कैसे महिला उद्यमी कोविड-19 संकट को एक अवसर के रूप में देख सकती हैं

किसी भी संकट का सामना करने में लगातार आगे बढ़ते रहना ही सभी उद्यमियों के लिए मंत्र होना चाहिए, और कोविड-19 कुछ अलग नहीं है ।

कैसे महिला उद्यमी कोविड-19 संकट को एक अवसर के रूप में देख सकती हैं

कोविड-19 महामारी ने सभी आंखों पर पट्टी बाँध दी थी, लेकिन अब यह समय है कि सब सदमे और हताशा से बाहर आ जाएं और अपने व्यापार को वापस शुरू करें। इस तरह के संकटों का सामना करना एक उद्यमी के जीवन का एक हिस्सा है, इसलिए यदि आप एक सफल उद्यमी बनना चाहते हैं तो आपको उनसे अच्छे से निपटना आना आवश्यक है।

एक महिला उद्यमी के रूप में, आपको संकट के समय में अत्यधिक सतर्क, लचीला, और अनुकूलनीय बन पाने का लाभ है। आप ने पहले से ही वास्तविकता को स्वीकार कर लिया होगा कि यह कैसा है और वापस चीज़ें पटरी पर लाने के तरीके ढूंढ रही होंगी । यहां कुछ चीजें बताई गई हैं जिन्हे आप कोविड -19 संकट को एक अवसर में बदलने के लिए आज़मा सकते हैं ।

1. संकट प्रबंधन के लिए एक टीम का गठन करें

कोविड-19 सहित किसी भी संकट को संभाल पाना, बहुत अधिक प्रबंधनीय और प्रभावी हो जाता है जब आपके पास एक समर्पित संकट प्रबंधन टीम होती है। इसमें विभिन्न विभागों के प्रमुख या प्रबंधक, और कोई भी अन्य प्रमुख कर्मचारी शामिल होने चाहिए । जब आपके पास प्रत्येक विभाग से एक प्रतिनिधि होता है जैसे कि लेखांकन, विपणन, बिक्री, मानव संसाधन, आदि,तो आपको उन विभागों से सम्बंधित मुद्दों का त्वरित और वास्तविक परिप्रेक्ष्य मिलता है जिनका प्रत्येक विभाग सामना कर रहा है और प्रत्येक की चिंताएं सामने आती हैं।

प्रतिनिधियों की आपकी टीम आपको समाधान सुझाएगी और अपने संबंधित विभागों को इसे समझाने में मदद भी करेगी। इस समूह के सदस्य ऐसे व्यक्ति नहीं होने चाहिए जो आसानी से उत्तेजित हो जाएं बल्कि ऐसे हो जो बड़ी समस्या को सुलझाने में कौशल होने के साथ शांत विचारक हों ।

2. अल्पावधि के लिए योजना

एक दीर्घकालिक योजना होने सामान्य परिस्थितियों में विवेकपूर्ण बात है, लेकिन जब कोविड -19 जैसा संकट सामने हो, तो आप उस समय ऐसी योजना छोड़ देनी चाहिए । बहुत सरे महिला उद्यमी एक नई दीर्घकालिक योजना के साथ आने की गलती करते हैं, लेकिन इसका अंत बुरी तरह से खत्म हो रहा है । क्यों? क्योंकि संकट में परिस्थितियां तेजी से बदलती हैं और दीर्घकालिक योजना की तरफ किया गया कोई भी प्रयास असहायक साबित होगा ।

इसके बजाय,आपके रास्ते में जो भी उलझन आये उससे निपटने के लिए आपको लचीला और सतर्क होना चाहिए । आख़िरकार, जब दुनिया संकट में होती है ,तो प्रत्येक नया दिन कुछ नया लेकर आता है। ऐसी स्थिति में उम्मीद की एक किरण देखना कुछ ऐसा नहीं है जो बहुत से लोग कर सकते हैं, लेकिन अगर आप कोशिश करेंगे, तो आपको कुछ ऐसे अवसर मिल जाएंगे जिन्हें आप संकट के समय में भी बेहतरीन बना सकते हैं ।

