यहां बताया गया है कि लॉकडाउन के दौरान डिजिटल बचत खाता कैसे आपके काम आ सकता है

डिजिटल बचत खाता क्या होता है, आप इस खाते को कैसे खोल सकते हैं, इसकी प्रमुख विशेषताएं क्या हैं? हम आगे इन सवालों के साथ और भी कुछ चीज़ों का जवाब देंगे।

यहां बताया गया है कि लॉकडाउन के दौरान डिजिटल बचत खाता कैसे आपके काम आ सकता है

कोरोनोवायरस महामारी हमारे जीवन के हर पहलू को बदल रही है। इसने हमें डिजिटल दुनिया अपनाने के लिए मजबूर किया है - चाहे हम उपयोगिता बिलों का भुगतान कर रहे हों, या किराने का सामान मंगा रहे हों या बैंक सम्बंधित लेनदेन कर रहे हों। वास्तव में, बैंक के पास डिजिटल बचत खाता ’नामक एक अनूठा उत्पाद है जो इस कठिन समय में ग्राहकों को डिजिटल रूप से अपने वित्त संभालने में मदद करता है ।

देशव्यापी लॉकडाउन होने से, डिजिटल बचत खाता तेजी से एक महत्वपूर्ण टूल बनते जा रहा है। हो सकता है आगे चलकर , यह एक भरोसेमंद साधन बन जाए क्योंकि अब दुनिया लोगों से जुड़ने के लिए संपर्क रहित तरीके की ओर रुख कर रही है।

तो डिजिटल बचत खाता क्या है? क्या इसे खोलना आसान है? यहां कुछ अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न दिए गए हैं।

डिजिटल बचत खाता क्या होता है?

एक डिजिटल बचत खाता बैंकिंग को आसान बनाने के लिए बनाया गया है। यह बैंक खाता खोलने का एक त्वरित, कागज रहित और सुरक्षित तरीका है। आप बैंक शाखा में जाए बिना या बैंक प्रतिनिधि से मदद लिए बिना इसे ऑनलाइन स्वयं कर सकते हैं। बस आपको जल्द ही बचत खाता खोलने के लिए कुछ आसान चरणों का पालन करना होगा।

यह एक नियमित बचत खाते से अलग कैसे है?

इस खाता को खोलने के तरीके में ही मुख्य अंतर है। एक नियमित खाता खोलने के लिए आपको एक बैंक शाखा जाना होगा, एक फॉर्म भरना होगा और के.वाई.सी. विवरण जमा करना होगा। एक डिजिटल बचत खाता ऑनलाइन खोला जा सकता है। क्यूंकि यह खाते की कोई कागज़ी कार्यवाही नहीं होती है, इसलिए आपको एक बैंक स्टेटमेंट या पासबुक नहीं मिलेगी,जो कि आपको नियमित खाते में मिलती है।

आप डिजिटल बचत खाता कैसे खोल सकते हैं?

आप अपने पसंदीदा बैंक की वेबसाइट पर जाकर या उसके मोबाइल ऐप को डाउनलोड करके इस तरह का खाता खोल सकते हैं। आपको बस कुछ सामान्य विवरण (नाम, आयु, आदि) जमा करना होगा और अपनी होम शाखा का चयन करना होगा। इसके बाद, अपना आधार और पैन विवरण अपलोड करें। बस ,हो गया - अब आपका डिजिटल बचत खाता खुल गया है!

कौन से मापदंड पूरे होने चाहिए?

हालांकि प्रत्येक बैंक के अपने नियम होते हैं ,पर कुछ बुनियादी आवश्यकताएं इस प्रकार हैं:

  • आपकी आयु 18 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए
  • आपको भारत का निवासी होना चाहिए
  • आपको आवश्यक केवाईसी दस्तावेज पेश करना चाहिए
  • आपके पास एक वैध ईमेल आईडी और एक एक्टिव स्थानीय मोबाइल नंबर होना चाहिए

इस खाते से कौन-सी सेवाओं का आप लाभ उठा सकते हैं?

