TomorrowMakers

फर्स्ट लेडी, माँ, पत्नी, समाजसेवी - मिशेल ओबामा इन सभी को वास्तव में बेहद आसान बनती हैं। यहां देखें कैसे वह कैरियर को प्रबंधित करने और उसे बेहतर बनाने में आपकी मदद कर सकती हैं और आपको कुछ बातें सिखा सकती हैं।

Lessons for Michelle Obama that can help you excel at work

आप जानते हैं कि वे पूर्व प्रथम महिला और पूर्व अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा की पत्नी हैं। लेकिन आप उन्हें आत्मविश्वासी, दयालु और निडर महिला के रूप में भी खूब जानते हैं, जिन्होंने पति की छाया में चलने की बजाय दुनिया में अपनी खुद की छाप छोड़ी है।


 इसमें कोई संदेह नहीं कि वे आपको कुछ चीजें सिखा सकती हैं।
 
 इसलिए उनके जन्मदिन पर, हम मिशेल ओबामा की शिक्षाओं की चर्चा करें जो आपको काम में श्रेष्ठ बना सकती हैं।
 
 
 1. उन चर्चाओं की खुद रचना करें जो आप चाहते हैं कि दूसरे आपके बारे में करें।
 

"शुरू में चर्चा [मीडिया में] मेरे जूतों के बारे में थी। तब [मेरे बारे में] लिखे गए प्रत्येक लेख इसी से शुरू होते थे कि मैंने क्या पहना था," मिशेल कहते हुए जोड़ती हैं कि उनके पति ने आठ साल एक ही नीला सूट पहना और इसपर किसी ने ध्यान नहीं दिया।


आज जबकि उनकी ड्रेसिंग स्टाइल लोकप्रिय विषय बनी हुई है, लड़कियों को पढ़ाने और बच्चों में मोटापा से लड़ने के उनके विश्वव्यापी प्रयासों के बारे में भी मीडिया चर्चा करती है।


शिक्षा- मिशेल ओबामा ने अपने प्रबंधन से अपनी इच्छानुसार दूसरे लोगों का ध्यान अपने और अपने काम की ओर आकृष्ट किया। इसी प्रकार, आप यह निश्चित कर सकते हैं कि आपके सहकर्मी या अधिकारी आपके कौशल, कार्य-नीति, विचारों के पर ध्यान दें और उनकी चर्चा करें। आत्मविश्वासी बनिए, जो चीजें हैं उनके बारे में चर्चा कीजिए, अपने विचार रखिए और जब हों, तब अपनी शंकाएं/सवाल भी उठाइए।


2. बोलिए
 मिशेल कहती हैं- "मैं इसे स्वीकार करती हूँ : मैं औसत व्यक्ति के मुकाबले जोर से बोलती हूँ और अपने मन की कहने में मुझे कोई डर नहीं है। ये लक्षण मेरी चमड़ी के रंग से नहीं, बल्कि अपनी बुद्धिमता में दृढ़ विश्वास से आए हैं।"


मिशेल ओबामा ने डोनाल्ड ट्रम्प के अमरीकी राष्ट्रपति बनने, नस्लीय भेदभाव, कला की पढ़ाई, पोषण आदि लगभग सभी चीजों पर अपनी सोच और विचार रखे। सारे शोर-शराबे के बावजूद अपनी आवाज सुना जाना उन्होंने सुनिश्चित किया।

 शिक्षा- जहां योग्य व्यक्ति को ही श्रेय दिया जाता हो, ऐसे संगठन में काम करने जितना भाग्यशाली हम सब नहीं हैं। इसलिए कोई आपके काम पर ध्यान देगा, यह सोचकर बैठ जाने की बजाय आपके लिए जरूरी है कि बोलिए। यह सब हासिल करने में आपकी सहायता के लिए कुछ सलाह- अपने काम के प्रति गंभीर होना, चर्चाओं में भाग लेना और सफलता मिलने पर उसका आनंद उठाने में नहीं हिचकना।


