RBI hike repo rate 25 basis point home and car loan costlier in hindi

महंगाई के मोर्चे पर फिलहाल जनता को कोई राहत नहीं मिलते दिख रही है। क्योंकि आरबीआई की तरफ से एक बार फिर रेपो रेट में इजाफा कर दिया गया है।

Repo Rate Hike

नई दिल्ली। बजट 2023 में महंगाई के मोर्चे पर जनतो को हल्की राहत मिली थी, क्योंकि सरकार की तरफ से नए टैक्स रिजीम में इनकम टैक्स छूट को 5 से बढ़ाकर 7 लाख रुपये कर दिया था। हालांकि रिजर्व बैंक ने उस राहत पर को खत्म कर दिया है। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने एक बार फिर जनता पर महंगाई का बम फोड़ दिया है। दरअसल आरबीआई ने अपनी मौद्रिक समीक्षा बैठक में रेपो रेट में 25 बेसिक प्वाइंट की बढ़ोतरी का ऐलान किया है। इससे आम जनता के लिए होम लोन पर ब्याज दर में इजाफा हो गया है। साधारण शब्दों में कहें, तो घर की EMI महंगी हो जाएगी। इसी तरह कार और बाकी लोन महंगे हो जाएंगे। 


रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया यानी RBI की तरफ से लंबे वक्त से महंगाई को कंट्रोल में रखने की कोशिश की जा रही है। महंगाई कंट्रोल के फॉर्मूले में आरबीआई की ओर से रेपो रेट में लगातार इजाफा किया जा रहा है। बता दें कि आरबीआई महंगाई को कंट्रोल में रखे के लिए लगातार छठी बार रेपो रेट में बढ़ोतरी कर चुकी है। आरबीआई के आज की बढ़ोतरी के ऐलान के बाद रेपो रेट बढ़कर 6.5 फीसद हो गया है। आरबीआई की ओर से बीते एक साल लगातार 5 बार  रेपो रेट में इजाफा हो चुका है। इससे पहले दिसंबर 2022 में रेपो रेट में 0.35 फीसदी की बढ़ोतरी का ऐलान किया गया था। उस वक्त इसे बढ़ाकर 6.24 फीसद किया गया था। 

क्या है रेपो रेट

आम जनता बैंकों से कर्ज लेती है। वही बैंक रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया से कर्ज लेते हैं। रिजर्व बैंक जिस दर पर बैंकों को कर्ज देती है, उसे ही रेपो रेट कहा जाता है। ऐसे में अगर आरबीआई की ओर से रेपो रेट में बढ़ोतरी की जाती हैं, तो बैंक भी ब्जाज दर में इजाफा कर देते हैं।

 

संवादपत्र

संबंधित लेख