वित्तीय धोखे के 6 संकेत और उनका सामना करने के 6 तरीकें

वित्तीय धोखाधड़ी ,दम्पत्तियों के बीच चिंता का मुख्य कारण होता है | यहां इस स्थिति को संभालने के कुछ तरीके दिए गए हैं |

 वित्तीय धोखे के 6 संकेत और उनका सामना करने के 6 तरीकें

वित्तीय धोखा उस स्थिति को कहा जाता है जहां एक जीवनसाथी अपने दूसरे साथी से सलाह लिए बिना ही महत्वपूर्ण पैसे सम्बंधित निर्णय लेता है | हालांकि वित्तीय धोखा किसी भी तरफ से हो सकता है , परन्तु अधिकतर स्थितियों में महिलाएं ही अँधेरे में रखी जाती हैं| उन दम्पत्तियों के लिए जो सह-निर्भर जीवन यापन करते हैं ,उनके लिए संकेतों का समझना कठिन हो सकता है | हालाँकि, निम्न घटनाओं को खतरे की घंटी माना जा सकता है|

1. एक संयुक्त (जॉइंट) खाते से आपका नाम हटाना

भारत में कई शादीशुदा जोड़ों के संयुक्त खाते होते हैं| इससे उनके वित्त पर नज़र रखने में मदद मिलती है और इससे दोनों साथियों को पैसे कैसे खर्च करना है,इस विषय पर बोलने का बराबर हक़ मिलता है | कुछ कारक- जैसे कि अपने क्रेडिट स्कोर को सुधारने की चाहत रखना - आपके साथी को संयुक्त खाते से हटाने का एक वैध कारण हो सकता है |हालांकि, कई जगहों में, इन खातों में से अपने साथी का नाम हटाना,एक अधिक स्वार्थी हित के लिए सोची-समझी चाल हो सकती है |

2. नगद लेनदेन से अनजान रहना

दम्पत्तियों के लिए अलग-अलग जीवन यापन करना और व्यक्तिगत हित के लिए पैसे खर्च करना बिल्कुल सामान्य बात है | हालांकि, यदि कोई एक साथी अपने दूसरे साथी को सूचित किये बिना एक बड़ी राशि निकल लेता है तो यह चिंता का विषय हो सकता है | इसके लिए आदर्श रूप से आपको सभी बड़े खर्चों के बारे में एक परिवार के रूप में बैठकर चर्चा करनी चाहिए और संयुक्त रूप से किसी उचित निर्णय पर पहुंचना चाहिए |

3. एक नया क्रेडिट कार्ड मिलना

ऋण किसी व्यक्ति की मेहनत की कमाई खा सकता है | इसीलिए दम्पत्तियों के लिए समझदारी से उनके क्रेडिट कार्ड के क्रियाओं की योजना बनाना बहुत ज़रूरी है | अपने साथी के नाम पर एक नए क्रेडिट कार्ड के मिलने का यह मतलब हो सकता है कि वह आपसे कुछ छिपा रहे हो| इससे अन्ततः यह भी हो सकता है कि वे अपने नए क्रेडिट कार्ड की बकाया राशि चुकाने के लिए इस संयुक्त खाता का उपयोग करें |

4. नए एसेट्स और सम्पत्तियों का पता लगना

आमतौर पर, दंपत्ति पहले से ही सभी बड़े खर्चों की चर्चा कर लेते हैं | इसमें महंगी इलेक्ट्रॉनिक गैजेट खरीदना, एक कार खरीदना या एक ऐशो-आराम वाले वेकेशन पर जाना शामिल हो सकता है | पर यदि एक साथी इन चीज़ों पर अपने दूसरे साथी को बताये बिना अधिक खर्च करता है ,तो स्थिति आपके समझ से बहुत ज्यादा जटिल हो सकती है | यह एक भावनात्मक या शारीरिक धोखे का संकेत भी हो सकता है |

5. किसी ऋण के बारे में जानकारी नहीं होना

एक ऋण बहुत बड़ी प्रतिबद्धता हो सकती है जिसे पूरा करने में कई वर्ष लग सकते हैं | फिर चाहे वो एक छोटा व्यक्तिगत ऋण हो या बड़ा ऋण- जैसे कि गृह, व्यापार या कार ऋण- इसके प्रभाव दोनों साथियों के लिए गंभीर हो सकते हैं | ऋण किसी व्यक्ति के क्रेडिट स्कोर पर हस्तक्षेप कर सकता है , जिससे लोगों को दूसरे कारण से किसी अन्य ऋण के लिए आवेदन देन

