इस त्योहारों के मौसम कैसे खरीददारी का बजट तय करे

सब त्योहारों के मौसम के लिए तैयार हैं ? यहाँ दिए गए उपाय है की कैसे आप स्मार्ट खरीददारी का आनंद उठाए |

इस त्योहारों के मौसम कैसे खरीददारी का बजट तय करे

यह त्योहारों का मौसम हमारे करीब है | यह साल का वह समय है जब हम खरीददारी करते हैं और बहुत खर्च करते हैं ताकि यह उत्सव यादगार हो जाए| जैसे आप अपने चहेतो के लिए शानदार तोहफे देना चाहते हैं ,हम आपके लिए लाये हैं एक क्रम दर क्रम गाइड की कैसे योजना बनाए और बिना परेशानी के एक बेहतरीन त्योहारों के मौसम का आनंद ले |

तो  आइये  शुरूकरते हैं :


१) सारे अनुमानित खर्चो की सूची बनाये :

सबसे पहले, उन चीज़ो की एक सूची बनाए जो आपको करनी है | यह आपके परिवार के लिए नए कपडे खरीदना हो सकता है,दोस्तों के लिए उपहार लेना हो सकता है ,घर में रंग की एक परत हो सकती है, या कुछ घर के अंदर रखने वाले पौधे आपके बालकनी में रखने के लिए हो सकते हैं .. यह सूचि अनंत हो सकती है, परन्तु इसमें चतुराई होगी यदि आप बनाना शुरू करे |


२) खरीददारी के बजट का निर्णय ले :

आप खरीददारी के मौसम के लिए बचत कर रहे होंगे , जिससे आपको मालुम होगा की आपके हाथ में खर्च करने के लिए कितना पैसा है | अगर आपके पास नहीं है ,तो जल्दी से गणित कीजिये, आपके पास जो पैसे हैं वो जोड़िये और क्रेडिट कार्ड की जितनी सीमा तक जा सकते है वो सोचिये | या आप सिर्फ अंदाज़न एक राशि तय कर सकते हैं, हालांकि थोड़ी सावधानी सलाहनीय है | 


३) अनेक श्रेणियों के लिए सीमा तय करे 

एक बार आप जान जाये की आपको कितना खर्च करना है, उतना ही खर्च के लिए बाँट दे | तो अब समय है की आप माली और पेंटर को बुलाये और पौधों और रंग के काम के खर्चे के बारे में बता दे | आपके पास मेहमान आ रहे होंगे, तो आप मिठाइयां बांटते होंगे या अपने चहेतो के लिए कपकेक बनाते होंगे | फिर खरीदने के लिए तोहफे हैं और अन्य छुटपुट खर्चे जिन्हे आपको झेलना पड़ेगा ऐसे सभी खर्चो के लिए एक बजट तय करे |


४) चीज़ो और उनके स्त्रोतों की सूचि बनाइये:

एक बार आपको अपनी खरीददारी के बारे में पता है और हर एक के लिए राशि निश्चित हो चुकी है ,तो आपको साडी चीज़ो की एक विस्तृत सूची बनानी है और उन्हें खरीदने के लिए सर्वोत्तम स्त्रोत का पता लगाना है | एक जोड़ी जीन्स लेने का सोच रहे हैं? क्या यह ऑनलाइन या ऑफलाइन है? बेहतर सौदे या कैशबैक? सभी बिक्री प्रस्तावों और सौदों के शोध के बाद, अगर आप एक जोड़ी लेवाइस के जीन्स नज़दीकी दूकान से ३५०० रुपये में ले रहे हैं तो वो उस वक़्त का सर्वोत्तम सौदा होगा |


५) खर्चो का हिसाब लगाए 

अगर अपर बताए गए जीन्स के लिए आप हज़ार रुपये ज्यादा दे रहे हैं ,तो आप फिर से बजट में परिवर्तन लाये और योजना के अनुसार सोचे गए कपड़ो की संख्या में से एक कम कर दे|हर श्रेणी के लिए बजट निश्चित करने के बाद और खरीददारी के वक़्त उनका ध्यान रखते हुए, आप अपने खर्चे संभाल सकते हैं जब भी वह बढ़ते जाए | आपको ज्यादा त्याग करने की भी ज़रूरत नहीं होगी ,दरअसल, आपने जैसा सोचा उससे बेहतर जीन्स पा सकते हैं ,एक कपडा न खरीदकर भी |


६) नकद और क्रेडिट कार्ड का समझदारी से इस्तेमाल कीजिये 

हालांकि लापरवाही या बल्कि बेफिक्र , क्रेडिट कार्ड के उपयोग से आपको अनचाहे खर्चे करने पद सकते हैं ;वे बहुत सारे लाभ भी देते हैं | बहुत से क्रेडिट कार्ड्स खरीददारी के वॉचर्स को जुड़ने के सुविधाओं जैसे ,और बाकी कैशबैक और रिवॉर्ड पॉइंट की तरह देते हैं | हर बार जब आप कार्ड स्वाइप करते हैं तो आप रिवॉर्ड पॉइंट पाते हैं ,जिसे आप बाद में रिडीम कर सकते हैं | दरअसल, क्रेडिट कार्ड में संचित रिवॉर्ड पॉइंट खरीददारी के वाउचर के लिए भी रिडीम किया जा सकता है | परन्तु अगर आपको अपने कार्ड के उपयोग को ट्रैक करने में असुविधा होती है , तो 'सिर्फ नकद' वाली दृष्टिकोण आपको हद से ज्यादा खर्च से बचा सकती है |

७) जल्द बचत की शुरुआत करे 

आखिर में, एक आखिरी सुझाव जो आपको अगले साल एक बेहतर खरीददारी का अनुभव दे सकता है वह है जल्दी बचत करना , त्योहारों के मौसम से भी  पहले | हर महीने दो हज़ार रुपये भी आप यदि अलग रखेंगे तो साल के अंत में आपके पास खरीददारी के लिए अच्छी  राशि जमा हो जाएगी |

सन्दर्भ:

इस क्रम दर गाइड के उपयोग से आप एक पुरे चक्र को समझ गए हैं , शुरुआत हुई खरीददारी के लिए पैसे की बचत से जो भुगतान करने तक करनी होगी| हम आशा करते हैं की यह गाइड आपको इस त्योहारों के मौसम वो सब खरीदने की मदद करे जो आपका मन चाहता है - बिना अपने बजट की सीमा पार किये |

संबंधित लेख