Gold loans in emergency: आकस्मिक स्थिति में पैसे जुटाने में सहायक होता है गोल्ड लोन

गोल्ड लोन या घर में रखे गहनों के बदले लोन जरूरत के समय धन जुटाने का अच्छा विकल्प है।

Gold loan is cheaper than the other loans

Gold Loans for emergency: जीवन में कई बार ऐसे अवसर आ जाते हैं जब आपको फौरन अधिक रकम की जरुरत पड़ सकती है। ऐसी स्थिति में अक्सर बचत करके जमा की गई रकम कम पड़ जाती है, और पैसों का इंतज़ाम करना भी ज़रूरी होता है। ऐसे में किसी दूसरे की मदद लेनी पड़ती है या कहीं से भारी ब्याज पर कर्ज लेना होता है। ऐसे ही मुश्किल परिस्थितियों जैसे किसी गंभीर बीमारी, दुर्घटना, शादी-ब्याह, बच्चों की शिक्षा जैसे मामलों में पैसे जुटाने के लिए आपके घर में रखे कीमती जेवर काफी सहायक हो सकते हैं। अधिकांश वित्तीय संस्थाएं गहनों के बदले यानी उन्हें गिरवी रखकर लोन देने को राजी हो जाती हैं। कीमती जेवरों को ऋण वसूली का एक साधन माना जाता है। कीमती धातुओं को गिरवी रखने पर बैंक व अन्य वित्तीय संस्थाएं आसानी से गोल्ड लोन स्कीम में कर्ज देती हैं। गोल्ड लोन लेने के कई फायदे हैं। लचीलेपन और अन्य फायदों के कारण गोल्ड लोन बहुत ही कम समय में लोगों में काफी लोकप्रिय हो गया है। गोल्ड लोन लेते हुए हमें यह ध्यान रखना चाहिए कि किसी वास्तविक आकस्मिकता से समय ही लोन लें।

यह भी पढ़ें: सोने की कीमत आ गई नीचे

किन मौकों पर गोल्ड लोन लेना उचित है

घर में रखे जेवर ऐसी पूंजी हैं जो दुर्दिन में और ज़रूरत के समय काम आती है। जैसे कि अगर आप अपने व्यवसाय को बढ़ाना चाहते हों और उसके लिए धन चाहिए तो किसी और तरह से कर्ज लेने की बजाय जेवर रखकर गोल्ड लोन लिया जा सकता है। स्थिति सामान्य होते ही आप अपने गहने वापस ले सकते हैं।

आजकल उच्च शिक्षा भी काफी महंगी हो गई है। कई बार वित्तीय संस्थाएं क्रेडिट स्कोर सही न होने, मासिक आय पर्याप्त न होने जैसे कारणों से शिक्षा के लिए लोन देने के लिए तैयार नहीं होती हैं। ऐसी स्थिति में अगर परिवार के किसी सदस्य का किसी अच्छे कालेज के कोर्स में नाम लिखाना हो तो गोल्ड लोन उस कोर्स की फीस भरने के लिए पैसे जुटाने का भी बढ़िया माध्यम है। गोल्ड लोन की ब्याज दर बाकी लोन से कम होती है। इसके अलावा लोन देने वाली संस्थाएं इसे चुकाने के लिए कुछ सुविधाएं भी देती हैं क्योंकि उन्हें अपनी रकम के डूब जाने का डर नहीं होता है। 

कई बार परिवार के किसी सदस्य को गंभीर बीमारी हो जाने या इमरजेंसी स्वास्थ्य देखभाल की ज़रूरत होने पर इलाज के लिए एक साथ अधिक पैसे चाहिए होते हैं। ऐसे में गोल्ड लोन लिया जा सकता है। यह अधिक धन जुटाने का सबसे अच्छा विकल्प है। आमतौर पर शादी-ब्याह में अधिक खर्च होता है। परिवार के किसी सदस्य की शादी पड़ जाने पर अचानक ढेर सारे पैसो की जरुरत आ जाती है। ऐसे में पैसे जुटाने के लिए भी गोल्ड लोन लेना काफी आसान है। गोल्ड लोन के लिए कम दौड़-धूप और कम कागजी कार्यवाही करनी होती है।

कई लोग हनीमून या छुट्टियों को यादगार बनाने के लिए फैमिली ट्रिप या फिर अपने पसंदीदा सफर पर जाने के लिए भी गोल्ड लोन का सहारा लेते हैं। इस लोन से मिले पैसों से फ्लाइट की टिकट, होटल में ठहरने समेत बाकी खर्च आसानी से पूरे किए जा सकते हैं। और बाद में इसे आसानी से धीरे-धीरे चुकाया जा सकता है। फिर भी यह ध्यान रखना ज़रूरी है कि गोल्ड लोन खास ज़रूरत के समय ही लेना चाहिए।