3. अपने व्यवसाय को ऑनलाइन शिफ्ट करें

यह कुछ ऐसा है जो आपको दो प्लेटफार्म पर करना चाहिए । यदि आपका क्रेता से विक्रेता या क्रेता से उपभोक्ता की श्रृंखला का व्यवसाय हैं, लेकिन आप अभी भी इसे सक्रिय ऑनलाइन उपस्थिति (जैसे वेबसाइट और सोशल मीडिया खाते) नहीं दे पाएं हैं, तो यह आपकी ऑनलाइन उपस्थिति बनाने का सही समय है। यह आपकी बिक्री को गति हासिल करने में मदद करेगा। आज, ऑनलाइन शॉपिंग ही सही रास्ता है - न केवल कोविड-19 के कारण या उसके दौरान, बल्कि अन्यथा भी।

दूसरी बात जो करनी चाहिए वह यह है कि सभी हितधारकों के साथ ऑनलाइन बैठक के तरीके को अपनाएं । आपको अपने ग्राहकों, विक्रेताओं आदि के साथ ऑनलाइन बैठकों को कामचलाऊ समाधान के रूप में नहीं देखना चाहिए। यहां तक कि जब चीजें सामान्य हो जाएं, तो आप इस ऑनलाइन तरीके से काम करना जारी रख सकते हैं। अभी सबसे अच्छा समय है, प्रक्रियाओं को शुरू करके अपने कर्मचारियों को प्रशिक्षण द्वारा इसकी आदत डालने का ।

4. एक आकस्मिक निधि का निर्माण

एमएसएमई की बहुत सी दुकानें बंद हो गई है क्योंकि उनके पास लॉकडाउन के तीन महीने भी निकालने के लिए पर्याप्त नकदी नहीं था । कोविड-19 संकट पूरी दुनिया के लिए एक आंख खोलने वाला समय रहा है, लेकिन व्यवसायों के लिए सबसे ज्यादा । एक आकस्मिक निधि होना जो आसानी से तरल हो, इस समय की ज़रूरत है। वर्तमान अनिश्चितता को देखते हुए, कोई भी भविष्यवाणी नहीं कर सकता है कि अगले कुछ महीनें (या यहां तक कि साल) कैसे निकलेंगे ।

आपके X महीनों के लिए अपना व्यवसाय चलाने और Y महीनों के लिए आपात स्थिति को संभालने के लिए आवश्यक धन की राशि के बराबर की राशि आपकी आकस्मिक निधि होनी चाहिए। महीनों की संख्या कुछ ऐसा है जो आपको अपने लेखांकन और वित्त टीम के साथ तय करना होगा। इसके अलावा, शेयर बाजार में निवेश करने के लिए अपने आकस्मिक निधि का उपयोग करने से दूर रहे, भले ही यह आपको कितना ही आकर्षक लगे क्यूंकि वर्तमान में बाजार बहुत अस्थिर है।

5. ईमानदारी से बातचीत करें

कोविड -19 जैसे संकट के दौरान, हर कोई डरा हुआ और अनिश्चित महसूस कर रहा है । आपके संगठन के भीतर, आपके कर्मचारियों को वेतन में कटौती और नौकरी के नुकसान का डर हो सकता है, इसलिए यह आवश्यक है कि आप उन्हें समय समय पर सूचित करने के लिए सुसंगत और पारदर्शी संचार का उपयोग करें कि आपकी वित्तीय और परिचालन स्थिति कैसी है। जब आप ऐसा करते हैं, तो यह संदेश भी देना महत्वपूर्ण है कि स्थिति अभी ज़रूर अस्थिर है, लेकिन आपकी प्राथमिकताएं स्पष्ट हैं ।

बाहरी रूप से, अपने विक्रेताओं के साथ संवाद करना कि आप उन्हें कैसे भुगतान करने की योजना बना रहे हैं और बदले में उनके समर्थन और समझ की मांग कर रहे हैं, वह वार्तालाप है जिसे आपको शुरू करना चाहिए। अपने सभी हितधारकों के साथ ईमानदारी से संवाद करने से हर किसी को स्पष्टता मिलेगी, और आपके व्यवसाय को सुचारू रूप से काम जारी रखने में मदद मिलेगी।

उपरोक्त सभी के अलावा, एक नेता के रूप में आपके लिए एक शांत और सकारात्मक मानसिकता बनाए रखना महत्वपूर्ण है। जब आपका नेतृत्व आत्मविश्वास से भरपूर और स्पष्ट होगा, तभी यह आपके संगठन के बाकी हिस्सों पर प्रतिबिंबित हो सकता है । यदि आप लड़खड़ाते हैं, तो अन्य लोग पूरी तरह से आशा खो देंगे - और यह आपके व्यवसाय के लिए अच्छा नहीं होगा ।




संबंधित लेख