क्या आपको घर बेचने से पहले उसकी मरम्मत पर पैसे खर्च करने से फायदा है?

क्या मरम्मत के लिए पैसे और समय को खर्च करने का कोई फायदा है या आपको वर्तमान स्थिति में ही आपके घर को बेच देना चाहिए? यह अक्सर विक्रेता के लिए एक चर्चा का विषय होता है |

क्या आपको घर बेचने से पहले उसकी मरम्मत पर पैसे खर्च करने से फायदा है?

हालांकि बिना मरम्मत करवाए अपने घर को बेचना सुविधाजनक लगता होगा ,पर इससे उसका मूल्य कम हो सकता है| एक सुव्यवस्थित घर ,संभावित खरीददारों को हमेशा ज्यादा आकर्षक लग सकता है| इसलिए, यदि बिक्री करने वाली संपत्ति में कुछ बड़ी मरम्मत की ज़रूरत है तो आपको इसे बाजार में पेश करने से पहले ,इसकी कुछ मरम्मत करवानी चाहिए |

हालांकि, सभी प्रकार के घर के सुधार करने से ज़रूरी नहीं है कि आपकी संपत्ति का मूल्य बढ़ जाये | आगे बढ़ने से पहले, प्रतियोगिता के बारे में अनुमान लगाने हेतु आस-पड़ोस के बिक्री करने वाले घरों पर नज़र डालें | जिन सुधारों को आपको प्राथमिकता देनी है,उसका आंकलन करने के लिए घर के सभी हिस्सों का मुआयना करें और उन हिस्सों को पहचाने जिसके सुधार से मूल्य में सबसे ज्यादा वृद्धि होगी |

तो आप कैसे निणर्य लेंगे कि मरम्मत कराने का फायदा है या नहीं ? इसे जानने के लिए आगे पढ़ें |

आर.ओ.आई. को ध्यान में रखें

इससे पहले कि आप आगे बढ़ें और कोई दीवार तोड़ दें या कोई बड़ा बदलाव करें ,उसकी मरम्मत के खर्चे को संपत्ति के मूल्य में होने वाली वृद्धि से तुलना करें | यदि मरम्मत से उसके मार्केट मूल्य में सुधार नहीं होता है तो वह आर्थिक रूप से व्यवहार्य नहीं है और आप इसके बिना भी काम चला सकते हैं | इस स्थिति में एक स्थानीय अचल संपत्ति के दलाल आपको मरम्मत करवाने के फायदों एवं नुकसानों के बारे में आंकलन करने में मदद कर सकते हैं |

कब घर की मरम्मत करवाने से फायदा होता है ?

  • प्रमुख संरचनात्मक परिवर्तन: कई खरीददारों को ऐसा घर चाहिए हो सकता है जो रहने लायक हो | चलिए मानते हैं कि आपके घर में बहुत काम करवाने की ज़रूरत है -जैसे छत से पानी टपकना या खराब तारो को ठीक करवाना | इन सबमे 5 लाख रुपये तक का खर्च लग सकता है, परन्तु एक संभावित खरीददार को लग सकता है कि मरम्मत के खर्च बहुत ज्यादा होंगे और इसलिए वह आपके घर को छोड़ सकता है |यदि किसी खरीददार को लगे कि उन्हें बड़ी मरम्मत करवानी होगी और उनके पास फ़िक्र करने के लिए डाउन-पेमेंट का तनाव भी है तो वो अतिरिक्त परेशानी में नहीं पड़ेंगे | जब तक कि आप कीमत को कम करना नहीं चाहते , आपको कम से कम प्रमुख समस्याओं को सुलझा के देना होगा |
  • सूक्ष्म परिवर्तन: कभी कभी आपको अपने घर को बेहतरीन स्थिति में लाने के लिए,केवल कुछ जगहों पर सस्ती मरम्मत में खर्च करने की ज़रूरत होती है | यदि संभावित खरीददार को छोटी सी दरार या दाग भी दिखता है तो उन्हें लग सकता है कि और भी कुछ उपेक्षित हो सकता है | इसलिए हर वो चीज़ जो ख़राब है या टूट गया है,उसकी एक सूची बनाइये | छोटे-मोटे सुधार पर ध्यान दीजिये जैसे कि प्लास्टर में आयी दरार को भरने पर, पेंट की नयी परत लगवाना या फूटी खिड़की को सुधरवाना ताकि ज्यादा खरीददार इससे आकर्षित हो |

कब घर की मरम्मत करवाने का कोई फायदा नहीं होता है ?

  • रंग-ढंग में बदलाव- आप और आपके संभावित खरीददार की पसंद और कलापक्ष भिन्न हो सकते हैं | फर्निशिंग और किचन को पूरी तरह से बदल देना,एक अच्छा विचार लग सकता है परन्तु मुमकिन है कि नया मालिक अपनी पसंद अनुसार सब फिर से बदलवाना चाहे| इसीलिए यही बेहतर होगा कि आप डिज़ाइन सम्बंधित सुधारों को खरीददार के पसंद पर छोड़ दें | फिर भी, कुछ रंग-ढंग में बदलाव ज़रूरी होते हैं | उदाहरण के लिए, फीके दीवारों को एक न्यूट्रल पेंट से ठीक करवाएं , टूटे फर्श को बदलें और किसी भी ध्यान भटकाने वाले तत्वों को दूर करें जैसे कि पर्दें या दीवार पर सजावट के सामान | इससे यह सुनिश्चित होगा कि संभावित खरीददार आपके घर की एहम विशेषताओं पर अच्छे से ध्यान दे पाएंगे |

अंतिम पंक्तियाँ

यदि अचल संपत्ति के बाजार में उछाल है ,तो केवल थोड़ी ही मरम्मत से आप खरीददारों को आकर्षित कर सकते हैं और अपने घर के लिए अच्छी कीमत पा सकते हैं | लेकिन एक घर जिसे बहुत मरम्मत की ज़रूरत हो,उसे अभी भी कम मूल्य ही मिलेगा | चाहे आप बिक्री के पहले मरम्मत कर रहे हो या नहीं, एक विश्वसनीय अचल संपत्ति दलाल आपको घर बेचने की प्रक्रिया को समझने में मदद करेगा | 

संबंधित लेख