अपनी नई कार के लिए ज़्यादा देर इंतज़ार करना पड़ रहा है? इससे निपटने का तरीका यहां दिया गया है

ज़्यादा देर इंतज़ार करने की वजह से नई कारों की डिलीवरी में असामान्य देरी हो रही है. आइए कारणों और इससे निपटने के कुछ तरीकों को देखें.

अपनी नई कार के लिए ज़्यादा देर इंतज़ार करना पड़ रहा है इससे निपटने का तरीका यहां दिया गया है

लगभग सभी लोकप्रिय मॉडलों, नए और मौजूदा दोनों, की नई कार पाने के लिए ज़्यादा देर इंतज़ार करने की अवधि में इज़ाफा ही हुआ है. जहाँ एक ओर नई कार लॉन्च का इंतज़ार लोगों को करना ही पड़ता था, अब हर कार के लिए इंतज़ार करना आज के दौर में आम बात हो गई है.

2020 की शुरुआत के बाद से जिस तरह से घटनाओं ने असामान्य मोड़ लिया है उसे कार डिलीवरी में देखी गई अधिकांश देरी के लिए ज़िम्मेदार ठहराया जा सकता है. कोई भी नई कार पाने के लिए ज़्यादा देर इंतज़ार करना कार खरीदार के लिए एक चिंताजनक समय हो सकता है और साथ ही इसका जेब पर भी असर पड़ सकता है.

2021 में कार के लिए इंतज़ार करने की अवधि

नई कारों की डिलीवरी में देरी के कुछ खास कारण हैं. अक्सर ऐसे नए कार मॉडलों के लिए देर तक इंतज़ार करना पड़ता है जिन्हें पाने के लिए कार खरीदारों के बीच अच्छा-ख़ासा उत्साह रहता है. लेकिन कुछ आम तौर पर उपलब्ध कार मॉडल मिलने में असामान्य देरी क्यों हो रही हैं? आइए कुछ वजहों पर एक नजर डालते हैं.

  • बढ़ती मांग: भारत एक विकासशील देश है, इसलिए कारों की मांग को बनाए रखते हुए, पहली बार कार खरीदने वाले नए लोग सामने आते रहेंगे. जैसे-जैसे वाहन कबाड़ नीति को लागू करना ज़ोर पकड़ता जा रहा है, मौजूदा कार मालिकों में भी नई कारों की मांग बढ़ेगी. पिछले साल लॉकडाउन की वजह से डिमांड घटी थी और बुकिंग में अचानक उछाल आने की उम्मीद थी. कोरोना संक्रमण का खतरा जारी रहने के साथ, परिवहन के निजी साधनों को प्राथमिकता दी जा रही है क्योंकि इसे एक सुरक्षित विकल्प के रूप में देखा जाता है. कई लोगों द्वारा सार्वजनिक परिवहन को संक्रमण के हॉटस्पॉट के रूप में माना जाता है, और जो लोग खरीदने की क्षमता रखते हैं वे निजी कारों और दोपहिया वाहनों पर स्विच कर रहे हैं. ऑटो लोन पर कम ब्याज दर ने भी लोगों को नई कार बुक करने के लिए प्रोत्साहित किया है.
  • कंपोनेंट्स की कमी: कार डिलीवरी में सेमीकंडक्टर्स के कम उत्पादन की वजह से भी गिरावट देखी गई है क्योंकि ऑटोमोबाइल उद्योग इसके लिए चीन और ताइवान पर निर्भर है. इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों की बढ़ती संख्या के साथ, सेमीकंडक्टर्स मॉडर्न कारों का एक महत्वपूर्ण हिस्सा हैं. स्पीड सेंसर से लेकर स्टीयरिंग एंगल, ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन से लेकर आरपीएम तक, सेमी-कंडक्टर कई कार फंक्शन के लिए महत्वपूर्ण हैं. बल्कि एबीएस, ईबीडी, हिल असिस्ट और एयरबैग डिप्लॉयमेंट फंक्शन जैसे फीचर्स भी सेमीकंडक्टर्स पर निर्भर हैं. 
  • उत्पादन में कमी: पिछले साल बहुत लंबी अवधि तक, ऑटोमोबाइल उत्पादन की क्षमता कम रही. पहले लॉकडाउन के दौरान यह पूरी तरह से बंद था. इस वजह से इसमें बैकलॉग बना है जिसे ठीक होने में कुछ समय लगेगा. इस बीच, जैसे-जैसे मांग बढ़ती है, वाहन निर्माता डिलीवरी को पूरा करने के लिए ओवरटाइम काम करने को मजबूर हैं. इसका नतीजा यह है कि ज़्यादा देर इंतज़ार करना पड़ रहा है.
  • सप्लाई चेन की मुश्किलें: फ़ैक्टरी से कार निकालना चुनौती का एक हिस्सा है, वहीं उसे डीलरों तक पहुँचाना दूसरी समस्या है. राज्यों के बीच आवाजाही भी अनिश्चित रही है, जिसके कारण कारों के आने में देरी हुई है. कच्चे माल को कारखानों तक पहुँचाने में भी इसी तरह की देरी का सामना करना पड़ा. 

