6 आर्थिक फैसले जो महिलाओं को 20-25 की उम्र में ज़रूर करने चाहिए | Tomorrowmakers

क्या आप अपने जीवन के 30 और 40 के दशक में आर्थिक रूप से मजबूत बनना चाहती हैं? तो हम यहां कुछ ऐसे कदम बता रहे हैं, जो आपको 20-25 की उम्र में उठाना चाहिए

Financial planning that every women must take in her early age

जीवन में 20-25 वर्ष की आयु नई चीज़ें और अनुभव खोजने, सीखने और यादें बनाने का होता है। लेकिन इसी दौरान आपको अपनी पहली नौकरी मिलती है इसलिए यह समय अपनी वित्तीय ज़िम्मेदारियां उठाने की शुरुआत करने का भी होता है।


तो अपने जीवन के 20-25 वर्ष में जब आप ज़िंदगी को खुल कर जीने का मज़ा उठा रही हों, तब इन ज़रूरी वित्तीय कदमों को उठाना न भूलें:


1. अपने माता-पिता पर निर्भर न रहें
आप इतने सालों से अपने माता-पिता की लाड़ली बेटी रही होंगी। उन्होंने आपकी हर वित्तीय ज़रूरत को पूरा ख्याल रखा और आपको बेहद प्यार दिया। अब उनके लिए कुछ करने की आपकी बारी है। अपने जीवन के वित्तीय पक्ष का नियंत्रण अपने हाथों में लें। महीने का बजट बनाने, खर्च करने से लेकर बीमा के प्रीमियम भरने तक सारे काम करें। ऐसा करके न केवल आप अपने माता-पिता के बोझ को कम करेंगी बल्कि उन्हें आप पर गर्व करने का कारण भी देंगी।


2. कर्ज़ के भुगतान की योजना बनाएं
आपके माता-पिता ने आपको सबसे अच्छे कॉलेज में पढ़ाने के लिए शिक्षा लोन लिया होगा। आपका टू-व्हीलर खरीदने के लिए भी लोन लिया होगा ताकि आपको आने-जाने में सुविधा हो। और आपकी लंबी-चौड़ी शॉपिंग ट्रिप के बाद आपके क्रेडिट कार्ड का बिल भी भरा होगा। अब सोचिए कि आप इस लोन या कर्ज़ को जल्द से जल्द कैसे वापस कर सकती हैं। लोन पर ब्याज देना पड़ता है और लोन की किस्त देने से चूकने पर क्रेडिट स्कोर खराब होता है। इसलिए अपने लोन की किस्त का नियमित रूप से और समय पर भुगतान करें।


3. बचत करने की आदत डालें
अब चुंकि आप कमाने लगी हैं तो आपका दिल खोल कर खर्च करने का मन भी करता होगा। ज़िंदगी का आनंद उठाना भी ज़रूरी है लेकिन उस पर अपनी पूरी आय खर्च कर देना सही नहीं है। बचत करने की आदत को अपनाएं क्योंकि कहते हैं ना, “बचाया गया हर पैसा, कमाया गया पैसा है।” शुरुआत में सारे खर्चों को संभालते हुए बचत करना आपको थोड़ा मुश्किल लग सकता है। लेकिन जल्दी बचत की शुरुआत करके आप भविष्य के लिए अच्छा पैसा जमा कर सकती हैं।

Financial Move

4. निवेश की बारीकियां सीखें
वित्तीय आज़ादी हासिल करने के लिए सही निवेश करना और एक वित्तीय पोर्टफोलियो बनाना महत्वपूर्ण है। निवेश करना एक कला है और इसके लिए जानकारी की ज़रूरत होती है। आप मूल बातें सीख कर अपने निवेश कौशल को बढ़ा सकती हैं जैसे - अपने वित्तीय लक्ष्यों और जोखिम की भूख को पहचान कर, यह जानकर कि कहां, कैसे और कितने समय के लिए निवेश करना है। बचत करती जाएं और साथ ही बचाए हुए पैसे को निवेश भी करती जाएं। हो सकता है शुरुआत में आप कुछ ग़लत फैसले लें। अपनी गलतियों से सीखें और आप कंपाउंडिंग (संपत्ति द्वारा आय उत्पन्न होने और उसे अधिक आय के लिए फिर निवेश करने की प्रक्रिया) की ताकत देख कर चकित रह जाएंगी।


5. अपना बीमा करवाएं
खुद को वित्तीय सुरक्षा देने में सक्षम होना, वित्तीय रूप से स्वतंत्र होने का एक बड़ा हिस्सा है। इसलिए यह ज़रूरी है कि आप अपने लिए एक व्यक्तिगत जीवन बीमा और स्वास्थ्य बीमा प्लान खरीदें। सुनिश्चित करें की बीमा राशि पर्याप्त हो। बढ़ती महंगाई को देखते हुए आपको ज़्यादा राशि कि आवश्यकता होगी। अगर आपको लगता है कि अभी आप ज़्यादा कवरेज के प्रीमियम का भुगतान नहीं कर पाएंगी तो कम राशि से शुरुआत करें। एक किफायती और कम कवरेज वाला प्लान चुनें और उसके साथ एक टॉप-अप स्वास्थ्य बीमा प्लान खरीदें। ऐसा करने से बीमा राशि भी बढ़ जाएगी और यह आपकी जेब पर ज़्यादा भारी भी नहीं पड़ेगा।


निष्कर्ष:

कम उम्र में जल्दी शुरुआत करने के बहुत से वित्तीय लाभ हैं। इसलिए अगर आप ऊपर बताए गए कदमों को अपने 20-25 की उम्र में उठाती हैं, तो आपके बाकी के साल बिना किसी वित्तीय परेशानी के बेहद आराम से कटेंगे। तो, अब किस बात का इंतज़ार है?
 

संबंधित लेख