अपरिवर्तनीय डिबेंचर्स: यहाँ हैं कुछ जानकारी जो हर निवेशक को मालुम होनी चाहिए

अनेको कारणों से अपरिवर्तनीय डिबेंचर्स एक अच्छा विकल्प साबित होता है| पर क्या यह आपके लिए उपयुक्त है?

Nonconvertible Debentures_Here's what all the investor should know about them

पूंजी बाजार बहुत ज्यादा चंचल हो सकते हैं| कई भारतियों को लगता है की पूंजी बाजार में निवेश करना एक लॉटरी के सामान है, और इसिलए कुछ भारतीय इक्विटी में निवेश करने में असुविधा महसूस करते हैं| इसके बजाय उन्हें निश्चित और स्थिर रिटर्न्स की सुरक्षा चाहिए होती है, जिसके कारण अपरिवर्तनीय डिबेंचर्स  बहुत से लोगो का आकर्षण खींच रहा है |

अपरिवर्तनीय डिबेंचर्स पर निवेश के मामले:

क्या ठीक रिटर्न्स, मध्यम जोखिम और आसान तरलता आपके लिए महत्वपूर्ण है ? अपरिवर्तनीय डिबेंचर्स आपके लिए उपयुक्त निवेश इंस्ट्रूमेंट है |

अपरिवर्तनीय डिबेंचर्स निश्चित आय ऋण इंस्ट्रूमेंट्स हैं जो कई बार कॉर्पोरेट्स द्वारा व्यावसायिक प्रयोजनों के लिए पैसे इक्कठे करने के लिए उपयोग में आते हैं| कम्पनिया ऐसे अपरिवर्तनीय डिबेंचर्स कुछ ही समय के लिए जारी करती है और निवेशकों को उसपे एक निश्चित ब्याज दर चुकाती है |

ब्याज दर : सामान्यतः  10 से 12  % 

ब्याज भुगतान : मासिक, त्रैमासिक, अर्धवार्षिक या वार्षिक|

सुरक्षित डिबेंचर्स : कॉलेटरल्स के साथ लिया गया |

असुरक्षित डिबेंचर्स : कॉलेटरल्स  के बिना लिया गया|

कर लगाना : अपरिवर्तनीय डिबेंचर्स से प्राप्त डिबेंचर्स,निवेशकों के कर सीमा में कर लगाने योग्यहैं|

अपरिवर्तनीय डिबेंचर्स की विशेषताएं :

भुगतान :

ज्यादातर अपरिवर्तनीय डिबेंचर्स वार्षिक या संचयी भुगतान करते हैं ,पर कुछ ऐसे भी हैं जो अर्ध-वार्षिक या मासिक भुगतान करते हैं| अगर, एक निवेशक स्वरुप, आप मैच्युरिटी तक एक अपरिवर्तनीय डिबेंचर् रखते हैं तो उससे अर्जित ब्याज आपके कुल आय पर जुड़ जाता है| हालांकि, आपको इस राशि पर अपने कर स्लैब अनुसार  कर पटना होगा | आप अपरिवर्तनीय डिबेंचर्स पर दो प्रकार से निवेश कर सकते हैं:

  • ऐसे बांड्स को सार्वजनिक जारी करने के दौरान | 
  • द्वित्यिक बाजार के माध्यम से|यह विकल्प संभव है क्यूंकि अपरिवर्तनीय डिबेंचर्स बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध है |

सुरक्षित या असुरक्षित : आप सुरक्षित या असुरक्षित अपरिवर्तनीय डिबेंचर्स में से अपनी पसंद अनुसार किसी का भी चयन कर सकते हैं |

  • सुरक्षित अपरिवर्तनीय डिबेंचर्स  संपत्ति का सहारा है ? यह काम आएगा यदि जारी करने वाली कंपनी निवेशकों के प्रति कर्तव्यों को पूरा करने में असमर्थ है|इस अवस्था में, कंपनी अपनी संपत्ति को बेच कर इसके निवेशकों का भुगतान करती है |
  • असुरक्षित अपरिवर्तनीय डिबेंचर्स  - संपत्ति का सहारा नहीं है? इसी कारण से वे सुरक्षित संपत्ति का सहारा है से ज्यादा कूपन दर (ब्याज दर ) देते हैं|

