मैंने अपने माता-पिता से अर्थ प्रबंधन के बारे में कैसे सीखा

सभी सीख का वर्णन करना नहीं होता। मैंने यह देखकर बहुत कुछ सीखा कि मेरे माता-पिता कैसे व्यवहार करते हैं।

मैंने अपने माता-पिता से अर्थ प्रबंधन के बारे में कैसे सीखा

आप जो करते हैं बच्चे उसे देख करके सीखते हैं। वे आपके उदाहरणों का अनुसरण करते हैं, आपके शब्दों का नहीं। मैं वैसा ही था। मैंने अपने माता-पिता को देखकर बहुत कुछ सीखा और जो उनके लिए कामगर था,वो किया। वर्षों से मैंने इसके पीछे की समझदारी को समझा है। और मैंने आज अपनी वित्तीय स्थिरता का श्रेय उन पाठों को दिया है जो उन्होंने मुझे सिखाए हैं। मैं अपने बच्चों को वही सौंपने की कोशिश कर रहा हूं। मैं उन पाठों में से कुछ को यहाँ साझा करता हूँ ।

"शर्माजी की लड़की " पर ध्यान न दें

जब तक मैं कॉलेज में था,तब तक मुझे "शर्माजी की लड़की" के बारे में नहीं पता था और मेरे दोस्तों ने मुझे इसके बारे में बताया था। इसे अंग्रेजी में "जोन्स के जैसे रहते हुए" कहेंगे। इसमें, आपको किसी के साथ नहीं रहना होता। मुझे एक भी अवसर याद नहीं है, जब मेरे माता-पिता ने दूसरों के साथ मेल खाने की कोशिश की, या इस बात की चिंता की कि उन्होंने अपना पैसा कैसे खर्च किया। मेरी माँ हमेशा खर्च किए जा रहे पैसे और खरीदे जा रहे उत्पाद की गुणवत्ता के बीच के व्यापार को देखती थी। ब्रांड नाम ने शायद ही इसमें कोई भूमिका निभाई हो। केवल एक बार जब हमने एक बड़े ब्रांड से कुछ खरीदा था, जब हमें पता था कि हम इसे बहुत उपयोग करेंगे, और ब्रांड ने अच्छी गुणवत्ता का वादा किया था ।

सेल के दौरान खरीदें

मेरी माँ ने शायद ही कभी पूरी कीमत पर कुछ खरीदा हो। उसने कहा, उसने कभी भी सिर्फ इसलिए कुछ नहीं खरीदा क्योंकि यह सेल पर था। वह हमारी जरूरतों के आधार पर तय करती थी कि वह क्या खरीदना चाहती है और फिर खरीदारी करने से पहले कीमत कम होने का इंतजार करती थी । मैं इसी चाल का पालन करता हूं और सबसे अच्छे सौदे पाता हूं। ऑनलाइन उपलब्धता ने इस प्रक्रिया को और भी आसान बना दिया है। खरीदारी करने से पहले हमेशा ऑनलाइन और ई-टेलर्स की कीमत जांच लें ।

"चलो इसे कल खरीदते हैं"

ऐसा नहीं है कि मेरे माता-पिता कभी भी आवेग पर कुछ खरीदना नहीं चाहते थे। लेकिन उनका एक सरल नियम था - "चलो इसे कल खरीद लेंगे"। यदि आप दुकान में कुछ देखते हैं और वह आपको बेहद पसंद आता हैं, तो एक दिन के लिए खरीदारी को स्थगित कर दें। यदि कल भी आप इसे उस कीमत पर खरीदना चाहते हैं, तो आगे बढ़ें। लेकिन कई  बार, आपको लगता है कि यह उपलब्ध सबसे अच्छा विकल्प नहीं है। यह दृष्टिकोण मुझे बहुत सारे पैसे बचाने की अनुमति देता है, खासकर जब नवीनतम तकनिकी गैजेट्स मुझे लुभाते हैं।

मुफ्त की चीजों का आनंद लें

जब मैं बड़ा हो रहा था, हम शायद ही कभी एक सप्ताह की छुट्टी पर गए थे। हमारी वित्तीय योजनाओं में इसका बजट बनाना मुश्किल था। लेकिन हमने एक परिवार के रूप में एक साथ समय बिताया। हम हर दूसरे सप्ताह के अंत में समुद्र तट पर गए, किताबें पढ़ने में समय बिताया, बोर्ड गेम खेलने में घंटों बिताए और घर को भी एक साथ पेंट किया।आज भी, मैं सहज रूप से अपने बटुए में हाथ डालने से पहले मुक्त संसाधनों की तलाश करता हूं। फिर, इंटरनेट और उपहार अर्थव्यवस्था मेरे लिए एक वरदान है। किताबें, एप्लिकेशन, वीडियो सामग्री, ब्लॉग - इतना कि जिनसे मैं सीख सकता हूँ ,वे मुफ्त में उपलब्ध है।

हर कीमत पर कर्ज से बचें

कुछ लोग इस बारे में तर्कपूर्ण हो सकते हैं। यदि आपके ऋण पर ब्याज का भुगतान,आपके निवेश पर मिलने वाले ब्याज से कम है, तो केवल ऋण पर देय न्यूनतम राशि का भुगतान करें। मैं बाकी लोगों की तरह औचित्यहीन नहीं हूं। मैं जितनी जल्दी हो सके ,किसी भी ऋण का भुगतान करना चाहता हूं, और फिर कभी नया कर्ज नहीं लेना चाहता। मैंने देखा है कि मेरे माता-पिता यह सोचकर परेशान होते थे कि घर की मरम्मत के लिए उन्होंने जो कर्ज लिया था, उसे वे कैसे वापस करेंगे। इसने मुझे दो चीजें सिखाईं - एक आपातकालीन निधि का निर्माण करना और ऋण से बचना। अतिरिक्त तनाव की ज़रूरत नहीं है।

हमेशा कड़ी मेहनत करें

मेरे पिता अब 60 की तुलना में 70 के करीब हैं। वह अभी भी हर सप्ताह विश्वविद्यालय जाते हैं, पाठ्यक्रम उत्पादबनाने पर काम करते हैं, हर सप्ताह एक संपादकीय लिखते हैं, और शिक्षक प्रशिक्षण सत्र आयोजित करते हैं। ऐसा नहीं है कि उन्हें यह करना है, लेकिन वह कड़ी मेहनत करना नहीं छोड़ना चाहते हैं। उनका काम नैतिकपूर्ण औरसंक्रामक है। मुझे लगता है कि यह मुझे भी है। मुझे उम्मीद है कि मेरे बच्चों के पास भी होगा।

मैंने अपने माता-पिता से बहुत कुछ सीखा है। मैं उनके पोतों के लिए एक महान उदाहरण बनकर उनका एहसान चुकाने की कोशिश करता हूं। यदि मेरे बच्चे इन धन प्रबंधन तकनीकों को अच्छे उपयोग में लाने में सक्षम हैं, तो मैं कुछ हद तक, खुद को सफल मान सकता हूं।

क्या आपके बच्चों को पैसे के बारे में सिखाने का यह अच्छा समय है? अपने बच्चों को ठोस वित्तीय आदतों से लैस करने के तरीके को समझने के लिए इस लेख को पढ़ें।

संबंधित लेख

 

Most Shared