अपनी वित्तीय सेहत को कैसे मापें?

जिस किसी ने भी कमाई शुरू कर दी है, उसे अपनी वित्तीय स्थिति के बारे में पता होना चाहिए। जैसे-जैसे आप बड़े और अधिक जिम्मेदार होते जाते हैं, आपकी जोखिम प्रोफाइल बदल जाती है। आपका वित्तीय स्वास्थ्य बताता है कि आप अपने वित्त का कितना अच्छा प्रबंधन करते हैं। यदि आप विशिष्ट मानदंडों को पूरा करते हैं तो आप स्वयं को स्वस्थ मान सकते हैं। इसलिए, आपका वित्तीय स्वास्थ्य बदलता रहता है, और इसकी लगातार निगरानी करना आवश्यक है।

वित्तीय सेहत इसका क्या अर्थ है और आप इसे कैसे माप सकते हैं

वित्तीय सेहत क्या होती है?

आपकी वित्तीय सेहत से आपकी वित्तीय स्थिति यानी आप अपने पैसे का प्रबंधन कितनी अच्छी तरह करते हैं, का पता चलता है। हम आपके स्वास्थ्य को अच्छा मानते हैं यदि आप रोग मुक्त हैं और आपका शरीर बेहतर स्थिति में है। इसी तरह, वित्तीय स्वास्थ्य का आकलन करने के लिए कुछ मापदंडों का उपयोग किया जा सकता है। यदि आप इन मापदंडों पर खरे उतरते हैं तो आप अपने वित्तीय स्वास्थ्य को अच्छा मान सकते हैं।

संबंधित:  अपने बैंक की वित्तीय सेहत कैसे जांचें 

वित्तीय स्वास्थ्य जांचने के लिए पैरामीटर नीचे दिए गए हैं:

नेट वर्थ - सबसे पहली चीज जो आपको पता होनी चाहिए वह है आपकी नेट वर्थ यानी निवल संपत्ति। आपकी नेट वर्थ आपकी देनदारियों को घटाकर जो आपके पास बचता है वह सब कुछ है। उदाहरण के लिए, यदि आपके बचत खाते में 1 लाख रुपये, एफडी में 10 लाख रुपये, सेवानिवृत्ति निधि में 25 लाख रुपये और 5 लाख रुपये का कार ऋण है, तो आपकी निवल संपत्ति की गणना नीचे दिये गए तरीके से की जाएगी

(1 + 10 + 25 - 5) = 31 लाख रुपये।

आपको निगरानी करनी होगी कि आपका नेट वर्थ किस दिशा में जा रहा है। यदि आपका निवल मूल्य दक्षिण यानी नीचे की ओर जा रहा है, तो आपके पास इस पैरामीटर के लिए नकारात्मक है। यदि यह समय के साथ उत्तर यानी ऊपर की ओर जा रहा है, तो आप अच्छा कर रहे हैं।

बचत दर- यह आपकी मासिक आय का वह प्रतिशत है जिसे आप बचाते हैं। अगर आप 50,000 रुपये कमा रहे हैं और आप 15,000 रुपये बचा रहे हैं, तो आपकी बचत दर 30% है। अंगूठे का नियम यह है कि आपको अपनी टेक-होम आय का कम से कम 20% बचाना चाहिए। जितना अधिक आप बचत करेंगे, उतना ही बेहतर आप आर्थिक रूप से स्वस्थ रहेंगे। हालांकि, आपको अधिक बचत करने के लिए अपने जीवन की गुणवत्ता से समझौता नहीं करना चाहिए।

ऋण-आय अनुपात- इस अनुपात की गणना करने के लिए, आपको अपने मासिक ऋण भुगतान को अपनी सकल आय से विभाजित करना होगा। यह आपको बताता है कि आप पर कितना कर्ज है और क्या आपको और ऋण लेना चाहिए। जानकार सलाह देते हैं कि यह अनुपात 30% से अधिक नहीं होना चाहिए।

क्रेडिट स्कोर - उपरोक्त सभी मापदंडों को जानने के लिए, आपको गणना स्वयं करनी होगी। लेकिन, आपके क्रेडिट स्कोर की गणना राष्ट्रीय क्रेडिट एजेंसियों द्वारा की जाती है, आपके द्वारा नहीं। यह आपकी साख का प्रतिनिधित्व करता है; आपके क्रेडिट स्कोर को स्थापित करने में जिन प्रमुख कारकों पर विचार किया जाता है, उनमें से एक यह है कि आप अपने बिलों का भुगतान कितनी अच्छी तरह करते हैं। आप विभिन्न प्रकार के ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के माध्यम से अपना क्रेडिट स्कोर प्राप्त कर सकते हैं। एक बार जब आप अपना वर्तमान क्रेडिट स्कोर जान लेते हैं, तो आप क्रेडिट स्कोर की दिशा को ट्रैक कर सकते हैं। क्रेडिट स्कोर जितना अधिक होगा, उतना अच्छा होगा। आपकी क्रेडिट रिपोर्ट पर 750 या उससे अधिक का सिबिल स्कोर होना आदर्श है। यह स्कोर होने से आपको आसानी से क्रेडिट कार्ड और व्यक्तिगत ऋण मिल सकते हैं। 

सेवानिवृत्ति निधि –आपके वित्तीय स्वास्थ्य पर नजर रखने के लिए आवश्यक मापदंडों में से एक है सेवानिवृत्ति निधि के जरिये गणना करना। यह पता लगाने के लिए कि आपको सेवानिवृत्ति के लिए कितने धन की आवश्यकता होगी, ऑनलाइन सेवानिवृत्ति कैलकुलेटर का उपयोग करें। कैलकुलेटर में मांगी गई आपको अपनी सारी वित्तीय जानकारी देनी होगी और यह आपको बताएगी कि सेवानिवृत्ति के लिए आपके पास कितना पैसा होना चाहिए। यह आपको यह भी बताएगा कि राशि प्राप्त करने के लिए आपको प्रति माह कितना निवेश करने की आवश्यकता है। यदि आप उक्त राशि को बचाते हैं, तो आप ठीक चल रहे हैं। यदि नहीं, तो आपको इस बिंदु पर सुधार करना होगा।

आय- सूची में अंतिम, फिर भी इसके बिना, उपरोक्त मापदंडों में से कोई भी संभव नहीं है। आपको यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है कि आपकी आय हर साल बढ़ रही है, और यह देश में औसत मुद्रास्फीति दर से अधिक होनी चाहिए। इसका मतलब है कि आपकी आय में कम से कम 6% की वृद्धि होनी चाहिए, 10% को अच्छी वृद्धि माना जाता है।

समाप्ति नोट

संक्षेप में, आपको उपरोक्त सभी मापदंडों को व्यक्तिगत रूप से ट्रैक करना होगा और अपने समग्र वित्तीय स्वास्थ्य का मूल्यांकन करना होगा। वित्तीय स्वास्थ्य का सबसे अच्छा हिस्सा यह है कि आप इसे नियंत्रित कर सकते हैं। आप अपनी बचत और निवेश की आदतों में अनुशासन ला सकते हैं, और आप अपने वित्तीय स्वास्थ्य में सुधार देखेंगे।

संवादपत्र

संबंधित लेख