3. वास्तविक बने

 मिशेल कहती हैं- "मैंने अपने जीवन में कभी किसी और जैसा होने की कोशिश नहीं की।" वे जोड़ती हैं- "आप कुछ नहीं कर सकते अगर आप खुद में नहीं हैं। यह सब आपकी विश्वसनीयता के ऊपर है। मैंने हमेशा अपनी वास्तविक आवाज सुनी है।"


पूर्व प्रथम महिला का यह जवाब, यह पूछे जाने पर था कि आज जो वे हैं, वह कैसे बनीं। शायद इसीलिए दुनिया उन्हें सच्चे व्यक्ति के रूप में देखती है।


शिक्षा- लोग हमेशा आपके आर पार देख सकते हैं। अगर आप किसी को वह दिखाने की कोशिश करते हैं जो आप नहीं हैं तो यह आपके आत्मसम्मान को घटाता है और दूसरों में भी आपके प्रति सम्मान को कम करता है। इसलिए डरें नहीं वास्तविक बनें। सच्चे बनिए और ईमानदार बनिए; अपने सर्वोत्तम रूप में रहिए, लोग इसके लिए आपका सम्मान करेंगे।


4. अपने आप को सकारामक रखें


मिशेल कहती हैं, "आपको कमतर आंकने वाले लोगों को अपने जीवन में घुसने मत दीजिए; अपने ज्ञान पर विश्वास कीजिए। उन लोगों को तलाशिए जो आपको बेहतर बना सकते हैं।"
 

मीडिया में कभी उनके बारे में नकारात्मक सामने आया तो मिशेल हमेशा इसका स्पष्टीकरण देकर रास्ते पर ले आईं। उन्होंने इसके बारे सोचकर कभी ऊर्जा नष्ट नहीं की।
 
शिक्षा- आपकी आलोचना करने वाले लोग आपकी तरक्की में सहायता करते हैं, जबकि सकारात्मक लोग, आपके बुरे दिनों में भी, इसे बनाए रखने के लिए आपको लगातार प्रेरणा देते हैं। ये पूर्व में आपके बारे में कही गई सभी बुरी चीजों पर नजर रखने में आपकी मदद करते हैं। इसलिए अपने कार्यस्थल पर अपने चारों तरफ सकारात्मक लोग रखिए। और जब आपको उनकी सकारात्मकता मिले तो इसमें से कुछ अच्छा उन्हें भी लौटाना मत भूलिए।
 
 5. खुद पर ध्यान दीजिए
 
 परिवार में महिलाओं की भूमिका और बच्चों की देखभाल के बारे में बोलते हुए मिशेल कहती हैं, "हमें अपने काम की सूची में अपने को ऊपर उठाने वाले बेहतर काम करने की जरूरत है।"
 
मिशेल बात करती हैं कि क्यों महिलाओं का अपने जीवन- अपने स्वास्थ्य, अपने वित्त और अपने कैरियर पर भी ध्यान देना महत्वपूर्ण है।
 
 शिक्षा- अगर आप कामकाजी मां हैं तो मिशेल ने क्या कहा, उसे समझना आपके लिए आसान होगा। घरेलू मोर्चे पर आई परेशानी से निबटते हुए आप काम के मोर्चे पर शायद कुछ चीजें टाल दें, लेकिन यह जरूरी है कि आप काम को प्राथमिकता दें। घरेलू जिम्मेदारियों को संभालने के लिए आपको सहायता की जरूरत हो सकती है, मगर देरी से आने, समय-सीमा भूलने या दोयम दर्जे का काम करने के लिए उन्हें बहाना मत बनने दीजिए। अपने स्वास्थ्य और वित्त पर ध्यान देने का समय बनाइए और कुछ समय 'खुद' के लिए भी रखिए। यह सब आपको शानदार प्रेरणास्रोत में बदल सकता है- केवल आपके परिवार के लिए ही नहीं, बल्कि समाज के लिए भी।
 
 निष्कर्ष


पति के अमरीकी राष्ट्रपति होने के बावजूद मिशेल ओबामा ने अपनी अलग पहचान बनाई- अद्वितीय पहचान जो उन्हें विभिन्न स्तरों पर लोगों से जोड़ती है। और यही उन्हें सही अर्थ में शक्तिशाली महिला बनाता है।

 

Related Article