क्या आपके पास स्थिर आय नहीं है? यहां आपके लिए निवेश की युक्तियाँ दी गई हैं

यहां आपके निवेश की योजना बनाने और आपके वर्तमान और भविष्य को सुरक्षित रखने में मदद करने के लिए एक त्वरित मार्गदर्शिका है।

क्या आपके पास स्थिर आय नहीं है? यहां आपके लिए निवेश की युक्तियाँ दी गई हैं

रोजाना लाखों भारतीय महिलाएं रोजी-रोटी कमाने के लिए संघर्ष करती हैं, अपने प्रियजनों के लिए मेज पर खाना परोसती हैं और वित्तीय आजादी के करीब एक कदम बढ़ाती हैं। संस्थागत चाइल्डकैअर विकल्पों की कमी के साथ-साथ लैंगिक समानता की कमी, अपर्याप्त पारिवारिक सहायता और कम-लचीली कार्य व्यवस्था , कई महिलाओं को अनौपचारिक क्षेत्र में अंशकालिक या फ्रीलांस काम के विकल्प चुनने के लिए मजबूर करती है।

भले ही इस तरह के रोजगार के अवसर बहुत जरुरी वित्तीय राहत देते हों, लेकिन उनकी अप्रत्याशित प्रकृति महिलाओं को केवल तात्कालिक दायित्वों पर ध्यान केंद्रित करने के लिए मजबूर करती है - जिसमें वित्तीय लक्ष्यों के लिए निवेश और योजना के लिए कुछ भी नहीं बचता है। यह एक दुष्चक्र हो सकता है। यदि आप के साथ भी ऐसा है, तो वित्तीय लहर को अपने पक्ष में मोड़ने में मदद करने के लिए यहां एक त्वरित मार्गदर्शिका है।

1. एक नक्शा तैयार करें

पहला कदम विभिन्न वित्तीय पड़ावों को चिन्हित करना है जिन्हें आप प्राप्त करना चाहते हैं। आप अपने अगले जन्मदिन से पहले एक अच्छा आभूषण खरीदना चाहते होंगे, एक या दो साल बाद एक नई कार या अपने घर के लिए डाउन-पेमेंट करना चाहते होंगे । एक निर्धारित लक्ष्य होने से बचत और निवेश बहुत अधिक रोमांचक हो जाता है।

अपने लक्ष्यों को निकट-अवधि, मध्यम-अवधि, और दीर्घकालिक के रूप में वर्गीकृत करें, और महत्व के आधार पर उनकी प्राथमिकता तय करें। निवेश के ऐसे रास्ते चुनें जो किसी विशेष लक्ष्य के लिए सबसे अच्छा काम करेंगे।

उदाहरण के लिए, यदि आप सोने के आभूषण खरीदना चाहते हैं, तो गोल्ड एक्सचेंज ट्रेडेड फंड (ई.टी.एफ.) में आवधिक निवेश करने पर विचार करें। इस तरह, आप बहुत कम, सस्ती किस्तों में सोना खरीद सकते हैं और जब आप अपने आभूषणों को प्राप्त करना चाहें तो दर में उतार-चढ़ाव के बारे में चिंता किए बिना ,इसकी डिलीवरी ले सकते हैं।

2. अपने स्वास्थ्य को सुरक्षित रखें

यदि आपके पास पहले से स्वास्थ्य बीमा योजना नहीं है, तो यह आपकी सर्वोच्च प्राथमिकता होनी चाहिए। आपकी वर्तमान और भविष्य की कमाई की क्षमता ,आपके अच्छे स्वास्थ्य पर निर्भर करती है। अपने और अपने आश्रितों के लिए स्वास्थ्य बीमा नहीं होने से आपकी सारी बचत खत्म हो सकती है और आप कर्ज में डूब सकते हैं। अज्ञात स्वास्थ्य जोखिमों और वित्तीय देयता के खिलाफ स्वयं को सुरक्षित करने के लिए, एक स्वास्थ्य बीमा बेहद ज़रूरी है|

