Fall in the price of gold: सोने की कीमत में आई कमी

सोने-चांदी की कीमतों में लगातार लढ़काव जारी है।

सोने का भाव

Fall in Gold price: कल शाम सोने का औसत भाव 217 रुपए गिरकर 50553 रुपए पर बंद हुआ। वहीं चांदी 33 रुपए महंगी होकर 53396 रुपए पर बंद हुई। जीएसटी समेत 24 कैरेट सोने का भाव 52069 रुपए और चांदी 54997 रुपए हो गया। 

अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोना तेजी के साथ 1,702 डॉलर प्रति औंस हो गया जबकि चांदी 18.18 डॉलर प्रति औंस पर स्थिर रही। एचडीएफसी सिक्योरिटीज के विश्लेषक तपन पटेल ने बताया कि अमेरिका के आर्थिक आंकड़े आने पर अमेरिकी फेडरल रिजर्व द्वारा आक्रामक रूप से ब्याज दर बढ़ाने की आशंका और डॉलर के मजबूत होने से सोना 1,700 डॉलर प्रति औंस के आसपार चक्कर काटता दिखा।

बुधवार 7 सितंबर को दिल्ली सर्राफा बाजार में 225 रुपए की गिरावट के साथ प्रति 10 ग्राम सोने का भाव 50,761 रुपए रह गया। पिछले कारोबारी सत्र में सोना प्रति 10 ग्राम पर 50,986 रुपए बंद हुआ था। चांदी की कीमत भी 315 रुपए कम होकर 54,009 रुपए प्रति किलोग्राम रह गई थी। इसके पहले चांदी का भाव 54,324 रुपए प्रति किलो पर बंद हुआ था।

आईबीजेए के अनुसार बुधवार शाम को सोने का औसत भाव 217 रुपए गिरकर 50553 रुपए पर बंद हुआ। वहीं चांदी 33 रुपए महंगी होकर 53396 रुपए पर बंद हुई। इससे जीएसटी समेत प्रति 10 ग्राम, 24 कैरेट सोने का भाव 52069 रुपए होगा और प्रति किलो चांदी का भाव 54997 रुपए हो जाएगा। 

मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज में कमोडिटी रिसर्च के सीनियर वाइस प्रेसीडेंट नवनीत दमानी का कहना है कि सोने की कीमतों में घटने का मुख्य कारण यह है कि अमेरिकी डॉलर और ट्रेजरी की यील्ड में तेजी से वृद्धि हुई है, और आर्थिक आंकड़ों के अनुमान के बाद फेडरल रिजर्व ब्याज दर में आक्रामक रूप से दर बढ़ाना करना जारी रखेगा। डॉलर सूचकांक 0.2% ऊपर था, जो पिछले सत्र में दो दशक के शिखर के पास पहुँच गया। ऑर्डर में मजबूत वृद्धि और रोजगार के बीच यू.एस. सेवा उद्योग अगस्त में लगातार दूसरे महीने आगे बढ़ा है। पिछले हफ्ते अमेरिकी नौकरियों के बाजार के आंकड़ों के बाद 75 बीपीएस और 50 बीपीएस की दर में बढ़ोतरी की उम्मीद थी। हालांकि अब 70 प्रतिशत बाजार सहभागियों को उम्मीद है कि फेड ब्याज दरों में 75 आधार अंकों की वृद्धि करेगा। फेड नीति बैठक के करीब जाते हुए डॉलर के प्रतिफल में और उतार-चढ़ाव दिख सकता है, जिसका असर धातुओं की कीमतों पर हो सकता है। कोमेक्स पर 1655-1730 डॉलर तक का व्यापक रुझान हो सकता है और देश में इसके 50,200 - 51,050 की सीमा तक जाने की उम्मीद की जा सकती है।