आप ये सब कर सकते हैं :

  • ऐप से फंड ट्रांसफर किया जा सकता है
  • ऑनलाइन लेनदेन की जाँच की जा सकती है
  • बैंक के एटीएम से नकदी निकाल सकते हैं
  • बिलों का भुगतान किया जा सकता है
  • निवेश किया जा सकता है
  • एक डेबिट कार्ड मिल सकता है , और भी बहुत कुछ

डिजिटल बचत खाते की प्रमुख विशेषताएं क्या हैं?

फिर से , यह हर बैंक में अलग हो सकता है, लेकिन एक डिजिटल बचत खाते की दो प्रमुख विशेषताएं होती ही है -पहला,आपके खाते में पैसे पर उच्च ब्याज दर मिलता हैं और शून्य बैलेंस होने पर कोई शुल्क नहीं होता है। संक्षेप में, यह कभी भी ,किसी भी वक़्त त्वरित बैंकिंग सुनिश्चित करता है।

क्या मुझे जीरो बैलेंस खाता मिल सकता है?

हाँ,आप कर सकते हो। कई बैंक जीरो बैलेंस डिजिटल खाते पेश कर रहे हैं। अपने बैंक से यह सुनिश्चित कर लें कि क्या आप अपने खाते को न्यूनतम औसत त्रैमासिक बैलेंस (ए.क्यू.बी.) या शून्य बैलेंस में बदल सकते हैं।

डेबिट कार्ड, चेक बुक के लिए क्या शुल्क लागू होते हैं?

डेबिट कार्ड आमतौर पर खाते के प्रकार के आधार पर शुल्क लागू करते हैं और यह वार्षिक मेंटेनेंस शुल्क को भी आकर्षित करेगा। जारी करने का शुल्क 99 रुपये से 999 रुपये के बीच कुछ भी हो सकता है।

चेक बुक (न्यूनतम 10 चेक के साथ) नि: शुल्क नहीं होता हैं और इसका शुल्क 3 से 10 रुपये प्रति चेक के बीच कुछ भी हो सकता हैं,जो हर बैंक में अलग हो सकता है ।

यदि मुझे अपने खाते से सम्बंधित कोई सवाल / समस्या है तो क्या मैं शाखा जाकर इसका समाधान पा सकता हूं?

हां, आप अपने खाते के बारे में किसी भी ब्रांच में जाकर पूछताछ करने या सहायता मांगने के लिए स्वतंत्र हैं या आप अन्य सेवाओं का उपयोग भी कर सकते हैं जैसे कि भौतिक खाता स्टेटमेंट प्राप्त करना, डिमांड ड्राफ्ट जारी करना या पैसे भेजना।

डिजिटल बचत खाते के साथ मुझे और क्या लाभ मिल सकता हैं?

कई बैंक एक वर्चुअल डेबिट कार्ड प्रदान करते हैं, जिसमें एक नियमित डेबिट कार्ड की तरह ही 16 अंकों की संख्या होती है जो असली कार्ड जैसा प्लास्टिक का नहीं होता है। वर्चुअल डेबिट कार्ड का कोई जारी या नवीकरण शुल्क नहीं है। इन्हें किसी भी डिजिटल पेमेंट गेटवे द्वारा इस्तेमाल किया जा सकता है।

इसी तरह, आप आर.टी.जी.एस. और एन.ई.एफ.टी. जैसे मुफ्त ट्रांसफर प्रक्रियाओं का लाभ भी उठा सकते हैं।

आखरी पंक्तियाँ

अब जब आप डिजिटल बचत खातों के बारे में सब कुछ जान चुके हैं, तो आज ही अपना डिजिटल बचत खाता बनाएं! अधिक जानकारी के लिए अपने पसंदीदा बैंक की वेबसाइट पर जाएं | शुरुआत करें और एक संपर्क रहित दुनिया की कुंजियों को सीखो क्योंकि यह जल्द ही ''नया सामान्य'' तौर-तरीका बन जाएगा। संकोच न करें और स्वयं को डिजिटल बचत खाते का उपहार पेश करें !




संबंधित लेख