3. कुकी जार का दृष्टिकोण अपनाएं

जैसे छोटी बूंदें एक महासागर बनाती हैं, वैसे ही आपके द्वारा बचाया गया प्रत्येक रुपया आपको आपके वित्तीय लक्ष्यों के बहुत करीब ले जाएगा। पैसे की बचत और निवेश आपस में जुड़े हुए होते हैं। निवेश करने से पहले आपको बचत करने की आवश्यकता होती है। निवेश शुरू करने से पहले बड़ी धनराशि की प्रतीक्षा करना एक निरर्थक अभ्यास है - और तो और , आप निवेश यात्रा शुरू करने के अवसर से चूक जाएंगे ।

इसलिए, अपनी आवश्यकताओं के लिए बजट बनाएं और गैर-आवश्यक व्यय में कटौती करें। निवेश का पूर्वानुमान लगाने से आपको पैसे के बारे में कम तनाव होगा। स्वास्थ्य बीमा को प्राथमिकता दें। इसी तरह,यदि आप स्वयं को ऐसे परिदृश्य में पाते हैं जहाँ आपके पास अधिक धनराशि हो, तो अपने व्यय को लेकर अनुशासित रहें। हर बार जब आपके पास नकदी होती है, तो इसे अपने भविष्य के लिए भुगतान के रूप में निवेश करने जैसा सोचें।

4 .इसे सुरक्षित तरीके से उपयोग करें

ब्याज-वहन करने वाले निवेश किये जाने चाहिए | भले ही सुनने में यह मोहक लग सकता है,फिर भी आप बाजार से जुड़े निवेशों में पूंजी समाप्ति के जोखिम नहीं उठाना चाहते होंगे। लघु से मध्यम अवधि के लक्ष्यों के लिए, बैंक डिपॉज़िट में निवेश करें। ब्याज यथोचित आकर्षक है और निवेश बेहद तरल है, इसलिए आप जरूरत पड़ने पर पैसे निकाल सकते हैं।

फिक्स्ड डिपॉज़िट करने के लिए पर्याप्त धन नहीं है? अंतरिम अवधि के लिए अपने फंड को लिक्विड फंड में डाल दें। निवेश सुरक्षित है और आपके बैंक खाते में धनराशि को ऐसे ही छोड़ने की तुलना में बेहतर रिटर्न प्रदान करता है।

इसी तरह, अगर आप रिटायरमेंट के लिए बचत करना चाहते हैं, तो पब्लिक प्रॉविडेंट फंड (पी.पी.एफ.) की ओर मासिक राशि डालें। पी.पी.एफ. एक सर्वश्रेष्ठ गारंटी देताहै और आपको कंपाउंडिंग की शक्ति से लाभ उठाने की अनुमति देता है। 10-15 साल की अवधि में, आपकी छोटी बचत एक पर्याप्त सेवानिवृत्ति कोष में बदल सकती है।

नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट (एन.एस.सी.) और किसान विकास पत्र (के.वी.पी.) दीर्घकालिक लक्ष्यों को पूरा करने के लिए अन्य आकर्षक विकल्प हैं,जैसे घर पर डाउन पेमेंट के लिए बचत करना या अपने बच्चे की शिक्षा के लिए भुगतान करना। गारंटीकृत रिटर्न के साथ पूरी तरह सुरक्षित होने के साथ-साथ पी.पी.एफ., एन.एस.सी. और के.वी.पी. आयकर अधिनियम की धारा 80 सी के तहत कर लाभ भी प्रदान करते हैं।

आखिरी पंक्तियाँ

महिला निवेशकों के लिए निवेश के कई रास्ते उपलब्ध हैं, लेकिन उन विकल्पों को चुनना जरूरी है जो आपके लक्ष्यों और आपकी जेब के अनुकूल हों। लंबी अवधि के बचत लक्ष्यों के लिए , अपनी सेवानिवृत्ति और आपात स्थितियों के लिए नकद रिजर्व बनाने के बीच एक अच्छा संतुलन बनाने का लक्ष्य रखें। महिलाओं के लिए सरकार द्वारा प्रायोजित विशेष निवेश योजनाओं पर नजर रखें।

सबसे महत्वपूर्ण बात, आज ही शुरू करें। जैसे-जैसे आपके कार्यों से आपकी आदत बनती जाती है, वैसे-वैसे चीजें आसान होती जाएंगी और आप स्वयं भविष्य में अपने आपको अपनी दूरदृष्टि के लिए सराहेंगे|

 

COVID-19

Most Shared