TomorrowMakers

यदि आप यह जान जायें कि अपने बीमा कंपनी से चिकित्सा बिल की प्रतिपूर्ति नकदहीन दाबा निपटान की तुलना में लगभग आधा ही प्राप्त होता है, तो स्वाभाविक है कि आप पहले विकल्प की ओर जाएँगे।

5 easy steps to find the best health insurance for you hindi

लेखक- प्रीति कुलकर्णी

यदि आप यह जान जायें कि अपने बीमा कंपनी से चिकित्सा बिल की प्रतिपूर्ति नकदहीन दाबा निपटान की तुलना में लगभग आधा ही प्राप्त होता है, तो स्वाभाविक है कि आप पहले विकल्प की ओर जाएँगे। लेकिन जब किसी पॉलिसी के चुनाव की बात आती है, तो क्रेता ऐसे निर्णायक बातों पर अक्सर ध्यान नहीं देता है। अतः, यहाँ एक जाँच-सूची दी गई है, जिसकी आवश्यकता आपको अपने स्वास्थ्य बीमा खरीदने से पहले चुनाव करने में होगी।   

आपकी आवश्यकताएँ

आपको जिस प्रकार की स्वास्थ्य बीमा की आवश्यकता है वह आपके पड़ोसी की बीमा कंपनी के जैसा नहीं भी हो सकती है। आपकी पॉलिसी का निर्धारण आपके परिवार की आवश्यकता के आधार पर होना चाहिए। किसी पॉलिसी को चुनने में परिवार के सदस्यों की संख्या और उनकी आयु अति-आवश्यक है।  उदाहरण के लिए, एक युवा परिवार 5 लाख के मूल कवर के साथ यह कर सकता है, जबकि वरिष्ठ नागरिक वाला एक परिवार विस्तृत प्रवाहशील कवर का चुनाव करेंगे, ऐसा विशेषज्ञों का कहना है। यदि माता-पिता काफी बूढ़े हैं, तो यह विद्वत्ता होगा कि उनके लिए अलग कवर लें और उन्हें साथ वाले योजना में शामिल न करें। इसके बाद, आपको स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी के रूप में मातृत्व कवर के चुनाव में सावधान रहना होगा। यदि आप दो वर्ष के अंदर एक बच्चा का योजना बना रहे हैं तो आप मातृत्व कवर के बिना परेशानी महसूस करेंगे जो कि काफी लंबे प्रतीक्षा के बाद आता है तथा पॉलिसी किस्त को लगभाग दोगुना कर देता है।  

सीमांकन तथा अपवर्जन

जब आप अपने विशिष्ट आवश्यकता के आधार पर किसी पॉलिसी को चुनते हैं तो योजना के सीमांकन और अपवर्जन को समझने के लिए अच्छे प्रिंट को देखें। अधिकांश मौलिक योजनाएँ विशिष्ट उपचार के लिए उप-सीमा साथ लेकर चलते है। उदाहरण के लिए, अस्पताल के कक्ष भाड़ा पर प्रतिबंध। सामान्यतः, एक 5-लाख का कवर बीमा किये गये धन का 1% दैनिक कक्ष भाड़ा को प्रतिबंधित करता है। हाल ही में, यह आपको एक निजी कक्ष दे सकता है, जब तक आपको एक उच्च-स्तरीय सामूहिक अस्पताल के लिए प्रेरित नहीं किये जाते हैं, और आपको किस्त बदलाव को खरीदने के लिए बिना कक्ष-भाड़ा उप सीमा का आपको संसाधन बढ़ाने की आवश्यकता नहीं होगी।       