इससे मिलती-जुलती बातें: रोड-टैक्स पर 25% छूट; नई कारों के पंजीकरण शुल्क में छूट: एक कार मालिक के रूप में आपके लिए नई वाहन कबाड़ नीति का क्या अर्थ है?

नई कार बुकिंग में देरी से निपटना

ज़्यादा देर इंतज़ार करने की अवधि से निपटने के दौरान आपको सबसे पहले जो करना होगा वह यह कि नियमित रूप से अपने डीलर और विक्रेता के संपर्क में रहें. वे आपको अपडेट कर सकते हैं कि क्या स्थिति है, और कारों के अगला बैच कब आएगा, ताकि आपको कार आने के समय का अंदाज़ा लग सके.

अगर यह आपकी पहली कार है, तो आपको इंतज़ार करने की पूरी अवधि में परिवहन के निजी साधन के बिना रहना पड़ेगा. हालांकि, अगर आपके पास कोई पुरानी कार है, तो इस देरी से निपटने का सबसे अच्छा तरीका यही है कि कार बुक करने के बाद भी मौजूदा कार का इस्तेमाल करें. कुछ कार मॉडलों को आने में 10 महीने तक का समय लगता है. ऐसे में आपकी पुरानी कार काम आ सकती है. 

पक्का करें कि आपकी कार की डिलीवरी में देरी से दाम बढ़ने या फाइनेंशियल घाटे जैसी समस्याएँ न आएँ. शायद आपको प्रति किलोमीटर ज़्यादा पेमेंट करना पड़ रहा हो, चाहे वह कैब लेने के माध्यम से हो या आपकी पुरानी ज़्यादा तेल खपत वाली कार हो. आपको इंतज़ार करने की वजह से पैसे का नुकसान न हो, इसलिए इन खर्चों को कम से कम करें. नई कार बुकिंग प्रक्रिया में, आपको यह सुनिश्चित करने के लिए बुकिंग दस्तावेजों को ध्यान से पढ़ना चाहिए कि कार की कीमत फिक्स्ड है और भविष्य में कीमतों में उतार-चढ़ाव के अधीन नहीं है. और आपको यह बताया जाए कि अप्रत्याशित कारणों से कीमत में वृद्धि हुई है.

इससे मिलती-जुलती बातें: कार इंश्योरेंस के बारे में वह सब कुछ जो आपको जानना आवश्यक है

अगर आप ऑनलाइन नई कार बुकिंग की योजना बना रहे हैं, तो आप अपने कार विकल्पों के लिए इंतज़ार करने की अवधि की जांच कर सकते हैं. जहाँ एक ओर महिंद्रा थार में एक वर्ष तक के सबसे ज़्यादा देर इंतज़ार करने की अवधि होती है, वहीं मारुति अर्टिगा, हुंडई क्रेटा और निसान मैग्नाइट के लिए 3-4 सप्ताह और 9-10 महीनों के बीच का इंतज़ार करना पड़ सकता है. मारुति स्विफ्ट जैसी आम कार के लिए भी पांच महीने तक इंतज़ार करना पड़ रहा है. वैसे कार चुनने के लिए इंतज़ार की अवधि कोई मानदंड नहीं है, लेकिन इंतज़ार की लंबी अवधि आपको अपनी पसंद पर पुनर्विचार करने के लिए मजबूर कर सकती है. 

*ऊपर बताई गई इंतज़ार की अवधि के सोर्स: financialexpress.com और timesofindia.indiatimes.com

भारत में यूज्ड कार के बढ़ते बाज़ार के साथ, यूज्ड कार चुनना एक अच्छा विकल्प है. अगर आपको कार की फौरन ज़रूरत है और आप किसी ख़ास नए लॉन्च का इंतज़ार नहीं कर रहे हैं, तो आप अच्छे सेकेंड-हैंड विकल्पों में से चुन सकते हैं. पुरानी कार के मालिक होने के कई फायदे हैं, कम से कम आपके पैसे तो बचते ही हैं. अगर आप किसी भरोसेमंद डीलर से खरीदते हैं, तो आपको पहले कुछ महीनों या एक साल के लिए वारंटी कार्ड भी मिलते हैं. 

इससे मिलती-जुलती बातें: अपनी अगली कार खरीदने से पहले न्यू-एज की कार की ये सुविधाएँ देख लें

और आखिर में

नई कार खरीदने का निर्णय अक्सर लाइफस्टाइल अपग्रेड करने की इच्छा से प्रेरित होता है. नई कारों में एडवांस्ड फीचर्स होते हैं, और कार खरीदार अक्सर उनमें से कुछ पर फ़िदा हो जाते हैं. हालांकि, विकल्प के तौर पर कोई कार मॉडल लेना खराब लग सकता है. अगर आप एक देर से डिलीवरी मिलने पर भी कार खरीदने के लिए तैयार हैं, तो कुछ समय के लिए अपने आने-जाने के लिए इंतज़ाम करके रखें, डीलर के साथ लगातार संपर्क करें, और इंतज़ार करने के लिए मानसिक रूप से तैयार रहें. अभी नई कार खरीदी है? यहाँ से जानें कि आपको आगे क्या करना है!

संबंधित लेख