Beginners guide to personal finance : गलत वित्तीय योजना आपके वित्तीय लक्ष्‍यों को भटका सकती है। शुरूआत करने के लिए इन 7 सुनहरे वित्तीय नियमों को न भूलें!

हर किसी के जीवन में अलग-अलग‍ वित्तीय लक्ष्‍य होते हैं। वित्तीय योजना बनाने की प्रक्रिया इन वित्तीय लक्ष्‍यों की पहचान करने, उनकी मात्रा निर्धारित करने,लक्ष्‍य की योजना बनाने, उनको लागू करने, अपने लक्ष्‍यों को प्राप्‍त करने तक उसकी समीक्षा करने में आपकी मदद करता है। यह लेख वित्तीय योजना की यात्रा में शामिल कुछ चरणों पर केंद्रित है।

Beginners guide to personal finance

प्रत्येक व्यक्ति को अपने वित्तीय लक्ष्यों की प्राप्ति के लिए वित्तीय योजना बनाने में व्यवस्थित या संगठित दृष्टिकोण की आवश्यकता होती है। वरना यह बिना किसी मंजिल को ध्यान में रखकर यात्रा शुरू करने जैसा होगा। आप अंदाजा लगा सकते हैं कि ऐसी अनियोजित यात्रा कितनी खराब हो सकती है। इसी तरह, कल्पना करें कि क्या आप बिना किसी वित्तीय लक्ष्य को ध्यान में रखे निवेश करना शुरू करते हैं? यह कुछ ऐसा है जैसे आप नहीं जानते कि आप निवेश क्यों कर रहे हैं, कितना या कब तक निवेश करना है, कितना संचय करना है, आदि।

व्यवस्थित रूप से निवेश करने के लिए एक वित्तीय योजना प्रक्रिया का पालन करने की आवश्यकता होती है। यह लेख इस बात पर केंद्रित है कि वित्तीय योजना क्या है और इसमें कौन से कदम शामिल है।

वित्तीय योजना क्‍या है?

वित्तीय योजना आपकी वर्तमान वित्तीय स्थिति की व्यापक समीक्षा करने और रिटायरमेंट की योजना बनाने और अन्य जैसे विभिन्न वित्तीय लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए एक व्यवस्थित प्रक्रिया है।

वित्तीय योजना प्रक्रिया में निम्नलिखित चरण शामिल होते हैं।

चार्ट: वित्तीय योजना की प्रक्रिया

उपरोक्त चार्ट दिखाता है कि वित्तीय योजना प्रक्रिया में वित्तीय लक्ष्यों की पहचान करने से लेकर उन्हें प्राप्त करने तक सभी चरण किस प्रकार शामिल होते हैं। मूल रूप से, वित्तीय योजना व्यक्तिगत फाइनेंस के लिए एक शुरुआती मार्गदर्शक के रूप में कार्य करता है।

वित्तीय योजना के नियम

वित्तीय योजना प्रक्रिया में कुछ नियमों का पालन करना होता है। इसमे शामिल हैं:

1) अपने नकदी प्रवाह को प्रबंधित करना

वित्तीय योजना का पहला कदम आपके नकदी प्रवाह का प्रबंधन करना है। आपको इस बारे में स्पष्ट होना चाहिए कि आप वेतन, बिजनेस से आय, ब्याज, डिविडेंट, किराए आदि से हर महीने कितनी आय अर्जित करते हैं। साथ ही, आपको पता होना चाहिए कि आप हर महीने किराने का सामान, दैनिक उपयोग वाले उत्‍पादों, गारमेंट, बच्‍चों के स्‍कूल की फीस, बाहर खाने, किराया, मनोरंजन आदि जैसे व्‍यय के विभिन्‍न मदों के तहत कितना खर्च कर रहे हैं।

आप एक तरफ सभी नकद प्राप्ति और दूसरी तरफ नकदी खर्च को रिकॉर्ड करने के लिए मासिक नकदी प्रवाह विवरण तैयार कर सकते हैं। यदि प्राप्ति खर्च से अधिक है, तो आपके नकदी प्रवाह की स्थिति धनात्मक है, और आप अपने पैसे को वित्तीय लक्ष्यों के लिए निवेश कर सकते हैं। यदि आपका खर्च प्राप्ति से अधिक है, तो आपको अपने खर्चों को कम करने की आवश्यकता है। मासिक नकदी प्रवाह विवरण आपको धन प्रबंधन में मदद करेगा।

2) नेट वर्थ की गणना

नकदी प्रवाह विवरण बनाने के साथ-साथ, आपको नेट वर्थ विवरण भी बनाना होगा। नेट वर्थ का विवरण उन सभी चीजों को रिकॉर्ड करेगा जो आपके पास संपत्ति के रूप में हैं और वे सभी चीजें जो आप पर देनदारी पक्ष यानी दूसरों को देय हैं। यदि आपकी संपत्ति आपकी देनदारियों से अधिक है, तो आपकी नेट वर्थ धनात्मक होगी। यदि आपकी देनदारियां आपकी संपत्ति से अधिक हैं, तो आपकी नेट वर्थ ऋणात्‍मक होगी। यह अच्छा नहीं है, और आपको अपने ऋण प्रबंधन पर काम करना होगा और इसे नियंत्रण में लाना होगा।