अपरिवर्तनीय डिबेंचर्स 'कॉल और पुट' विकल्प के साथ भी आता है | एक कंपनी जो कॉलएबल अपरिवर्तनीय डिबेंचर जारी करती है वो मैच्युरिटी के पूर्व उस बांड को रिडीम करवा सकती है| उदाहरणार्थ, एक कंपनी ऊँचे ब्याज दर में एक कॉलएबलबांड जारी कर सकती है | और जब ब्याज दर कम हो जाए तो कॉल विकल्प चुन सकती है |

एक पुट विकल्प इसके विपरीत काम करता है| एक निवेशक निश्चित राशि में अपने अपरिवर्तनीय डिबेंचर्स बेच सकता है यदि डिबेंचर्स जारी करने की बजाय ब्याज दर बढ़ जाए |

कैसे सही अपरिवर्तनीय डिबेंचर (एन.सी.डी) का चयन करें :

एक एन.सी.डी में निवेश करने के पहले ध्यान में रखे जाने वाले महत्वपूर्ण तथ्य| इनमें शामिल हैं :

  • क्रेडिट रेटिंग : एक एन.सी.डी में दिया गया कूपन दर  ( ब्याज दर ) आकर्षित करता होगा |परन्तु आपको क्रेडिट रेटिंग का भी ध्यान रखना चाहिए| यह एक इंस्ट्रूमेंट द्वारा उठाया गया क्रेडिट जोखिम का तृतीय पक्ष कामूल्यांकन है | जितनी कम रेटिंग होती है, एन.सी.डी उतनी ज्यादा ब्याज दर देता है | 
  • जारीकर्ता की विश्वसनीयता  : एन.सी.डी के जारीकर्ता की विश्वसनीयता और ट्रैक रिकॉर्ड जानना भी महत्वपूर्ण है |
  • फण्ड के मामलो के आगे लक्ष्य करें : जैसा की पहला वर्णन किया गया है की कंपनियां अपनी पूंजी को बढ़ने के मकसद से एन.सी.डी जारी करती है | परन्तु, आपका जानना जरुरी है की उन्हें अतिरिक्त फण्ड क्यों चाहिए | क्या यह विस्तार के लिए है या अपने ऋण चुकाने के लिए है?

एन.सी.डी में निवेश करने के फायदे एवं नुकसान:

फायदे:

  • एन.सी.डी एक निश्चित 'लॉक-इन' समय का होता है और स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध होता है |
  • यह ऋण इंस्ट्रूमेंट होने के बावजूद तरलता प्रदान करता है |
  • इसकी अवधि दो से बीस साल तक की होती है |यह आपके एन.सी.डी निवेशों को अन्य कई वित्तीय लक्ष्यों से जोड़ना संभव बनाते हैं |

नुकसान :

  • एन.सी.डी एक निश्चित जोखिम है |
  • और, एक जीवंत सेकेंडरी बाजार के अभाव इसके लिए हानिकारक है | आप एन.सी.डी को छूट के साथ बेचकर ही इसे ख़त्म करते हैं

इन्ही कारणों से इस तरह के इंस्ट्रूमेंट पर निवेश करने से पहले वित्तीय निवेशकों को सावधान रहना चाहिए | दरअसल, जोखिम स्तर जान्ने के बाद एन.सी.डी आपके कुल निवेश पोर्टफोलियो का 20% से ज्यादा नहीं होता है |

डिस्क्लेमर : यह लेख केवल सामान्य जानकारी हेतु दिया गया है और इसे निवेश या कानूनी सलाह के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए | आपको इन क्षेत्रो में सलाह के लिए एक स्वतंत्र सलाह लेनी चाहिए |

संबंधित लेख

Most Shared