दुनिया के सबसे महंगे शेयर-बर्कशायर हैथवे, अमेज़ॅन, सीबोर्ड कॉर्पोरेशन, नेक्स्ट पीएलसी |5 Most expensive shares in the world

वैश्विक स्तर पर सार्वजनिक रूप से कारोबार करने वाले अब तक के सबसे महंगे शेयर के बारे में जानें।

दुनिया के 5 सबसे महंगे शेयर

अगर आप शेयर बाजार निवेशक हैं, तो आपको दुनिया के सबसे विशिष्ट, महंगे शेयरों के बारे में जानना चाहिए। किसी भी कंपनी का शेयर मूल्य उसके बाजार मूल्य का संकेतक होता है और इसलिए निवेश निर्णयों में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। शेयर की अधिक कीमत संकेत देता है कि वर्तमान में विक्रेताओं की तुलना में खरीदार अधिक हैं। यह आपके द्वारा एक बार में खरीदे जाने वाले शेयरों की संख्या भी तय कर सकता है, क्योंकि यह आपके बजट और दीर्घकालिक लक्ष्यों को प्रभावित करता है।

दुनिया में कई महंगे स्टॉक हैं, जिनमें आप अपनी संपत्ति को और बढ़ाने के लिए निवेश कर सकते हैं। हालांकि, दुनिया के सबसे महंगे शेयर हमेशा मुनाफे की गारंटी नहीं देते हैं, फिर भी ऐसा करके आप किसी बड़ी कंपनी के विकास का हिस्सा बन सकते हैं। यहां दुनिया के पांच सबसे अधिक मूल्यवान शेयरों की जानकारी दी जा रही है। 

1. बर्कशायर हैथवे इंक. 

अरबपति निवेशक वॉरेन बफेट की बर्कशायर हैथवे के पास दुनिया के सबसे महंगे शेयर हैं। जून 2021 में कंपनी के स्टॉक का मूल्य 415,000 अमरीकी डॉलर, लगभग 3,08,91,016.69 भारतीय रुपया प्रति शेयर था। बर्कशायर हैथवे के पास जीईआईसीओ, फ्लाइटसेफ्टी इंटरनेशनल, लुब्रिज़ोल, नेटजेट्स, फ्रूट ऑफ़ द लूम, डेयरी क्वीन, हेल्ज़बर्ग डायमंड्स और बीएनएसएफ रेलवे जैसी फर्में शामिल हैं। ऐप्पल, कोका-कोला, अमेरिकन एक्सप्रेस और वेल्स फ़ार्गो जैसी कंपनियों में भी इसकी कुछ हिस्सेदारी है।

2. लिंड्ट और स्पृंगली एजी 

लिंड्ट एंड स्पृंगली एजी एक स्विस कंपनी है। इसकी स्थापना 1845 में हुई थी। यह अपनी चॉकलेट और अन्य कन्फेक्शनरी वस्तुओं के लिए दुनिया भर में जानी जाती है। कंपनी के पास वर्तमान में दुनिया भर में करीब 410 चॉकलेट स्टोर और कैफे हैं। इस कंपनी का स्टॉक इस समय दुनिया का दूसरा सबसे महंगा शेयर है, जिसका मूल्य 12,375.00 अमेरिकी डॉलर, लगभग 921,147.79 भारतीय रुपए प्रति शेयर है।

संबंधित: भारत के पांच सबसे महंगे स्टॉक: जानकर चौंक जाएंगे 

YouTube:

https://www.youtube.com/watch?v=aHHdnQnuL4c

3. नेक्स्ट पीएलसी 

नेक्स्ट पीएलसी एक ब्रिटिश रिटेल कंपनी है। यह फुटवियर, परिधान और घरेलू सामान बनाती है। अभी इसके यूनाइटेड किंगडम और आयरलैंड में 500 से अधिक स्टोर हैं। कंपनी का यूरोप, एशिया और मध्य पूर्व में लगभग 200 स्टोर है। 2012 में नेक्स्ट पीएलसी ने बिक्री के लिहाज से यूके की सबसे बड़ी खुदरा कपड़ा विक्रेता बनने के लिए लोकप्रिय कपड़ों के ब्रांड मार्क्स एंड स्पेंसर का अधिग्रहण किया था। कंपनी का स्टॉक दुनिया के सबसे महंगे शेयरों में से एक है, जिसका मूल्य 8,164.00 ग्रेट ब्रिटेन पाउंड, लगभग 815,935.22 भारतीय रुपया है।

4. सीबोर्ड कॉर्पोरेशन 

सीबोर्ड कॉर्पोरेशन एक अरबों डॉलर की कंपनी है। यह फॉर्च्यून 500 में शामिल दिग्गज कंपनी है, जो कृषि, सूअर के मांस का उत्पादन, चीनी निर्माण, बिजली और समुद्री परिवहन जैसे कई व्यवसायों में शामिल है। यह कान्सास (यूएसए) में स्थित है और 30 मालवाहक जहाजों की मालिक है। अपने विशाल संचालन और पहुंच के कारण यह दुनिया के सबसे महंगे शेयरों की सूची में शामिल है। इसके शेयर की कीमत 3,970.04 अमेरिकी डॉलर, लगभग 295,484.58 भारतीय रुपया है।

संबंधित:  भारत में महिलाएं स्टॉक में कैसे निवेश कर सकती हैं?

5. अमेज़ॅन इंक. 

यह ऑनलाइन रिटेल कंपनी है। सभी लोग इस कंपनी से परिचित होंगे। जेफ बेजोस द्वारा 1994 में अमेरिका में इसकी स्थापना की गई थी। कंपनी का बाजार पूंजीकरण 900 बिलियन अमरीकी डालर के करीब है। अमेज़ॅन भारत सहित कई देशों में कारोबार करती है। कंपनी की शुरुआत हालांकि एक ऑनलाइन बुकस्टोर के रूप में हुई थी, लेकिन अभी कपड़ों से लेकर फर्नीचर तक, इलेक्ट्रॉनिक्स और अन्य सभी सेगमेंट का उत्पाद बेचती है। इसके एक शेयर की कीमत 3,540.70 अमेरिकी डॉलर, लगभग 263,529.40 भारतीय रुपए है, जो कि अमेज़ॅन को दुनिया के सबसे महंगे शेयरों में से एक बनाता है। 

आखिरी शब्द 

ऊपर सूचीबद्ध कंपनियां दुनिया के सबसे महंगे शेयर विकल्प पेशकश करती हैं। हालांकि, यह भी सच है कि शेयर बाजार एक अस्थिर स्थान है और इन कीमतों में समय-समय पर उतार-चढ़ाव होना तय है। शेयरों की कीमतों के रुझानों के साथ कंपनी के बारे में अपडेट रहने से आपको एक निवेशक के रूप में सही निर्णय लेने में मदद मिल सकती है।

संवादपत्र

संबंधित लेख