"इसके बावजूद, यदि आप अच्छे कमरे वाले उच्च-सीमा अस्पताल की ओर जाते हैं तो कक्ष-भाड़ा उप-सीमा का योजना आपके लिए कार्य नहीं करेगा,” ऐसा वेंटेज बीमा ब्रोकर्स के  CEO, अरबिंद लद्धा का कहना है।   और, आज से कुछ वर्ष पहले, दिये गये स्वास्थ्य-देखभाल मुद्रास्फीति, ये कक्ष-भाड़ा उप-सीमा, उच्च-सीमा अस्पतालों के लिए भी पर्याप्त नहीं हो सकता है। "ऐसे प्रतिबंधों के साथ, निजी कक्षों का मिलना काफी कठिन हो जाएगा। सभी अन्य खर्च कक्ष भाड़ा पात्रता से जुड़े होते हैं, जो आपके संपूर्ण दाबा योग्यता को कम करता है,” ऐसा कवरफॉक्स डॉट कॉम, हेल्थ बीमा तथा वैयक्तिक दुर्घटना के निदेशक, महावीर चोपड़ा का कहना है।  

किस्त और योजना

विशेषज्ञों का कहना है कि हमें नहीं तो सबसे सस्ते पॉलिसी को खरीदने पर केंद्रित होना चाहिए और न ही लाभ-आधिक्य देने वाले पॉलिसी पर। इस बात पर जोर होना चाहिए कि क्या पॉलिसी आपकी आवश्यकताओं को पूर करती है। अनेक स्वास्थ्य बीमाएँ किस्त विविधिकरण के साथ आये हैं जो डॉक्टर के द्वितीय राय, टीकाकरण सुविधा, स्वास्थ्य लाभों, इत्यादि  की तरह सेवायें प्रदान करती है। "लाभ के लिए उच्च भुगतान करना, जिसे आप कभी उपयोग नहीं कर सकते हैं, सलाहयोग्य नहीं है,” लोधा का कहना है। और, सिर्फ कर लाभ के लिए उच्च समाप्ति कवर खरीदने की भी सलाह नहीं दी जाती है। आप हमेशा अन्य कर-वचत योजना में निवेश कर सकते हैं जो अधिकांश प्रतिदान प्रदान करता है।  

गैर-नकदी अस्पताल नेटवर्क

भारतीय बीमा नियामक और विकास प्राधिकरण के अनुसार, प्रतिपूर्ति निवारण की स्थिति में औसत दावा भुगतान समान बीमारी-श्रेणी के लिए गैर-नकदी अदायगी दावा का ठीक आधा होता है। बीमा कंपनियों द्वारा इस पर विवाद होने के बावजूद भी, आपको बीमा कंपनियों के अस्पताल नेटवर्क की खोज अवश्य करना चाहिए जो कि गैर-नकद दावा निपटान की सुविधा प्रदान करता है। सूचना सामान्यतः बीमा कंपनियों के वेब-साइट पर उपलब्ध होते हैं। "प्रतिपूर्ति रूट अपनाने से आपका वित्त(अर्थ) विकृत होता है, चरम स्थिति में, आपके चुने हुए उपचार की गुणवत्ता में भी प्रभाव डालता है,” ऐसा लोधा का कहना है। गैर-नकद सुविधा का चुनाव करने पर भी आपको सभी प्रलेखों को मिलाने, इन्हें बीमा कंपनियों को देने और उसका अनुसरन करने से बचाता है।    

बीमा कंपनियों का खोज रिकार्ड

किसी बीमा कंपनी का अनुभाव, वित्तीय सामर्थ्य और सेवा रिकॉर्ड भी महत्त्वपूर्ण है। “निम्न दावा निपटान अनुपात के साथ कोई बीमा कंपनी समस्या उत्पन्न कर सकती है,” ऐसा लोधा का कहना है। यदि संभव हो तो, आपको भी संपन्नता सीमा को अपनाने की आवश्यकता पड़ सकती हैकिसी बीमा कंपनी की दवा भुगतान करने की क्षमताऔर बीमा कंपनियों द्वारा बढ़ाया गया किस्त वृद्धि। किसी कंपनी का व्यवसाय में होने के वर्षों की संख्या को भी ध्यान में रखा जाता है। "स्वास्थ्य बीमा में यह विशेषज्ञता पॉलिसियों के प्रकार में प्रतिबिंबित किया जाएगा। विस्तृत उत्पाद सीमा वाला कोई बीमा कंपनी, एक अच्छा विकल्प हो सकता है," लोधा ने आगे जोड़ता है

स्रोत: इकनॉमिक टाइम्स

संबंधित लेख