यह भी पढ़ें: सोने की हॉलमार्किंग के नियम लागू

Gold Loans for emergency: जीवन में कई बार ऐसे अवसर आ जाते हैं जब आपको फौरन अधिक रकम की जरुरत पड़ सकती है। ऐसी स्थिति में अक्सर बचत करके जमा की गई रकम कम पड़ जाती है, और पैसों का इंतज़ाम करना भी ज़रूरी होता है। ऐसे में किसी दूसरे की मदद लेनी पड़ती है या कहीं से भारी ब्याज पर कर्ज लेना होता है। ऐसे ही मुश्किल परिस्थितियों जैसे किसी गंभीर बीमारी, दुर्घटना, शादी-ब्याह, बच्चों की शिक्षा जैसे मामलों में पैसे जुटाने के लिए आपके घर में रखे कीमती जेवर काफी सहायक हो सकते हैं। अधिकांश वित्तीय संस्थाएं गहनों के बदले यानी उन्हें गिरवी रखकर लोन देने को राजी हो जाती हैं। कीमती जेवरों को ऋण वसूली का एक साधन माना जाता है। कीमती धातुओं को गिरवी रखने पर बैंक व अन्य वित्तीय संस्थाएं आसानी से गोल्ड लोन स्कीम में कर्ज देती हैं। गोल्ड लोन लेने के कई फायदे हैं। लचीलेपन और अन्य फायदों के कारण गोल्ड लोन बहुत ही कम समय में लोगों में काफी लोकप्रिय हो गया है। गोल्ड लोन लेते हुए हमें यह ध्यान रखना चाहिए कि किसी वास्तविक आकस्मिकता से समय ही लोन लें।

यह भी पढ़ें: सोने की कीमत आ गई नीचे

किन मौकों पर गोल्ड लोन लेना उचित है

घर में रखे जेवर ऐसी पूंजी हैं जो दुर्दिन में और ज़रूरत के समय काम आती है। जैसे कि अगर आप अपने व्यवसाय को बढ़ाना चाहते हों और उसके लिए धन चाहिए तो किसी और तरह से कर्ज लेने की बजाय जेवर रखकर गोल्ड लोन लिया जा सकता है। स्थिति सामान्य होते ही आप अपने गहने वापस ले सकते हैं।

आजकल उच्च शिक्षा भी काफी महंगी हो गई है। कई बार वित्तीय संस्थाएं क्रेडिट स्कोर सही न होने, मासिक आय पर्याप्त न होने जैसे कारणों से शिक्षा के लिए लोन देने के लिए तैयार नहीं होती हैं। ऐसी स्थिति में अगर परिवार के किसी सदस्य का किसी अच्छे कालेज के कोर्स में नाम लिखाना हो तो गोल्ड लोन उस कोर्स की फीस भरने के लिए पैसे जुटाने का भी बढ़िया माध्यम है। गोल्ड लोन की ब्याज दर बाकी लोन से कम होती है। इसके अलावा लोन देने वाली संस्थाएं इसे चुकाने के लिए कुछ सुविधाएं भी देती हैं क्योंकि उन्हें अपनी रकम के डूब जाने का डर नहीं होता है। 

कई बार परिवार के किसी सदस्य को गंभीर बीमारी हो जाने या इमरजेंसी स्वास्थ्य देखभाल की ज़रूरत होने पर इलाज के लिए एक साथ अधिक पैसे चाहिए होते हैं। ऐसे में गोल्ड लोन लिया जा सकता है। यह अधिक धन जुटाने का सबसे अच्छा विकल्प है। आमतौर पर शादी-ब्याह में अधिक खर्च होता है। परिवार के किसी सदस्य की शादी पड़ जाने पर अचानक ढेर सारे पैसो की जरुरत आ जाती है। ऐसे में पैसे जुटाने के लिए भी गोल्ड लोन लेना काफी आसान है। गोल्ड लोन के लिए कम दौड़-धूप और कम कागजी कार्यवाही करनी होती है।

कई लोग हनीमून या छुट्टियों को यादगार बनाने के लिए फैमिली ट्रिप या फिर अपने पसंदीदा सफर पर जाने के लिए भी गोल्ड लोन का सहारा लेते हैं। इस लोन से मिले पैसों से फ्लाइट की टिकट, होटल में ठहरने समेत बाकी खर्च आसानी से पूरे किए जा सकते हैं। और बाद में इसे आसानी से धीरे-धीरे चुकाया जा सकता है। फिर भी यह ध्यान रखना ज़रूरी है कि गोल्ड लोन खास ज़रूरत के समय ही लेना चाहिए।

यह भी पढ़ें: सोने की हॉलमार्किंग के नियम लागू

Expert Article block example

संवादपत्र

संबंधित लेख