आप सभी को यूनिट-लिंक्ड हेल्थ प्लांस के बारे में अवश्य जानना चाहिए

यदि आप मार्केट-लिंक्ड निवेशों को उत्पन्न करने के विकल्पों के साथ स्वास्थ्य बीमा सुरक्षा चाहते हैं, तो यूएलएचपी इसका विकल्प है।

आप सभी को यूनिट-लिंक्ड हेल्थ प्लांस के बारे में अवश्य जानना चाहिए

स्वास्थ्य ही संपत्ति है, लेकिन सही बीमा पॉलिसी के साथ आप स्वास्थ्य और संपत्ति दोनों को एकसाथ मिला सकते हैं। यूनिट-लिंक्ड हेल्थ प्लांस (यूएलएचपी) स्वास्थ्य बीमा लाभों और वचतों का एक कॉम्बो पैक है। यह यूनिट-लिंक्ड इंश्योरेंस प्लांस की तरह ही है जो जीवन सुरक्षा के साथ एक मार्केट-लिंक्ड निवेश है। जीवन सुरक्षा के लिए भी यूएलएचपी का उपयोग किया जा सकता है। अधिकांश यूएलएचपी उत्पाद अतिरिक्त लाइफ इंश्योरेंस राइडर प्रदान करता है जो सिंगल प्लान में हेल्थ कवर, लाइफ कवर और वेल्थ कवर शामिल करने की आपकी इच्छा को पूरा करता है। 

यूएलएचपी प्लान का परिचय

सामान्य स्वास्थ्य बीमा प्लान आपके मेडिकल खर्चों को कवर करता है जब आपको किसी मेडिकल इलाज या अस्पताल में भर्ती होने की जरूरत होती है। यह कवर प्राप्त करने के लिए, आपको एक नियमित प्रीमियम का भुगतान करना होता है जिसमें आप और आपका परिवार शामिल हो सकता है। हालांकि, यदि आप अस्पताल में भर्ती नहीं होते हैं या कोई बड़ी मेडिकल समस्या से पीड़ित नहीं होते हैं, तो आपको ऐसा लग सकता है कि दिया गया प्रीमियम डूब गया। यूनिट लिंक्ड हेल्थ प्लान यह सुनिश्चित करने के लिए तैयार किया गया है कि आपको भुगतान किए गए प्रीमियम के बदले कुछ मिले। यूएलएचपी ऐसा स्वास्थ्य बीमा योजना है जो निवेश पर एक रिटर्न प्रदान करता है, जो सामान्य स्वास्थ्य बीमा योजनाएं नहीं करती।

यूएलएचपी के लिए प्रीमियम

यूएलएचपी में भुगतान किए गए प्रीमियम का एक भाग पॉलिसी धारक को मेडिकल कवर प्रदान करने के लिए निश्चित की जाती है। प्रीमियम के बाकी के भाग को मार्केट-लिंक्ड सेविंग प्लान में लगाया जाता है। बीमाकर्ता प्रीमियम के सेविंग वाले भाग का उपयोग आपकी ओर से विभिन्न स्थानों पर निवेश करने के लिए करता है। प्रीमियम की राशि आयु, स्वास्थ्य की स्थिति और धूम्रपान की आदतों पर निर्भर करती है और अलग-अलग बीमाकर्ता की प्रीमियम राशि अलग-अलग होती है।

यूएलएचपी के लिए पात्रता मानदंड

18 वर्ष से अधिक की आयु वाला कोई भी व्यक्ति यूएलएचपी खरीद सकता है। अधिकतम प्रवेश आयु आमतौर पर 50 से 60 वर्ष होती है, जबकि प्लान की परिपक्वता के समय अधिकतम स्वीकृत आयु 70-75 वर्ष है जो पॉलिसी की अवधि और शर्तों पर निर्भर होती है। 

इससे जुड़ी बातें: 8 स्वास्थ्य बीमा शब्दावलियों की परिभाषा

यूएलएचपी क्यों खरीदना चाहिए?