6. व्यवहार में बदलाव देखना

वित्तीय धोखा ग्लानि पैदा कर सकता है, जिससे कोई व्यक्ति मजबूर होकर अधिक अनुकूल व्यवहार कर सकता है ,अपने साथी के लिए फूल या तोहफे लाकर भरपाई करने की कोशिश कर सकता है | कुछ स्थितियों में, एक व्यक्ति झूठ और चिंता का सहारा भी ले सकता है और वित्तीय चिंता का बढ़ता स्तर दर्शा सकता है | इन व्यावहारिक पैटर्न को देखना और उनके मायने समझना महत्वपूर्ण है |

वित्तीय धोखाधड़ी संभालने के लिए ये चीज़ें करें

1. खुलकर बातचीत करें

चीज़ों के बारे में ईमानदारी से बात करने से ज्यादा कुछ भी अच्छा नहीं हो सकता | वित्त एक मुश्किल विषय है जो कभी-कभी लोगों को अत्यधिक असहज कर देता है| हालांकि, जब तक दंपत्ति कुछ छुपाते नहीं हैं और वे वित्तीय चिंताओं,लक्ष्यों और रणनीतियों के बारे में बात कर पाते हैं ,उनके बीच कुछ भी अजीब नहीं लगना चाहिए | वेतन या कैरियर आकांक्षाओं के बीच के अंतर को संयुक्त लक्ष्यों के बीच नहीं आना चाहिए|

2. शांत रहे

पैसों से सम्बंधित मामले बहुत नाज़ुक हो सकते हैं | कभी-कभी ऐसा लग सकता है कि दूसरा व्यक्ति कुछ ज़रूरी बातें छिपा रहा है पर सच्चाई बहुत अलग हो सकती है | एक तीखी बहस में पड़ने की बजाय, आपको अपने साथी के पहल के पीछे के कारणों को समझने की कोशिश करनी चाहिए |

3. ज़रूरी दस्तावेज़ों को फिर से देखें

सामान्य निवेशों,बचत, और बीमा कागज़ातों को ध्यान से पढ़ने से ज्यादा निश्चितता आ सकती है | इससे कोई भी संभावित त्रुटियों को पहचानने में मदद मिलेगी | कभी-कभी संभावित विसंगतियों को पहचानने के लिए एक पेशेवर वित्तीय सलाहकार से परामर्श करना भी एक प्रभावी तरीका हो सकता है|

4. एक दूसरे को थोड़ा स्पेस दें

एक व्यक्ति के शादी के बाहर भी कुछ व्यक्तिगत लक्ष्य हो सकते हैं | इसमें एक व्यापार शुरू करना या उनके पसंद के कोई देश घूमना हो सकता है| दम्पत्तियों के बीच सभी लक्ष्य परस्पर-निर्धारित नहीं होते हैं | शुरुआत से ही संबंधों में कुछ स्पेस देने से आपको आगे जाकर झूठ या धोखा मिलने की सम्भावना नहीं रहती |

5. व्यक्तिगत बचत को अलग रखें

अप्रत्याशित स्थिति में वित्तीय सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए , एक ऐसा आपातकालीन फंड रखना अच्छा होगा जो संयुक्त बचत खाते से अलग हो | यह एक साथी को दूसरे द्वारा की गई वित्तीय गलती के प्रभाव से बचाएगा | यह अलगाव या तलाक की स्थिति में भी उन्हें संभाले रहने में मदद करेगा |

6. कानूनी कार्यवाही करें

वित्तीय धोखाधड़ी एक बहुत बड़े अपराध का सूचक हो सकता है | कई महिलाएँ इसकी शिकार हुई हैं | यह लापरवाही या दूसरे व्यक्ति में अन्धविश्वास रखने के कारण हो सकता है| किसी भी स्थिति में, इसके अंजाम भयानक हो सकते हैं | इसीलिए, यदि आपको लगता है कि मामला आपके हाथ से निकल रहा है तो आखिरी रास्ता,तुरंत कानूनी कार्यवाही करना हो सकता है |

अंतिम पंक्तियाँ :

किसी बुरे रिश्ते से बाहर निकल पाना बहुत मुश्किल होता है और चीज़ें और भी चुनौतीपूर्ण हो जाती है यदि इसमें पैसा भी शामिल हो | हालंकि, अपने व्यक्तिगत लक्ष्यों के बारे में खुलकर बात करने और ईमानदार होने से,आप दोनों को इस मुश्किल समय से में एक दूसरे के रास्ते में बाधा न बनते हुए निकल पाने में मदद मिलेगी | हालांकि अपने साथी को संदेह का लाभ देना सलाहनीय है पर आपके लिए यह भी जानना ज़रूरी है कि इसकी हद कहाँ तक हो | ऊपर बताये गए संकेत और युक्तियाँ ,किसी व्यक्ति को वित्तीय धोखेधड़ी का सामना करने से बचा सकती है,परन्तु खराब स्थिति में, आपको एक पेशेवर कानूनी सलाह लेनी चाहिए 




संबंधित लेख