अपना वित्तीय लक्ष्य कैसे हासिल करें: बजट बनाएं, ज्यादा बचाएं, ज्यादा निवेश करें, क्रेडिट स्कोर सुधारें

ये पांच आदतें, 2022 में आपका वित्तीय लक्ष्य हासिल करने में आपकी मदद कर सकती हैं।

2022 में वित्तीय लक्ष्य पाने के 5 तरीके

नया साल वापसी, आत्मनिरीक्षण और आत्म-सुधार के लिए महत्वपूर्ण समय होता है। शायद यही कारण है कि ज्यादातर लोग नए साल के लिए संकल्प लेना पसंद करते हैं। यदि आप भी कुछ नए संकल्पों के साथ साल की शुरुआत कर रहे हैं, तो अपने लिए कुछ वित्तीय लक्ष्य भी तय कर लीजिए। नई वित्तीय आदतों को अपनाकर आप वित्तीय स्वतंत्रता की राह पर आगे बढ़ सकते हैं, जिससे आपको अपने अंतिम लक्ष्यों के करीब पहुंचने में मदद मिल सकती है।

आइए उन पांच व्यक्तिगत वित्तीय आदतों के बारे में जानें, जिसको अपनाकर 2022 में आप विभिन्न प्रकार के वित्तीय लक्ष्य पा सकते हैं।

1. बजट बनाएं: 

 अपना बजट बनाना किसी भी वित्तीय नियोजन प्रक्रिया के सबसे महत्वपूर्ण चरणों में से एक होता है। बजट बनाने से आपको अपनी जरूरतों को समझने में मदद मिलती है। साथ ही इससे आपको अपना पैसा कहां और कैसे खर्च करना है, आप इस बारे में बेहतर फैसला ले सकते हैं। यह आपके खर्च पर नजर रखने और आपके खर्चों को कम करने में भी मदद करता है। 

2. ज्यादा बचाएं: 

जब भी अपना बजट बनाएं, बचत और निवेश पर सबसे ज्यादा ध्यान दें। ज्यादातर विशेषज्ञों का मानना है कि आप सबसे पहले अपनी आय का एक हिस्सा बचाएं और फिर शेष को अपने आवश्यक और गैर-आवश्यक खर्चों के लिए आवंटित करें। यह आपको एक ठोस आपातकालीन कोष बनाने और मुश्किल दिनों के लिए तैयार करने में मदद करता है। पैसे बचाने के लिए कई विकल्प हैं, जैसे अधिक ब्याज वाले बैंक बचत खाते, सावधि जमा, बगैरह।

यह भी पढ़ें: वे7 आदतें, जो आपको पैसे कमाने से रोकती हैं

3. ज्यादा निवेश करें: 

 निवेश करने से आपका पैसा बेकार नहीं रहता है, बल्कि बढ़ता है। निवेश करने से आपको अपना लक्ष्य हासिल करने और अपनी संपत्ति बढ़ाने में मदद मिलती है। बचत और निवेश को एक ही सिक्के के दो पहलू के रूप में देखा जा सकता है। इसलिए अपने लक्ष्यों और जोखिम उठाने की क्षमता का मूल्यांकन करें और हर महीने बचाए गए अपने पैसे का एक हिस्सा स्टॉक, बॉन्ड, म्युचुअल फंड आदि जैसे निवेश साधनों में निवेश करें। सिस्टमेटिक किस्त योजना (एसआईपी) शुरू करना और निरंतरता बरकरार रखने के लिए उसमें अपने आप अपना पैसा ट्रांसफर करने की अनुमति देना अच्छा विकल्प हो सकता है। आप अपने निवेश सलाह के लिए किसी भरोसेमंद वित्तीय योजनाकार की मदद ले सकते हैं।

4. अपना क्रेडिट स्कोर सुधारने पर काम करें: 

आपका क्रेडिट स्कोर आपकी साख को निर्धारित करता है। यह लोन के प्रति आपका नजरिया बताता है और समय पर बकाया चुकाने की आपकी वित्तीय क्षमता को उजागर करता है। एक तरफ, अधिक क्रेडिट स्कोर आपको किफायती ब्याज दर पर लोन दिलाने में आपकी मदद कर सकता है। दूसरी ओर, कम क्रेडिट स्कोर रहने पर लोन मिलना मुश्किल हो सकता है। यहां तक कि अगर आपको लोन मिलता भी है, तो ब्याज दर काफी अधिक हो सकती है। इसलिए, इस वर्ष, अपने क्रेडिट कार्ड बिलों और लोन ईएमआई का समय पर भुगतान करके 700 या अधिक का क्रेडिट स्कोर बनाए रखने की कोशिश करें। यदि आप अपने क्रेडिट स्कोर से जूझ रहे हैं, तो वित्तीय सलाहकार आपकी मदद कर सकता है।

यह भी पढ़ें: 20-30 साल की उम्र में संपत्ति निर्माण शुरू करने के लिए पैसों से जुड़ी 7 आदतें 

5. अपने सभी क्रेडिट कार्ड बिल समय पर चुकाएं: 

अपना वित्तीय लक्ष्य निर्धारित करते समय अपने क्रेडिट कार्ड बिलों का भुगतान करना न भूलें। समय पर बिल नहीं चुकाने पर क्रेडिट कार्ड की बकाया राशि आपके क्रेडिट स्कोर को पटरी से उतार सकती है। इसके अलावा, ब्याज दर आपके बजट पर अतिरिक्त खर्च और बोझ बढ़ा सकती है। हालांकि, यदि आप अपने क्रेडिट कार्ड बिलों को समय पर चुका देते हैं तो अपना क्रेडिट स्कोर बेहतर बना सकते हैं। बदले में आपको सस्ते लोन का लाभ मदद मिल सकता है।

यह भी पढ़ें:  पैसे से जुड़ी 5 आदतें, जो आपको कर्ज में धकेल सकती हैं 

आखिरी शब्द 

अब जब आप जान गए कि किन पांच आसान आदतों को अपनाकर अपना वित्तीय लक्ष्य हासिल कर सकते हैं, तो उन्हें पूरे साल अपनी दिनचर्या में शामिल करने का प्रयास करें।

संवादपत्र

संबंधित लेख