3) आपातकालीन फंड बनाना और उसे मेंटेन करना

अपनी व्यक्तिगत निवेश यात्रा शुरू करने से पहले, आपको एक आपातकालीन फंड बनाने और उसे मेंटेन करने की आवश्यकता होती है। यह आपकी 3-6 महीने की मासिक आय के बराबर होना चाहिए। आपातकालीन फंड की आवश्‍यकता चिकित्सीय आपात स्थिति, नौकरी छूटने, वेतन में देरी, अस्थायी रूप से वेतन में कटौती (जिसका कई लोगों ने COVID-19 महामारी के दौरान सामना किया) आदि जैसी स्थितियों में होती है।

4) पर्याप्‍त जीवन और स्वास्‍थ्‍य बीमा लेना

एक बार आपातकालीन फंड बन जाने के बाद, आपको जीवन और स्वास्थ्य बीमा पर ध्यान देना चाहिए। परिवार में सभी कमाने वाले लोगों के पास टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी होनी चाहिए। अपने वित्तीय लक्ष्यों और देनदारियों के आधार पर एक उपयुक्त कवर की गणना करें। परिवार के सभी सदस्यों को फैमिली फ्लोटर स्‍वास्‍थ्‍य बीमा प्लान के जरिए कवर किया जाना चाहिए।

5) सभी लक्ष्‍यों के लिए वित्तीय योजना बनाएं और उन्‍हें कार्यान्वित करें

एक बार जीवन और स्वास्थ्य बीमा हो जाने के बाद, आप बचत और निवेश पर ध्यान केंद्रित कर सकते हैं। आपको अपने फाइनेंसियल प्‍लानर के साथ बैठना चाहिए और अपने वित्तीय लक्ष्यों की पहचान करनी चाहिए, उन्हें निर्धारित करना चाहिए। प्रत्येक लक्ष्य के लिए एक वित्तीय योजना बनानी चाहिए, इसे कार्यान्वित करना चाहिए और लक्ष्य प्राप्त होने तक नियमित रूप से इसकी समीक्षा करनी चाहिए। आप केवल भुगतान वाले फाइनेंसियल प्‍लानर्स के साथ काम करने पर विचार कर सकते हैं क्योंकि उनका किसी बीमा कंपनी या म्यूचुअल फंड हाउस के साथ कोई अनुबंध नहीं होता है। आप अपने म्यूचुअल फंड निवेश के लिए एक सिस्‍टमैटिक इन्‍वेस्‍टमेंट प्‍लान (SIP) भी शुरू कर सकते हैं।

6) टैक्‍स की कटौती का हर संभव उपयोग करना

अपने वित्तीय लक्ष्यों के लिए निवेश करते समय, आपको यह सुनिश्चित करना चाहिए कि वे टैक्‍स बचाने वाले हों। आपको सेक्‍शन 80C के तहत PPF या इक्विटी लिंक्ड सेविंग्स स्कीम (ELSS) में निवेश, सेक्‍शन 80D के तहत स्वास्थ्य बीमा, सेक्‍शन24 के तहत होम लोन ब्याज आदि जैसी चीजों के लिए कर कटौती का सर्वोत्तम संभव उपयोग करना चाहिए।

7) एस्टेट प्लानिंग

आपको संपत्ति की योजना इस तरह से बनानी चाहिए कि आपकी असामयिक मृत्यु की स्थिति में इन संपत्तियों को आपके कानूनी उत्तराधिकारी को आसानी से स्थानांतरित किया जा सके। शुरू करने करने के लिए, आपको अपनी सभी संपत्तियों के लिए नामांकन करना चाहिए। हालाँकि, यह पर्याप्त नहीं है। एक नामांकित व्यक्ति संपत्ति का केवल केयरटेकर होता है। आपको अपनी मृत्यु के बाद अपनी संपत्ति के आसान हस्तांतरण को सुनिश्चित करने के लिए एक वसीयत बनाने की आवश्यकता होती है।

निष्‍कर्ष

व्यापक वित्तीय योजना आपको अपने सभी वित्तीय लक्ष्यों के लिए व्यवस्थित रूप से योजना बनाने में मदद करती है। यह नकदी प्रवाह विवरण और नेट वर्थ विवरण बनाने से शुरू होता है जो आपको आपके नकदी प्राप्ति और खर्च के साथ साथ आपकी संपत्ति और देनदारियों की सही तस्वीर देता है। फिर आपको एक आपातकालीन फंड बनाने और उसे मेंटेन करने की आवश्यकता होती है। अगला कदम परिवार के सभी कमाने वालों के लिए पर्याप्त जीवन बीमा और परिवार के सभी सदस्यों के लिए स्वास्थ्य बीमा खरीदना है।

इसके बाद, आप अपने सभी वित्तीय लक्ष्यों के लिए एक वित्तीय योजना बनाकर उसे कार्यान्वित कर सकते हैं। निवेश करते समय, सुनिश्चित करें कि आप सभी कर कटौती का लाभ उठाते हैं। अंत में, आपको यह सुनिश्चित करना चाहिए कि आपने अपने उत्तराधिकारियों को उनके आसान हस्तांतरण के लिए योजना बना ली है। व्यापक वित्तीय योजना यह सुनिश्चित करती है कि आप अपने सभी वित्तीय लक्ष्यों को प्राप्त करते हैं।

M Stock

संवादपत्र

संबंधित लेख