क्रूड ऑयल स्टॉक्स: क्या यह एक अच्छा निवेश है?

ऑयाल स्टॉक्स में निवेश करना बेहद लाभकारी हो सकता है यदि आप सही आधारभूत जानकारी लेते हैं और कच्चे तेल की कीमतों पर ध्यान रखते हैं।

क्रूड ऑयल स्टॉक्स: क्या यह एक अच्छा निवेश है?

यह कहना उचित होगा कि दुनिया कच्चे तेल और इसके डेरिवेटिव्स पर चलती है। परिणामस्वरूप, इन उत्पादों को हर दिन दुनिया भर में भारी रूप से खरीदा और बेचा जाता है। तेल उत्पादक कंपनियों और वैश्विक मांग के बीच, मांग और आपूर्ति के डायनेमिक्स कच्चे तेल की कीमत को प्रतिदिन प्रभावित करते हैं।

एक निवेश के रूप में, क्रूड ऑयल और ऑयल स्टॉक्स किसी व्यक्ति के निवेश पोर्टफोलियो में एक अलग आयाम जोड़ते हैं। कमोडिटी मार्केट के सभी लोकप्रिय ट्रेडेड आयटमों (महंगी मेटल, बेस मेटल, कृषि उत्पाद इत्यादि) में से कच्चा तेल का एक इम्पोर्ट के रूप में एक अनोखा महत्व है, और इसलिए इसकी कीमत के उतार-चढ़ाव का भी एक महत्व है। ज्यादातर क्रूड ऑयल स्टॉक्स अपने तेल की कीमत की संवेदनशीलता के लिए जाने जाते हैं।

ऑयल स्टॉक्स में निवेश क्यों करें?

  • उच्च लाभकारिता: मांग कम होने के बावजूद, जिससे कीमत अचानक कम हो जाती है, ऑयल स्टॉक में परंपरागत रूप से अच्छा फायदा होता है। हालांकि, एक बार तेल का पता लग जाने पर, ड्रिलिंग, ट्रान्सपोर्टिंग, रिफाइनिंग, स्टोरिंग और डिस्ट्रिब्यूटिंग सभी लागतें निश्चित होती है। यदि तेल की कीमतें इन लागतों से ऊपर बनी रहती हैं, तो तेल कंपनियों को फायदा होता है।
  • विभिन्न उद्योग सेगमेंट्स: तेल उद्योग के अंदर, आप स्टॉक्स का वह प्रकार चुन सकते हैं जिसके साथ आप सबसे अधिक सहज महसूस करते हैं। इसमें अपस्ट्रीम के स्टॉक्स या ऐक्सप्लोरेशन कंपनियां शामिल हैं जो तेल की कीमत के उतार-चढ़ाव के लिए संवेदनशील होते हैं। मिडस्ट्रीम कंपनियां निश्चिर दरों और अनुबंधों पर चलती हैं, इसलिए वे बदलावों से भारी रूप से बचे रहते हैं। डाउनस्ट्रीम कंपनियां रिफाइन करती हैं और उत्पाद को बाजार में भेजती हैं, और रिफाइनिंग पार्ट पर निश्चित आमदनी होती है। वे तेल की कीमतों से प्रभावित होते हैं, लेकिन बहुत कम।  
  • मांग: तेल के उत्पादों की आपूर्ति और मांग पर कभी भी कोई शक नहीं होता, बस केवल अस्थायी मंदी को छोड़कर। जब तक जीवाष्म इंधनों पर निर्भरता बनी रहेगी, सभी देश लगातार तेल खरीदते रहेंगे। 

इससे जुड़ी बातें: मिड-कैप स्टॉक्स से जुड़े जोखिम को समझना

क्रूड ऑयल स्टॉक्स में निवेश करने में कौन-कौन से जोखिम हैं?

  • कीमत में परिवर्तनशीलता: अनेक कारकों के प्रति रिऐक्शन के रूप में तेल की कीमत बदलती रहती है। निवेशकों के लिए बिजनेस साइकल में होने वाले परिवर्तनोंऔर तेल की कीमतों को प्रभावित करने वाले मैक्रोइकोनॉमिकल कारकों का पता लगाना कठिन हो सकता है।
  • डूबी हुई लागत: यद्यपि तकनीकी से तेल कंपनियों को उपयोगी जानकारी मिलती है लेकिन तेल का निष्कर्षण अंधेरे में एक शॉट की तरह है। फिर भी, पूंजी-प्रबल निष्कर्षण के अंत में एक सूखा होल करने से ऐसे नुकसान हो सकते हैं जिसका असर स्टॉक की कीमत में दिखाई पड़ता है। 

इससे जुड़ी बातें: क्या भारत के लिए सब्सिडी अच्छा है या बुरा?

क्रूड ऑयल स्टॉक में निवेश करने के लिए सुझाव 

जब आप यह जान लें कि क्रूड ऑयल स्टॉक कैसे खरीदना है, तो आपको ऐसे कारणों पर ध्यान देना है जिनसे तेल की कीमत में उतार-चढ़ाव आ सकता है। उत्पादन की चुनौतियों से तेल की कीमतें प्रभावित हो सकती हैं, क्योंकि तेल की मांग थम सकती है जैसा कि महामारी के दौरान हुआ है। प्राइस-टु-बुक अनुपात पर नजर रखने से भी यह पता चलेगा कि ऑयल स्टॉक की कीमत कम है या अधिक। 

अपने निवेश निर्णयों में मदद पाने के लिए आपको इंडस्ट्री डेवलपमेंट्स (जैसे मर्जर) पर भी नजर रखनी चाहिए। जैसा कि पहले बताया गया है, जोखिम ऐक्सपोजर अलग-अलग प्रकार की तेल कंपनियों के लिए अलग-अलग होता है। इसलिए, अपने निवेश को अलग-अलग प्रकार की तेल कंपनियों में लगाएं। जोखिम को कम करने के लिए ऑयल स्टॉक निवेशकों द्वारा फ्यूचर ट्रेड (वायदा व्यापार) भी आजमाया जाता है।

क्रूड ऑयल और ऑयल-संबंधित स्टॉक्स भारी रूप से फायदेमंद हो सकता है और आपके निवेश पोर्टफोलियो की एक शानदार विविधता हो सकती है। कीमतें कम होने की स्थिति में ऑयल स्टॉक में निवेश करके, आप कीमत बढ़ने का लाभ ले सकते हैं। समझें कि स्टॉक एसआईपी क्या हैं

अस्वीकृति: यह आलेख केवल सामान्य जानकारी के उद्देश्य से है और इसे किसी निवेश या कानूनी सलाह के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए। इन क्षेत्रों में कोई निर्णय लेने से पहले आपको अलग से स्वतंत्र सलाह लेनी चाहिए। 




संबंधित लेख