साइबर धोखाधड़ी: सामान्य वित्तीय घोटाले और उनसे कैसे बचा जाए

यहां वह सब कुछ बताया गया है जो आपको ऑनलाइन वित्तीय धोखाधड़ी से खुद को सुरक्षित रखने के लिए जानना चाहिए ।

साइबर धोखाधड़ी: सामान्य वित्तीय घोटाले और उनसे कैसे बचा जाए

एक पल के लिए रुकें और किसी भी रूप में अंतिम बार किये गए ऑनलाइन भुगतान के बारे में सोचें। संभावना है कि यह पिछले 48 घंटों के भीतर किया गया होगा। खाने का ऑर्डर देने से लेकर किराने के सामान की खरीदारी से लेकर बिल भरने तक, हमारे दिन भर के कई भुगतान ऑनलाइन किए जाते हैं।

ऑनलाइन भुगतान एक बेहतरीन सुविधा है जिसे कोई भी छोड़ना नहीं चाहता है, चाहे कितने भी वित्तीय घोटाले सुर्ख़ियों में आये। लेकिन आपको ऑनलाइन लेनदेन पूरी तरह से बंद नहीं करना चाहिए । आपको बस कुछ सामान्य धोखाधड़ी के बारे में जानकारी रखनी चाहिए और अपने और अपनी मेहनत से कमाए गए पैसों की सुरक्षा सुनिश्चित करनी चाहिए।

तो, आइए सबसे आम वित्तीय घोटालों पर एक नज़र डालते हैं।

1. यु.पी.आइ. लेनदेन धोखाधड़ी

अक्टूबर 2019 में यु.पी.आइ. ने एक अरब लेन-देन का एक पड़ाव पार किया। [1] लेकिन इसके उपयोग में वृद्धि के साथ, यु.पी.आइ. धोखाधड़ी के घटनाओं की संख्या भी बढ़ रही है। अक्सर, धोखेबाज फोन पर यु.पी.आइ. उपयोगकर्ताओं से अपने यु.पी.आइ. पंजीकरण ओ.टी.पी., डेबिट कार्ड विवरण, टेक्स्ट मैसेज उन्हें भेजने या असत्यापित लिंक पर क्लिक करने के लिए कहते हैं। डेटा का उपयोग करते हुए, वे उपयोगकर्ता के खाते के लिए एक नया वर्चुअल पेमेंट एड्रेस बना सकते हैं और लेनदेन करने के लिए एक नया पिन निर्धारित कर सकते हैं।

ध्यान रखने योग्य बातें:

  • यु.पी.आइ. ऐप्स पर पैसे देने और प्राप्त करने के लिए अलग-अलग दिशाओं में इंगित करने वाले दो तीर हैं। अपना पिन दर्ज करने से पहले ,तीर को ध्यान से देख लें।
  • आपको टेक्स्ट मैसेज में प्राप्त किसी भी लिंक पर क्लिक नहीं करना चाहिए।
  • गूगल और सोशल मीडिया पर सूचीबद्ध हेल्पलाइन और संपर्क नंबरों पर भुगतान करने से बचें।
  • ऐप स्टोर में कई नकली यु.पी.आइ. ऐप हैं, इसलिए सावधान रहें कि आप क्या इंस्टॉल करते हैं।

2. क्रेडिट कार्ड की धोखाधड़ी

यह एक मिथक है कि आपके पैसे ठगने के लिए किसी व्यक्ति के पास आपका भौतिक क्रेडिट कार्ड होना चाहिए। कोई भी, दुनिया के किसी भी कोने से आपको धोखा दे सकते हैं अगर उनके पास आपके वित्तीय डेटा है। डार्क वेब, इंटरनेट का एक अप्राप्य और दुर्गम हिस्सा है जहां वित्तीय डेटा खरीदने और बेचने के लिए काला बाजार हैं।

ध्यान रखने योग्य बातें:

  • सार्वजनिक वाई-फाई नेटवर्क का उपयोग करने से बचें, खासकर ऑनलाइन भुगतान करते समय
  • अपने डेस्कटॉप पर एक विश्वसनीय एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर और अपने फोन पर एक सत्यापित पहचान चोरी का पता लगाने वाला ऐप इंस्टॉल करें
  • अपने बैंक से एस.एम.एस. अलर्ट के लिए पंजीकरण करें, ताकि आप तुरंत जान सकें कि आपके कार्ड पर कोई अनधिकृत भुगतान हुआ है या नहीं
  • सुनिश्चित करें कि जब भी आपका ब्राउज़र आपसे पूछता है कि क्या उसे आपके कार्ड के विवरण को याद रखना चाहिए, तो 'कभी नहीं' पर क्लिक करें
  • अपने कार्ड या बैंक के विवरण मांगने वाले अज्ञात नंबरों से कॉल न उठाएं

3. कर की धोखाधड़ी

ऑनलाइन टैक्स धोखाधड़ी आमतौर पर हलचल पैदा करने के उद्देश्य से निष्पादित की जाती है। धोखेबाज आमतौर पर पीड़ित को यह विश्वस दिलाने की कोशिश करता है कि वे मुसीबत में हैं और अपना बहुत सारा पैसा खोने वाला है। उन्हें इन स्थितियों से बचने के लिए तुरंत जुर्माना देने के लिए कहा जा सकता है या महत्वपूर्ण वित्तीय जानकारी मांगी जा सकती है। एक अन्य आम उपयोग, पहचान धोखाधड़ी के लिए हो सकता है, जहां जालसाज पीड़ित की वित्तीय जानकारी का उपयोग करके गलत कर रिटर्न फाइल करता है।

ध्यान रखने योग्य बातें:

  • फर्जी वेबसाइटों से बचे जो आई.टी. विभाग की आधिकारिक वेबसाइट की तरह भ्रामक दिखती हैं।
  • ध्यान रखें कि कोई भी कर अधिकारी आपको कभी फोन नहीं करेगा और न ही कभी तत्काल भुगतान की मांग करेगा, या आपसे अपनी वित्तीय जानकारी साझा करने का आग्रह करेगा।
  • सावधान रहें कि आप अपना पैन विवरण कहां और किसके साथ साझा करते हैं।

यदि आप ऊपर दिए गए सुझावों का पालन करते हैं, तो आप ऑनलाइन वित्तीय घोटाले को चकमा देने के लिए पूरी तरह से तैयार रहेंगे। सुनिश्चित करें कि आप इस जानकारी को अपने दोस्तों और परिवार के साथ साझा करें ताकि वे भी सावधान रहे यदि कुछ धोखेबाज उन्हें ऑनलाइन फंसाने की कोशिश करे ।

 

COVID-19

Most Shared