Save Now Buy Later. Saving and Spending with Start ups

स्टार्ट अप अपने सेव नाउ बाय लेटर जैसे प्लेटफॉर्म लेकर आ रहे हैं जिस पर बचत और खरीदारी एक साथ की जा सकती है।

Saving and Spending with Start ups

Save Now Buy Later: हम सभी बाय नाउ पे लेटर से परिचित तो हैं ही। इसमें पहले खरीदारी और बाद में भुगतान की सुविधा उपलब्ध थी। यह तो आम बात हो चली है अब बाजार में इसी तर्ज पर कई अन्य स्कीम्स आ रही हैं जैसे कि सेव नाउ बाय लेटर (SBNL)।

नाम से ही साफ ज़ाहिर हो रहा है कि इसमें इस प्लेटफॉर्म पर बचत के साथ खरीदारी की सुविधा मिलेगी। इन स्कीम्स में भविष्य में किए जाने वाली खरीदारी के लिए अभी बचत करने का प्रावधान है। इन स्कीम्स में निवेश करने से खरीदने वाली वस्तुओं पर 10-20% की छूट भी मिलती है।

सेव ना बाय लेटर क्या है?

एसएनबीएल एक तरह की प्रणाली है जिसमें बचत और खरीदारी सेविंग और स्पेंडिंग दोनों एक ही प्लेटफॉर्म पर की जा सकती है। देखा जाए तो यह कोई नई पद्धति नहीं है बल्कि स्टार्ट अप इस पुरानी पद्धति को ही नई तकनीक और डेटा के साथ प्रस्तुत कर रहे हैं। इस दिशा में Tortoise, Hubble और Multiple इस तरह की स्कीम्स लाने वाले स्टार्ट अप हैं। इन सभी को अच्छे खासे ग्राहक भी मिल रहे हैं। 

यह भी पढ़ें: ७ वित्तीय नियम

इन्सेंटिव और छूट दोनों 

2022 में Hubble लॉन्च किया गया था। वर्तमान में Hubble ने Nyka, Myntra Croma और Blustone से टाय अप किया है। इसके साथ जल्द ही 20 अन्य ब्रांड्स के साथ टाय अप करने वाले हैं। Tortoise एसएनबीएल क्षेत्र में एक दमदार नाम है। इन प्लेटफॉर्म पर जो भी ग्राहक खरीदारी के लिए बचत करते हैं उन्हें उत्पादों पर कम से कम 10% का इंसेंटिव दिया जा रहा है।

म्यूचुअल फंड से रिटर्न 

बेंगलुरु की कंपनी Multiple भी सेव नाउ बाय लेटर क्षेत्र में काम करती है। उसका बिज़नेस मॉडल अन्य स्टार्ट अप से अलग है। यह स्टार्ट अप ग्राहकों को कुछ चुनिंदा म्यूचुअल फंड स्कीम्स में निवेश करने की सहूलियत देता है। जिससे रिटर्न प्राप्त होने पर खरीददारी का खर्च कम हो जाता है। इस स्कीम में पर्यटन (ट्रैवल), गैजेट्स और अप्लायंसेस आदि शामिल हैं। 

ग्राहक अपनी रुचि और ध्येय के हिसाब से अलग-अलग सेगमेंट के एसएनबीएल स्टार्ट अप से जुड़ जाते हैं। हालाँकि ये सभी स्टार्ट अप अपने क्षेत्र का दायरा बढ़ा रहे हैं। इनमें विवाह समारोह भी एक काफी लोकप्रिय कैटेगरी हो सकती है। 

शॉपिंग पर कैशबैक 

एक बेहद साधारण से रजिस्ट्रेशन के बाद ग्राहक अपनी पसंदीदा मर्चेंट का चुनाव करें; मसलन एप्पल, मेक माय ट्रिप, क्रोमा, मिंत्रा या नायका आदि। इस चुनाव के बाद ध्येय (गोल अमाउंट) और डिपॉजिट का समय चुनना होता है। प्रतिमाह न्यूनतम ₹500 से रकम जमा की जा सकती है। एसएनबीएल स्कीम में इन्सेंटिव के साथ कैशबैक भी दिया जाता है। 

अप्रैल 2022 में लॉन्च होने के बाद Tortoise के ऐप पर 1.5 लाख ग्राहक जुड़े हैं, तो वहीं Hubble के ऐप से 4 लाख ग्राहक जुड़ चुके हैं।

यह भी पढ़ें: मार्केट में निफ़्टी ५० से रिटर्न कैसे पाए?

संवादपत्र

संबंधित लेख