संबंधित आलेख: सोने की कीमत आ गई ५२,००० रुपये से नीचे 

7 सितंबर 2022 को सर्राफा बाजारों में सोने का भाव

कल यानी 7 सितंबर 2022 को सर्राफा बाजारों में को सोने-चांदी के मौजूदा भाव कम होते दिख रहे हैं। आज 24 कैरेट सोने का भाव 50422 रुपए पर खुला, जो पिछले दिन के बंद होने के समय के भाव से प्रति 10 ग्राम 348 रुपए सस्ता है। इसके अलावा चांदी की कीमत भी 547 रुपए कम होकर 52816 रुपए प्रति किलो के रेट पर रही। इस तरह शुद्ध सोना प्रति 10 ग्राम के अपने अब तक के उच्चतम भाव 56254 रुपए से 5832 रुपए सस्ता है। जबकि, चांदी अपने दो साल पहले की उच्चतम दर प्रति किलो 76008 रुपए से घटकर 23192 रुपए सस्ती हो गई है। इसके साथ ही, प्रति 10 ग्राम 23 कैरेट सोने की कीमत 50220 रुपए, 22 कैरेट सोने की कीमत 46187 रुपए, 18 कैरेट सोने की कीमत 37817 रुपए और 14 कैरेट सोने की कीमत 29497 रुपए रह गई है। इसमें जीएसटी और ज्वैलर का मुनाफा शामिल नहीं है।  

अब अगर सोने की कीमतों में जीएसटी और ज्वेलर का मुनाफा जोड़ा जाए तो कीमत कमोबेश इस तरह रहेगी- 24 कैरेट सोने पर 3 प्रतिशत जीएसटी यानी 1512 रुपए जोड़ लें तो प्रति 10 ग्राम सोने की कीमत 51934 रुपए होगी, और ज्वैलर का 10 प्रतिशत मुनाफा जोड़ने के बाद सोने का भाव 57128 रुपए हो जाएगा। 

चांदी की कीमत 54400 रुपए प्रति किलो हो गई है पर इसके साथ जीएसटी और ज्वैलर का 10 से 15 प्रतिशत मुनाफा जोड़ने के बाद यह करीब 59840 रुपए में मिलेगी।

23 कैरेट सोने पर भी 3 प्रतिशत जीएसटी और 10 प्रतिशत मुनाफा जोड़कर आप प्रति 10 ग्राम 56899 रुपए में खरीद सकते हैं। जबकि, तीन प्रतिशत जीएसटी के साथ 22 कैरेट सोने का भाव 47572 रुपए हो जाएगा। इससे बने जेवरों पर ज्वैलर्स का मुनाफा जोड़ने के बाद आपको प्रति 10 ग्राम के लिए करीब 52329 रुपए देने होंगे।

3 प्रतिशत जीएसटी जोड़ने के बाद, प्रति 10 ग्राम 18 कैरेट के सोने की कीमत और 38951 रुपए होगी। इसमें ज्वेलर का 10 प्रतिशत लाभ जोड़ने पर यह 42846 रुपए हो जाएगा। अब जीएसटी के साथ प्रति 10 ग्राम 14 कैरेट सोने का भाव 30381 रुपए होगा और इसमें 10 प्रतिशत मुनाफा जोड़ने पर यह कुल 33420 रुपए हो जाएगा। 

आईबीजेए द्वारा जारी की गई दर पूरे देश में मानी जाती है। इसकी वेबसाइट पर दिए गए भाव में जीएसटी नहीं जोड़ा गया है। अगर आप सोना खरीद या बेच रहे हैं तो आईबीजेए की रेट का हवाला दे सकते हैं। इंडिया बुलियन एंड ज्वैलर्स एसोसिएशन के अनुसार आईबीजेए पूरे देश के 14 केंद्रों से सोने-चांदी के मौजूदा भाव की जानकारी लेकर इसका औसत मूल्य बताता है। हालांकि, अलग-अलग जगहों पर सोने-चांदी के मौजूदा भाव में अंतर हो सकता है पर यह अंतर बहुत ही कम होता है।

यह भी पढ़ें: सोने की हॉलमार्किंग के नए नियम १ जून से लागू 

संवादपत्र

संबंधित लेख