Beneficial government schemes of 2023! : 2023 की लाभ देने वाली सरकारी स्कीमें !

अब राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र, वरिष्ठ नागरिक बचत योजना, सावधि जमा योजना, किसान विकास पत्र में जल्दी दुगुना हो जाएगा आपका पैसा।

Beneficial government schemes of 2023

Government schemes : जो निवेशक बाजार का जोखिम न उठाकर, अपनी पूंजी को सुरक्षित रखते हुए लाभ कमाना चाहते हैं, वे पोस्ट ऑफिस की छोटी बचत योजनाओं को बहुत पसंद करते हैं। अगर आप भी स्मारल सेविंग्स या छोटी बचत योजनाओं में यकीन रखने वाले लोगों को नए साल में पहले से ज्यादा लाभ होने वाला है। अब इन योजनाओं में कियी गया निवेश जल्दी दुगुना जाएगा। नए साल से राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (एनएससी), वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (एससीएसएस), सावधि जमा योजना (टीडी) और किसान विकास पत्र, (केवीपी), पर ब्याज की दर में वृद्धि की गई है। केवल पब्लिक प्रॉविडेंट फंड और सुकन्या सम़द्धि योजना में ब्याज की दर पहले के समान रहेगी।

ज्यादा फ़ायदा कराने वाली सरकारी स्कीमें

कुछ प्रमुख योजनाओं की ब्याज दरें नीचे दी गई हैं-

  1. राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (एनएससी) पर पहले के 6.8 प्रतिशत वार्षिक ब्याज की जगह अब 7.1 प्रतिशत वार्षिक ब्याज मिलेगा। इनमें किया गया निवेश 10.14 साल में दुगुना हो जाएगा।
    यह स्कीम 5 साल में मैच्योर होती है। निवेश की कोई अधिकतम सीमा नहीं है। इसमें न्यूनतम 1000 रुपए जमा कराए जा सकते हैं। 1.50 रुपए तक के निवेश पर राशि पर आयकर अधिनियम की धारा 80C के तहत कर लाभ भी मिलता है।

    यह भी पढ़ें: ७ वित्तीय नियम

  2. वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (एससीएसएस), पर पहले के 7.6 प्रतिशत वार्षिक ब्याज की जगह अब 8 प्रतिशत वार्षिक ब्याज मिलेगा। इनमें किया गया निवेश 9 साल में दुगुना हो जाएगा।

    यह स्कीम 5 साल में मैच्योर होती है। इसमें न्यूनतम 1000 रुपए जमा कराए जा सकते हैं। 1.50 रुपए तक के निवेश पर राशि पर आयकर अधिनियम की धारा 80C के तहत कर लाभ भी मिलता है। एक वर्ष में अर्जित 50,000 से अधिक के ब्याज पर टीडीएस लगेगा।
     
  3. सावधि योजना (टीडीपर पहले के 6.7 प्रतिशत वार्षिक ब्याज की जगह अब 7 प्रतिशत वार्षिक ब्याज मिलेगा। इनमें किया गया निवेश 10.28  साल में दुगुना हो जाएगा।

    यह स्कीम 5 साल में मैच्योर होती है। निवेश की कोई अधिकतम सीमा नहीं है। इसमें न्यूनतम 1000 रुपए जमा कराए जा सकते हैं। 1.50 रुपए तक के निवेश पर राशि पर आयकर अधिनियम की धारा 80C के तहत कर लाभ भी मिलता है। एक वर्ष में अर्जित 40,000 से अधिक के ब्याज पर टीडीएस लगेगा, वरिष्ठ नागरिकों के लिए यह सीमा 50,000 रुपए है।
     
  4. किसान विकास पत्र (केवीपीपर पहले के 7 प्रतिशत वार्षिक ब्याज की जगह अब 7.2 प्रतिशत वार्षिक ब्याज मिलेगा। इनमें किया गया निवेश 10 साल में दुगुना हो जाएगा। अधिकतम निवेश की कोई सीमा नहीं है। इसमें न्यूनतम 1000 रुपए जमा कराए जा सकते हैं। 
     
  5. आवर्ती जमा (आरडी) पर पहले के 5.8 प्रतिशत वार्षिक ब्याज की जगह अब 7प्रतिशत वार्षिक ब्याज मिलेगा। 5 साल तक हर महीने 5000 रुपए जमा करने पर कुल 359667 रुपए मिलेंगे। 

यदि आप भी सुरक्षित निवेश विकल्प की तलाश में हैं तो इन योजनाओं पर विचार कर सकते हैं।

यह भी पढ़ेंमार्केट में निफ़्टी ५० से रिटर्न कैसे पाए?

