अगर संभव हो सके तो बिलिंग की तारीख से पहले इसका भुगतान कर देना सबसे अच्छा होगा। जहाँ तक संभव हो इस सुविधा का उपयोग करने से बचना चाहिए।

यह भी पढ़ेंमार्केट में निफ़्टी ५० से रिटर्न कैसे पाए?

Credit card: त्योहारों के मौसम में अक्सर लोग अपने बजट की परवाह किए बिना ऑनलाइन और ऑफलाइन खरीदारी करते हैं। इस खरीदारी के लिए बड़े पैमाने पर क्रेडिट कार्ड का उपयोग भी किया जाता है। क्रेडिट कार्ड का उपयोग करने की खास वजह है बिना नकदी दिए लेनदेन की सुविधा और ब्याज मुक्त अवधि। इसके साथ ही क्रेडिट कार्ड पर मिलने वाला कैशबैक, रिवार्ड पॉइंट, और फ्यूल सरचार्ज वेवर जैसी कई तरह की छूट इनका उपयोग करने के लिए प्रेरित करती हैं। 

इन सुविधाओं के साथ-साथ क्रेडिट कार्ड पर अग्रिम नकदी निकासी की भी सुविधा मिलती है, जिससे कोई भी उपयोगकर्ता जरूरत के समय क्रेडिट कार्ड से नकद रकम भी निकाल सकता हैं। लेकिन अग्रिम नकदी निकासी की सुविधा का उपयोग करने से बचना ही अच्छा होता है। अगर करना भी पड़े तो केवल इमरजेंसी होने पर ही अग्रिम नकदी निकासी की सुविधा का उपयोग करना चाहिए, क्योंकि इस पर आपको बहुत अधिक ब्याज लगता है और ब्याज के अलावा ट्रांजैक्शन चार्ज भी देना पड़ता है। ध्यान रहे बार-बार अग्रिम नकदी निकासी करने का क्रेडिट स्कोर पर भी बुरा असर पड़ सकता है।

यह भी पढ़ें: ७ वित्तीय नियम

क्रेडिट कार्ड से अग्रिम नकदी निकासी 

अलग-अलग बैंक क्रेडिट कार्ड धारकों के लिए नकदी निकासी की अलग-अलग सीमा तय करते हैं और यह सीमा कार्ड की कुल क्रेडिट लिमिट के आधार पर निश्चित की जाती है। आम तौर पर क्रेडिट कार्ड की कुल सीमा के 20 से 40 प्रतिशत तक की राशि की नकदी निकासी की जा सकती है। मान लें कि आपके क्रेडिट कार्ड पर कुल क्रेडिट लिमिट 5 लाख रुपये है, तो अपने कार्ड से आप 1 से 2 लाख रुपए तक नकद निकाल सकते हैं।

क्रेडिट कार्ड से अग्रिम नकदी निकासी पर ब्याज के अलावा अतिरिक्त शुल्क भी देना पड़ता है, जो निकाली गई नकदी के 2.5% से 3% तक हो सकता है। तो अगर आपने अपने क्रेडिट कार्ड से नकद 1 लाख रुपये निकाले हैं, तो इसक लिए बैंक आप से 2 से 3 हजार रुपए वसूल सकता है। बैंक नकदी निकासी पर हर महीने 3.5 प्रतिशत की दर से ब्याज भी वसूलेगा। BankBazaar.com के सीईओ आदिल शेट्टी का कहना है कि अपने क्रेडिट कार्ड से नकद या कैश निकालने से पहले दो बातें जान लेना बहुत जरूरी है। पहली यह कि अग्रिम नकद निकासी पर कोई ब्याज मुक्त समय नहीं मिलता है, पैसे निकालते ही उस पर ब्याज लगना शुरू हो जाता है। और दूसरी खास बात कि नकद निकालने को क्रेडिट कार्ड का उपयोग माना जाता है और आपके कार्ड की क्रेडिट लिमिट कम हो जाती है।

क्रेडिट कार्ड से नकद रकम निकालना आपके लिए बहुत ही महंगा हो सकता है, इसलिए जब आप के पास कोई और तरीका या विकल्प न बच जाए केवल तभी और आकस्मिकता के लिए ही इस विकल्प का उपयोग करना चाहिए। कोई आकस्मिक ज़रूरत पड़ने पर अगर कभी आपको इस सुविधा का उपयोग करना पड़े तो जितनी जल्दी संभव हो इस नकद का भुगतान कर देना चाहिए। अगर संभव हो सके तो बिलिंग की तारीख से पहले इसका भुगतान कर देना सबसे अच्छा होगा। जहाँ तक संभव हो इस सुविधा का उपयोग करने से बचना चाहिए।

यह भी पढ़ेंमार्केट में निफ़्टी ५० से रिटर्न कैसे पाए?

Expert Article block example

संवादपत्र

संबंधित लेख