स्वर्ण ऋण बनाम क्रेडिट कार्ड: आपको कौन सा चुनना चाहिए?

सभी ऋण समान नहीं होते है; आपको विकल्पों की तुलना करने की आवश्यकता है ताकि आप सबसे अच्छा सौदा प्राप्त कर सकें।

स्वर्ण ऋण बनाम क्रेडिट कार्ड: आपको कौन सा चुनना चाहिए?

आपने अब तक अपने खर्चों को पूरा करने के लिए किसी भी तरह का कर्ज लेने पर विचार नहीं किया होगा, लेकिन कोविड-19 ने हममें से कई लोगों के लिए अपनी ज़रूरतों को पूरा करना मुश्किल बना दिया है । नौकरी का नुकसान, वेतन में कटौती, वेतन स्थगन-ये असफलताएं अब महामारी के मानक वित्तीय परिणाम हैं । किराए और उपयोगिता बिलों जैसे रहने के खर्चों को पूरा करने के लिए या आपातकालीन चिकित्सा खर्चों के लिए, आप स्वर्ण ऋण या क्रेडिट कार्ड ऋण पर विचार कर सकते हैं |

जबकि स्वर्णऋण और क्रेडिट कार्ड ऋण दोनों ही अच्छे विकल्प हैं, लेकिन वे कई मामलों में अलग हैं। यहां बताया गया है कि आपको किसी निर्णय पर पहुंचने से पहले क्या पता होना चाहिए । 

1. कोलैटरल 

एक स्वर्णऋण सुरक्षित ऋण होता है, जिसका अर्थ है कि आपको आपके किसी परिसंपत्ति (सोने) के खिलाफ ऋण मिल रहा है। यदि कभी आप ऋण चुकाने में असमर्थ होते हैं, तो आप अपना सोना खो देते हैं और वित्तीय संस्था इसे बेचकर अपने पैसे कि वसूली करती है।

क्रेडिट कार्ड पर उधार लेना, दूसरी ओर, एक असुरक्षित ऋण के रूप में गिना जाता है - आपको जमानत के रूप में कोई संपत्ति रखे बिना पैसा मिल जाता है। इसलिए, यदि आपसमय पर भुगतान करने में विफल हो जाते हैं, तो न केवल आपसे देरी शुल्क लिया जाता है, साथ ही आपका क्रेडिट स्कोर भी प्रभावित हो जाता है।

2. आवेदन प्रक्रिया

चूंकि स्वर्ण ऋण एक सुरक्षित ऋण है,इसलिए इसकी आवेदन प्रक्रिया तेज है। न्यूनतम दस्तावेज लगते है और पात्रता मानदंड अधिक लचीली होती है । आप आम तौर पर कुछ घंटों के भीतर वितरित एक स्वर्ण ऋण प्राप्त कर सकते हैं। अक्सर, आपके क्रेडिट स्कोर की भी आवश्यकता नहीं होती है, और न ही आपके आय प्रमाण की।

यदि आपके पास क्रेडिट कार्ड नहीं है, तो आवेदन करने और इसे प्राप्त करने की प्रक्रिया में कुछ सप्ताह तक का समय लग सकता है, और आपकी क्रेडिट स्कोर और पुनर्भुगतान क्षमता, इसे अनुमोदित करने में महत्वपूर्ण कारक होते हैं।

3. ब्याज दर

स्वर्ण ऋण का एक और फायदा यह है कि इसकी ब्याज दर कम है। अभी, एसबीआई जैसे बैंकों की ब्याज दर 7.5%है, जबकि मुथूट फाइनेंस जैसे एनबीएफसी 12% ब्याज की पेशकश कर रहे हैं।

क्रेडिट कार्ड ऋण के लिए मासिक ब्याज दर 3% से 4% होती है । हालांकि, ध्यान रखें कि वार्षिक प्रतिशत दर (ए.पी.आर.) 12% से 40% तक हो सकता है । ए.पी.आर., फिर से, अपने चुकौती इतिहास और क्षमता पर निर्भर करता है और कुछ बैंक कम दर की पेशकश भी कर सकते हैं ।

4. ऋण राशि

स्वर्ण ऋण दाता ,सोने की बाजार मूल्य का मूल्यांकन करने के लिए उसके वजन और शुद्धता की जांच करते हैं और आमतौर पर मूल्य के 80% तक ऋण स्वीकृत करते हैं। अभी सोने के ऋण पर विचार करने के लिए एक अच्छा समय है क्योंकि सोने की कीमतों में तेजी आयी है, 10 ग्राम सोने की कीमत 50 ,000 रुपये से अधिक हो गया है ।

क्रेडिट कार्ड की ऋण राशि आपके पास जिस तरह के क्रेडिट कार्ड हैं, आपके पुनर्भुगतान इतिहास, कार्ड पर क्रेडिट सीमा,इन पर निर्भर करेगा, लेकिन आम तौर पर आप 50,000 रुपये और 5 लाख रुपये के बीच राशि प्राप्त करने की उम्मीद कर सकते हैं।

5. कार्यकाल 

स्वर्ण ऋण के लिए न्यूनतम अवधि 3 महीने और अधिकतम 36 महीने का होता है। बैंक के आधार पर, आप 12-48 महीनों की अवधि में ईएमआई द्वारा अपने क्रेडिट कार्ड ऋण का भुगतान कर सकते हैं।

ज्यादातर बैंक अधिकतम क्रेडिट कार्ड ऋण की अवधि 4 साल तक देते हैं, जबकि कुछ 5 साल तक देतेहैं । हालांकि, एक लंबे कार्यकाल का मतलब भारी ब्याज बोझ होगा, खासकर क्रेडिट कार्ड के मामले में ।

दोनों में अक्सर दाण्डिक शुल्क लागू होते हैं, लेकिन यह सोने के ऋण के लिए 1% जितना कम है और आम तौर पर क्रेडिट कार्ड ऋण के लिए 3% से 4% ।

अंततः, स्वर्ण ऋण चुनने का एकमात्र वास्तविक नकारात्मक bindu यह है कि यदि आप ऋण चुकाने में विफल होते हैं, तो आप अपना कीमती सोना खो सकते हैं। जब तक आपके पास एक भुगतान रणनीति है,तोआपके लिए यह एक चिंता का विषय नहीं होना चाहिए । 

संबंधित लेख