Top 5 Stock Market Gurus in India

भारत परिवर्तन के दौर में है, और आज के निवेशकों का झुकाव विभिन्न वित्तीय साधनों में बचत और निवेश की ओर है। भारत में स्टॉक निवेशकों की संख्या लगभग 4-5% है, जो अमेरिका और यूके की तुलना में काफी कम है। हालांकि, हर महीने शेयर निवेशकों की संख्या बढ़ रही है।

भारत में शीर्ष पांच स्‍टॉक मार्केट गुरू

इक्विटी निवेश अन्य एसेट क्‍लास की तुलना में इतना सीधा नहीं है। इसलिए, नए निवेशकों को इस बारे में अवधारणा को सीखने और समझने की जरूरत होती है कि यह कैसे संचालित होता है और कैसे कार्य करता है।

यह लेख भारत के शीर्ष पांच शेयर बाजार गुरुओं के बारे में बात करता है जिनका आप अनुसरण कर सकते हैं और निवेश के सुझाव पा सकते हैं।

यह भी पढें: निवेश के 19 सुझाव जिनका हर शुरुआत करने वाले को पालन करना चाहिए।

जब स्टॉक निवेश की बात आती है तो नीचे आपको सबसे अच्छे सलाहकारों के नाम दिये गए हैं जो आपको भारत में मिलेंगे।

  1. राधाकृष्णन दमानी- राधाकृष्णन दमानी या आरके दमानी को "मि. व्‍हाइट एंड व्‍हाइट” के नाम से भी जाना जाता है। यह उनकी सफेद कपड़े पहनने की आदत के कारण है। वह भारत के शीर्ष ट्रेडर्स में से एक है। आरके दमानी के बारे में एक अज्ञात तथ्य यह है कि वह सबसे लोकप्रिय भारतीय शेयर बाजार निवेशक राकेश झुनझुनवाला के मेन्टॉर थे। राधाकृष्णन दमानी भारत में सबसे अमीर ट्रेडर हैं, जिनके पोर्टफोलियो में 14 स्टॉक्स हैं और जिनकी कुल संपत्ति 180,534.9 करोड़ रुपये (मार्च 2022 तक) हैं। आमतौर पर, वह बहुत कम प्रोफ़ाइल बनाए रखते हैं और सार्वजनिक रूप से नहीं दिखाई देते हैं।
  2. रामदेव अग्रवाल- मोतीलाल ओसवाल समूह के सह-संस्थापक, रामदेव अग्रवाल ने भी भारतीय शेयर बाजार में एक प्रमुख निवेशक के रूप में प्रतिष्ठा बनाई है। वह 1995 में हीरो मोटोकॉर्प स्टॉक खरीदने के लिए प्रसिद्ध हैं, जब हीरो एक छोटी कंपनी थी जिसका बाजार पूंजीकरण केवल 1,000 करोड़ रुपये था। रामदेव अग्रवाल ने टू-व्‍हीलर मैन्‍युफैक्‍चरिंग के शेयरों में 30 रुपये प्रत्येक की कीमत पर लगभग 10 लाख रुपये का निवेश किया, और अगले 20 वर्षों तक शेयर्स की कीमत 2,600 रुपये तक बढ़ने तक उन्हें बनाए रखा। रामदेव अग्रवाल की वर्तमान कुल संपत्ति लगभग 4400 करोड़ रुपये है।
  3. राकेश झुनझुनवाला- राकेश झुनझुनवाला को भारत के शेयर मार्केट के किंग के नाम से जाना जाता है। भारत में, उन्हें शेयर बाजार के "द बिग बुल" और सबसे अच्छे निवेशकों में से एक के रूप में जाना जाता है। ऐसा केवल इसलिए नहीं है क्योंकि उनकी कुल संपत्ति बहुत अधिक है और जनवरी 2022 तक यह 45400 करोड़ रुपये थी, लेकिन क्योंकि उनके पास एक मजबूत सामाजिक विवेक है। उनका पोर्टफोलियो, जिसमें 39 स्टॉक्स शामिल हैं, देश के शीर्ष निवेशकों में सबसे विविध में से एक है। यदि आप एक सक्रिय ट्रेडर या निवेशक हैं जो हमेशा मुनाफा कमाने के लिए मार्केट में बेहतर अवसरों की तलाश करता है, तो राकेश झुनझुनवाला निश्चित रूप से आपको प्रेरित करेंगे।
  4. मुकुल अग्रवाल- मुकुल अग्रवाल को हाल ही में भारत में शीर्ष शेयर बाजार निवेशकों में से एक माना गया है। भारत के शेयर बाजार उन्हें नया सितारा बता रहे हैं। एक सफल उद्यमी, वह पटना में एक वित्तीय सलाहकार और धन प्रबंधन फर्म के मालिक हैं। वह TedX स्पीकर और एक मोटिवेशनल स्पीकर भी हैं। मुकुल अग्रवाल द्वारा किया गया निवेश आक्रामक है, और वह स्‍मॉल सेगमेंट में निवेश करते हैं। विशाल रिटर्न देने की क्षमता वाले स्टॉक्स को ढूंढकर, वह उनमें निवेश करते है और उनके रिटर्न की प्रतीक्षा करते हैं। वर्तमान में उनके पोर्टफोलियो में 47 स्टॉक्स हैं। वर्तमान में, मुकुल अग्रवाल की कुल संपत्ति लगभग 404.6 करोड़ रुपये है।
  1. सुनील सिंघानिया- सुनील सिंघानिया शेयर बाजार में सबसे ज्यादा पहचाने जाने वाले नामों में से एक है। उन्होंने रिलायंस म्यूचुअल फंड के लिए सीआईओ के रूप में काम किया है। मिडकैप और स्मॉलकैप स्टॉक्स के विशेषज्ञ, उन्हें उनके बारे में गहराई से जानकारी है। वर्तमान में, उनके पोर्टफोलियो में 26 स्टॉक्‍स हैं और वे विविधता लाने के लिए विभिन्न सेक्‍टर्स में निवेश करते हैं। पिछले पांच सालों में, उनके पोर्टफोलियो में 11004.55% की वृद्धि हुई है, जो आश्चर्यजनक है। दिसंबर 2021 तक इस दिग्गज निवेशक की कुल संपत्ति 2,124 करोड़ रुपये से अधिक थी।

यह भी पढें: म्युचुअल फंड्स पर कर कैसे लगता है।

अंतिम टिप्‍पणी

अगर आपको निवेश के बारे में समझने में परेशानी हो रही है, तो इन लोकप्रिय निवेश गुरुओं से मार्गदर्शन लेना आपके लिए एक अच्छा विकल्प है। वे सबसे आसान तरीके से वित्तीय अवधारणाओं को अच्छी तरह से समझने में आपकी मदद करेंगे।

संवादपत्र

संबंधित लेख