  • अतिरिक्त कवर: सामान्य स्वास्थ्य बीमा सुरक्षा में, अनेक ऐसे खर्चे होते हैं जो कवर नहीं होते। अस्पताल में भर्ती होना अधिकांश स्टैंडर्ड हेल्थ प्लान में एक अनिवार्य मानदंड है, यद्यपि अतिरिक्त राइडर्स उपलब्ध होते हैं जिनमें ओपीडी इलाज शामिल होता है। लेकिन यूएलएचपी कवर के साथ, आपके पास निवेश के ऐसे भाग होते हैं जो आपको क्षमता से ज्यादा खर्चों से बचाता है। यदि मेडिकल बिल के ऐसे भाग हैं जो स्वास्थ्य योजना में शामिल नहीं हैं, तो योजना के निवेश भाग में जमा धनराशि से ऐसे भाग के खर्चों को पूरा किया जा सकता है जो शामिल नहीं है। यह बचावकारी डायग्नॉस्टिक्स, प्रतीक्षा अवधि के अंदर पहले से मौजूद बीमारियों, डेंटल केयर और ऐसे मेडिकल खर्चे के शामिल करने के लिए भी बहुत सुविधाजनक है जो संभवत: किसी स्वास्थ्य योजना में शामिल नहीं होते।
  • परिपक्वता लाभ: चूंकि आप यूएलएचपी में योगदान लगातार देते रहते हैं, आपकी बचत एक्सपर्ट तरीके से निवेशित होती है। सामान्य स्वास्थ्य योजना के विपरीत, आपको कवरेज की अवधि के अंत में परिपक्वता राशि प्राप्त होती है। इसलिए, आपके पास आपके डिस्पोजल पर एक प्रभावी धनराशि होती है जिससे आप पॉलिसी कवरेज की अवधि के बाद भी अपने मेडिकल खर्चों को पूरा कर सकते हैं। पॉलिसी धारक की मृत्यु की स्थिति में, नामिती परिपक्वता राशि प्राप्त करने के लिए योग्य होता है।
  • रखरखाव की आसानी: अलग-अलग स्वास्थ्य और निवेश योजनाओं के लिए दो बार रखरखाव करने होते हैं। हालांकि, यूएलएचपी में आप उसी प्रीमियम में अपने स्वास्थ्य कवर और बचत के लक्ष्यों का रखरखाव कर सकते हैं। ज्यादातर यूएलएचपी में भी आपके सेविंग कॉर्पस से ऑटोमैटिक प्रीमियम कटने की सुविधा है, यदि आप समय पर भुगतान करना भूल जाते हैं। लेकिन यह सुविधा पहले कुछ वर्षों के लिए उपलब्ध नहीं होती।
  • एकाधिक निवेश विकल्प: निवेश के मोर्चे पर, आपको अनेक विकल्प मिलते हैं। अधिकांश बीमाकर्ता कस्टमाइज्ड योजनाएं प्रदान करते हैं जहां आप मार्केट रिस्क ऐक्सपोजर के अपने स्तर का निर्णय कर सकते हैं। इसके अलावा, आपको रेडी-मेड प्लान भी मिलते हैं जो इक्विटी-युक्त, डेट-ओरिएंटेड या हाइब्रिड हो सकते हैं।
  • कर लाभ: यूएलएचपी में धारा 80C और 80D के अंतर्गत करों में लाभ का प्रावधान है। धारा 80D के तहत हॉस्पिटलाइजेशन कवर होता है जबकि बचा हुआ प्रीमियम धारा 80C के अंतर्गत कटौती योग्य है।  

इससे जुड़ी बातें: समूह स्वास्थ्य बीमा से व्यक्तिगत स्वास्थ्य बीमा में कैसे स्विच करें?

अंतिम शब्द

यूएलएचपी का चयन करने से पहले, दोनों ही मोर्चों पर प्लान की समीक्षा करें। स्वास्थ्य कवर प्रतिबंधात्मक नहीं होना चाहिए; वैसा कवरेज प्रदान करना चाहिए जो आप चाहते हैं। सेविंग कॉम्पोनेंट उतना ही बढ़िया होना चाहिए जितना कि उसी तरह की एकल निवेश योजना होती है। फंड के रिटर्न का एक विश्वसनीय ट्रैक रिकॉर्ड होना चाहिए। यदि आप यूएलएचपी का चयन करते हैं जिससे आपकी सभी जरूरतें पूरी होती है, तो आप इसके साथ अपना बीमा और निवेश लक्ष्यों को हासिल कर सकते हैं। मेडिकल बिल्स से कैसे निपटें जो आपके बीमा कवर से अधिक हैं?

हमें प्लान, प्रीमियम, पात्रता मानदंड के बारे में अधिक विवरण डालना है, क्या यह जीवन के लिए नवीकरणीय है? 




संबंधित लेख