Government schemes : जो निवेशक बाजार का जोखिम न उठाकर, अपनी पूंजी को सुरक्षित रखते हुए लाभ कमाना चाहते हैं, वे पोस्ट ऑफिस की छोटी बचत योजनाओं को बहुत पसंद करते हैं। अगर आप भी स्मारल सेविंग्स या छोटी बचत योजनाओं में यकीन रखने वाले लोगों को नए साल में पहले से ज्यादा लाभ होने वाला है। अब इन योजनाओं में कियी गया निवेश जल्दी दुगुना जाएगा। नए साल से राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (एनएससी), वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (एससीएसएस), सावधि जमा योजना (टीडी) और किसान विकास पत्र, (केवीपी), पर ब्याज की दर में वृद्धि की गई है। केवल पब्लिक प्रॉविडेंट फंड और सुकन्या सम़द्धि योजना में ब्याज की दर पहले के समान रहेगी।

ज्यादा फ़ायदा कराने वाली सरकारी स्कीमें

कुछ प्रमुख योजनाओं की ब्याज दरें नीचे दी गई हैं-

  1. राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (एनएससी) पर पहले के 6.8 प्रतिशत वार्षिक ब्याज की जगह अब 7.1 प्रतिशत वार्षिक ब्याज मिलेगा। इनमें किया गया निवेश 10.14 साल में दुगुना हो जाएगा।
    यह स्कीम 5 साल में मैच्योर होती है। निवेश की कोई अधिकतम सीमा नहीं है। इसमें न्यूनतम 1000 रुपए जमा कराए जा सकते हैं। 1.50 रुपए तक के निवेश पर राशि पर आयकर अधिनियम की धारा 80C के तहत कर लाभ भी मिलता है।

    यह भी पढ़ें: ७ वित्तीय नियम

  2. वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (एससीएसएस), पर पहले के 7.6 प्रतिशत वार्षिक ब्याज की जगह अब 8 प्रतिशत वार्षिक ब्याज मिलेगा। इनमें किया गया निवेश 9 साल में दुगुना हो जाएगा।

    यह स्कीम 5 साल में मैच्योर होती है। इसमें न्यूनतम 1000 रुपए जमा कराए जा सकते हैं। 1.50 रुपए तक के निवेश पर राशि पर आयकर अधिनियम की धारा 80C के तहत कर लाभ भी मिलता है। एक वर्ष में अर्जित 50,000 से अधिक के ब्याज पर टीडीएस लगेगा।
     
  3. सावधि योजना (टीडीपर पहले के 6.7 प्रतिशत वार्षिक ब्याज की जगह अब 7 प्रतिशत वार्षिक ब्याज मिलेगा। इनमें किया गया निवेश 10.28  साल में दुगुना हो जाएगा।

    यह स्कीम 5 साल में मैच्योर होती है। निवेश की कोई अधिकतम सीमा नहीं है। इसमें न्यूनतम 1000 रुपए जमा कराए जा सकते हैं। 1.50 रुपए तक के निवेश पर राशि पर आयकर अधिनियम की धारा 80C के तहत कर लाभ भी मिलता है। एक वर्ष में अर्जित 40,000 से अधिक के ब्याज पर टीडीएस लगेगा, वरिष्ठ नागरिकों के लिए यह सीमा 50,000 रुपए है।
     
  4. किसान विकास पत्र (केवीपीपर पहले के 7 प्रतिशत वार्षिक ब्याज की जगह अब 7.2 प्रतिशत वार्षिक ब्याज मिलेगा। इनमें किया गया निवेश 10 साल में दुगुना हो जाएगा। अधिकतम निवेश की कोई सीमा नहीं है। इसमें न्यूनतम 1000 रुपए जमा कराए जा सकते हैं। 
     
  5. आवर्ती जमा (आरडी) पर पहले के 5.8 प्रतिशत वार्षिक ब्याज की जगह अब 7प्रतिशत वार्षिक ब्याज मिलेगा। 5 साल तक हर महीने 5000 रुपए जमा करने पर कुल 359667 रुपए मिलेंगे। 

यदि आप भी सुरक्षित निवेश विकल्प की तलाश में हैं तो इन योजनाओं पर विचार कर सकते हैं।

यह भी पढ़ेंमार्केट में निफ़्टी ५० से रिटर्न कैसे पाए?

संवादपत्र

संबंधित लेख

Union Budget