Good news for jewellery buyers on Karva Chauth: करवाचौथ पर जेवर खरीदनेवालों के लिए खुशखबरी

सोने-चांदी की बढ़ती कीमतों पर लगाम लगी

सोने चांदी की कीमतों में गिरावट

Rates of gold and silver: त्योहारों के इस मौसम में, खासकर करवाचौथ, धनतेरस और दिवाली पर अक्सर लोग सोने-चांदी की खरीदारी करते हैं। जाहिर है कि इस मौसम में इन महंगी धातुओं की कीमतें भी बढ़ जाती हैं। इस बार करवाचौथ से पहले सोना खरीदने वालों के लिए एक अच्छी खबर आई है। कई दिनों से सर्राफा बाजारों में सोने-चांदी की लगातार बढ़ती कीमतों पर सोमवार को रोक लग गई है। 

सोमवार की सुबह आईबीजेए द्वारा जारी की गई रेट के अनुसार 24 कैरेट सोना 51317 रुपए के रेट पर खुला और शाम तक घटकर 51120 रुपए पर बंद हुआ। वहीं, प्रति किलो चांदी 58774 रुपए पर खुली और बाद में इसमें कुछ सुधार करते हुए यह 58949 रुपए पर बंद हुई। अब प्रति दस ग्राम 22 कैरेट सोने की कीमत 46826 और 23 कैरेट सोने की कीमत 50915 रुपए है। इसके अलावा, प्रति 10 ग्राम 18 कैरेट सोने का रेट 38340 रुपए और 14 कैरेट के सोने की कीमत अब 29905 रुपए हो गई है। 24 कैरेट सोने का भाव 645 रुपए कम हुआ है और चांदी के भाव में भी कमी आई है।

दिल्ली के सर्राफा बाजारों में सोमवार को सोना 543 रुपए गिरकर 51,625 रुपए प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया। साथ ही 2,121 रुपए की भारी गिरावट के साथ चांदी भी 59,725 प्रति किलोग्राम पर पहुंच गई। पहले चांदी की कीमत 61,846 प्रति किलो थी। अंतरराष्ट्रीय बाजार में भी सोने की कीमतों में कमी आई, और यहाँ सोना 1,683.05 डॉलर प्रति औंस और चांदी 19.74 डॉलर प्रति औंस पर बिक रही थी। 

इंदौर के सर्राफा बाजार में शनिवार के मुकाबले सोमवार को सोने के भाव में 250 रुपए प्रति 10 ग्राम और चांदी के भाव में 400 रुपए प्रति किलोग्राम की कमी हुई। सोना 52150 रुपए प्रति 10 ग्राम और चांदी 59100 रुपए प्रति किलोग्राम के रेट से बिकी। जबकि, चांदी का सिक्का 750 रुपए प्रति नग पर बिका।

आईबीजेए द्वारा जारी रेट के मुताबिक, अब 22 कैरेट के सोने की कीमत 46826 और 23 कैरेट सोने की कीमत 50915 रुपए प्रति 10 ग्राम है। वहीं 18 कैरेट का सोना 38340 रुपए पर है और 14 कैरेट सोने की कीमत अब 29905 रुपए प्रति 10 ग्राम हो गई है। इसमें जीएसटी शामिल नहीं है।

संबंधित आलेख: सोने की कीमत आ गई नीचे

सोने-चांदी की कीमतों में गिरावट की वजह

एचडीएफसी सिक्योरिटीज के शोध विश्लेषक दिलीप परमार ने जानकारी दी कि अमेरिका के मजबूत रोजगार के आंकड़ों ने अमेरिकी केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व द्वारा ब्याज दरों में आक्रामक रूप से बढ़ोतरी की आशंका को और बढ़ा दिया है। ब्याज दरों के बढ़ने से सोने में निवेश को कम आकर्षक माना जाता है। मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज के वरिष्ठ उपाध्यक्ष नवनीत दमानी ने कहा कि अमेरिकी नौकरियों के मजबूत आंकड़ों ने इस विचार को मजबूत किया है कि फेड ब्याज दरों में आक्रामक बढ़ोतरी की अपनी नीति जारी रखेगा। डॉलर इंडेक्स 113 अंक के ऊपर है और लगातार ऊपर चढ़ रहा है।

उन्होंने कहा कि अमेरिकी नौकरी की वृद्धि सितंबर में कुछ धीमी हो गई, साथ ही बेरोजगारी की दर 3.5% तक गिर गई, जिसकी वजह से फेड अपनी आक्रामक मौद्रिक नीति को कुछ समय के लिए सख्त रखने पर दृढ़ है। दूसरी ओर, उत्तर कोरिया, रूस और यूक्रेन से मिसाइल हमलों से उपजे भू-राजनीतिक तनाव के कारण यह धातु के सुरक्षित आश्रय की अपील का समर्थन कर रहा है। पिछले सप्ताह भारत में फिजिकल गोल्ड की कीमतों में गिरावट आई थी। रुपए में गिरावट और स्थानीय कीमतों में वृद्धि के कारण त्योहारी मांग भी कम हुई थी। कोमेक्स पर व्यापक रुझान 1665-1715 डॉलर की सीमा में रह सकता है और घरेलू मोर्चे पर बाजार में सोना 51,200 - 51,850 के बीच बना रह सकता है।

