Sell Products and Build Home Business with Amazon in India. The Step-by-Step Guide.

एक ऑनलाइन सेलर के रूप में अमेज़न पर अपना सामान बेचकर आप अपने सेल को कई गुना बढ़ाकर एक सफल बिजनेस के मालिक बन सकते हैं।

Amazon Seller

Amazon Business: ई-कॉमर्स के उदय के साथ ऑनलाइन प्रोडक्टस बेचना उन व्यक्तियों के लिए एक आकर्षक विकल्प बन गया है जो घर से व्यवसाय शुरू करना चाहते हैं और पैसिव इनकम अर्जित करना चाहते हैं। Amazon दुनिया के सबसे बड़े ऑनलाइन मार्केटप्लेस में से एक है जो विक्रेताओं को दुनिया भर के ग्राहकों से जोड़ता है। Amazon अपने सेलर प्लेटफॉर्म के जरिए भारतीय विक्रेताओं को भी शानदार कमाई का मौका दे रहा है। इन स्टेप्स में समझें कि अमेज़न पर अपना सामान कैसे बेचे और एक Amazon सेलर के रूप में आप कैसे सफल हों:

स्टेप 1: रिसर्च करें और अपने प्रोडक्ट की खासियत को परिभाषित करें:

अमेज़ॅन पर बेचने से पहले, एक प्रोडक्ट की खासियत को परिभाषित करना महत्वपूर्ण है। उच्च मांग और कम प्रतिस्पर्धा वाले प्रोडक्टस की तलाश करें। बाजार की मांग और प्रतिस्पर्धा का आकलन करने के लिए अमेज़ॅन की बेस्ट सेलर्स रैंक, प्रोडक्ट रिव्यूज और कीवर्ड रिसर्च का उपयोग कर सकते हैं। 

स्टेप 2: एक सेलर अकाउंट बनाएं:

Amazon सेलर सेंट्रल वेबसाइट पर जाएं और अपना अकाउंट बनाएं। अपनी व्यावसायिक आवश्यकताओं के आधार पर अपनी योजना का विकल्प चुनें। व्यक्तिगत योजना शुरुआती लोगों के लिए उपयुक्त है, जबकि व्यावसायिक योजना स्थापित व्यवसायों के लिए अतिरिक्त सुविधाएँ प्रदान करती है। पंजीकरण प्रक्रिया पूरी करें और आवश्यक जानकारी प्रदान करें, जिसमें आपके व्यवसाय का विवरण, बैंक खाता और कर जानकारी शामिल है।

यह भी पढ़ें: क्या है अमेज़न पे लेटर ऑफर

स्टेप 3: उत्पाद सोर्सिंग और इन्वेंटरी:

अपना अकाउंट सेट करने के बाद, आपको Amazon पर बेचने के लिए प्रोडक्ट सोर्स करना होगा। विभिन्न विकल्पों का अन्वेषण करें जैसे कि अपने स्वयं के उत्पादों का निर्माण, थोक खरीदारी, या ड्रॉपशीपिंग का उपयोग। सुनिश्चित करें कि आप विश्वसनीय आपूर्तिकर्ताओं का चयन करें और अच्छी गुणवत्ता नियंत्रण बनाए रखें। बाजार का परीक्षण करने के लिए एक छोटे प्रोडक्ट सूची के साथ शुरुआत करें और धीरे-धीरे मांग के अनुसार इसे बढ़ाएं।

स्टेप 4: प्रोडक्ट लिस्टिंग को ऑप्टीमाइज़ करें:

विज़बिलिटी और बिक्री बढ़ाने के लिए अपनी प्रोडक्ट लिस्टिंग का ऑप्टीमाइज़ करना महत्वपूर्ण है। इसके लिए प्रोडक्ट टाइटल और प्रोडक्ट इमेज पर खास ध्यान दें। प्रोडक्ट डिस्क्रिप्शन अच्छे से लिखें और बुलेट पॉइंट्स में इसकी खासियतों को बताएं। अपने प्रोडक्टस के लिए प्रतिस्पर्धी और लाभदायक मूल्य तय करें। 

स्टेप 5: फुलफिलमेंट ऑप्शन 

Amazon दो फुलफिलमेंट विकल्प प्रदान करता है: फुलफिलमेंट बाय अमेज़न (FBA) और फुलफिलमेंट बाय मर्चन्ट (FBM)। FBA Amazon को स्टोरेज, पैकेजिंग और शिपिंग को संभालने की अनुमति देता है, जबकि FBM के लिए आवश्यक है कि आप इन पहलुओं को स्वयं संभालें। 

स्टेप 6: मार्केटिंग और प्रचार

अपनी बिक्री बढ़ाने के लिए, Amazon के मार्केटिंग टूल और रणनीतियों का उपयोग करें। कुछ प्रभावी प्रचार विकल्पों में स्पॉन्सर्ड प्रोडक्टस, लाइटनिंग डील और अमेज़न कूपन शामिल हैं। इसके अतिरिक्त, अपने प्रोडक्ट लिस्टिंग में बाहरी ट्रैफ़िक लाने के लिए सोशल मीडिया, ईमेल मार्केटिंग और इन्फ्लुएंसर मार्केटिंग का प्रयोग करें।

स्टेप 7: ग्राहक सेवा और समीक्षा

Amazon पर सकारात्मक प्रतिष्ठा बनाने के लिए उत्कृष्ट ग्राहक सेवा प्रदान करें। ग्राहकों को ईमानदार रिव्यू देने के लिए प्रोत्साहित करें और अपने ग्राहकों से जुड़ें रहें। 

यह भी पढ़ें: Google Pay पर्सनल लोन- आवेदन की प्रक्रिया

संवादपत्र