यह भी पढ़ें: सोने की हॉलमार्किंग के नियम लागू

Rates of gold and silver: त्योहारों के इस मौसम में, खासकर करवाचौथ, धनतेरस और दिवाली पर अक्सर लोग सोने-चांदी की खरीदारी करते हैं। जाहिर है कि इस मौसम में इन महंगी धातुओं की कीमतें भी बढ़ जाती हैं। इस बार करवाचौथ से पहले सोना खरीदने वालों के लिए एक अच्छी खबर आई है। कई दिनों से सर्राफा बाजारों में सोने-चांदी की लगातार बढ़ती कीमतों पर सोमवार को रोक लग गई है। 

सोमवार की सुबह आईबीजेए द्वारा जारी की गई रेट के अनुसार 24 कैरेट सोना 51317 रुपए के रेट पर खुला और शाम तक घटकर 51120 रुपए पर बंद हुआ। वहीं, प्रति किलो चांदी 58774 रुपए पर खुली और बाद में इसमें कुछ सुधार करते हुए यह 58949 रुपए पर बंद हुई। अब प्रति दस ग्राम 22 कैरेट सोने की कीमत 46826 और 23 कैरेट सोने की कीमत 50915 रुपए है। इसके अलावा, प्रति 10 ग्राम 18 कैरेट सोने का रेट 38340 रुपए और 14 कैरेट के सोने की कीमत अब 29905 रुपए हो गई है। 24 कैरेट सोने का भाव 645 रुपए कम हुआ है और चांदी के भाव में भी कमी आई है।

दिल्ली के सर्राफा बाजारों में सोमवार को सोना 543 रुपए गिरकर 51,625 रुपए प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया। साथ ही 2,121 रुपए की भारी गिरावट के साथ चांदी भी 59,725 प्रति किलोग्राम पर पहुंच गई। पहले चांदी की कीमत 61,846 प्रति किलो थी। अंतरराष्ट्रीय बाजार में भी सोने की कीमतों में कमी आई, और यहाँ सोना 1,683.05 डॉलर प्रति औंस और चांदी 19.74 डॉलर प्रति औंस पर बिक रही थी। 

इंदौर के सर्राफा बाजार में शनिवार के मुकाबले सोमवार को सोने के भाव में 250 रुपए प्रति 10 ग्राम और चांदी के भाव में 400 रुपए प्रति किलोग्राम की कमी हुई। सोना 52150 रुपए प्रति 10 ग्राम और चांदी 59100 रुपए प्रति किलोग्राम के रेट से बिकी। जबकि, चांदी का सिक्का 750 रुपए प्रति नग पर बिका।

आईबीजेए द्वारा जारी रेट के मुताबिक, अब 22 कैरेट के सोने की कीमत 46826 और 23 कैरेट सोने की कीमत 50915 रुपए प्रति 10 ग्राम है। वहीं 18 कैरेट का सोना 38340 रुपए पर है और 14 कैरेट सोने की कीमत अब 29905 रुपए प्रति 10 ग्राम हो गई है। इसमें जीएसटी शामिल नहीं है।

संबंधित आलेख: सोने की कीमत आ गई नीचे

सोने-चांदी की कीमतों में गिरावट की वजह

एचडीएफसी सिक्योरिटीज के शोध विश्लेषक दिलीप परमार ने जानकारी दी कि अमेरिका के मजबूत रोजगार के आंकड़ों ने अमेरिकी केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व द्वारा ब्याज दरों में आक्रामक रूप से बढ़ोतरी की आशंका को और बढ़ा दिया है। ब्याज दरों के बढ़ने से सोने में निवेश को कम आकर्षक माना जाता है। मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज के वरिष्ठ उपाध्यक्ष नवनीत दमानी ने कहा कि अमेरिकी नौकरियों के मजबूत आंकड़ों ने इस विचार को मजबूत किया है कि फेड ब्याज दरों में आक्रामक बढ़ोतरी की अपनी नीति जारी रखेगा। डॉलर इंडेक्स 113 अंक के ऊपर है और लगातार ऊपर चढ़ रहा है।

उन्होंने कहा कि अमेरिकी नौकरी की वृद्धि सितंबर में कुछ धीमी हो गई, साथ ही बेरोजगारी की दर 3.5% तक गिर गई, जिसकी वजह से फेड अपनी आक्रामक मौद्रिक नीति को कुछ समय के लिए सख्त रखने पर दृढ़ है। दूसरी ओर, उत्तर कोरिया, रूस और यूक्रेन से मिसाइल हमलों से उपजे भू-राजनीतिक तनाव के कारण यह धातु के सुरक्षित आश्रय की अपील का समर्थन कर रहा है। पिछले सप्ताह भारत में फिजिकल गोल्ड की कीमतों में गिरावट आई थी। रुपए में गिरावट और स्थानीय कीमतों में वृद्धि के कारण त्योहारी मांग भी कम हुई थी। कोमेक्स पर व्यापक रुझान 1665-1715 डॉलर की सीमा में रह सकता है और घरेलू मोर्चे पर बाजार में सोना 51,200 - 51,850 के बीच बना रह सकता है।

यह भी पढ़ें: सोने की हॉलमार्किंग के नियम लागू

Expert Article block example

संवादपत्र

संबंधित लेख