शादी के बाद अपनी स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी को कैसे जारी रखें

एक व्यापक स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी उन चीजों में से एक है जो आपके जीवन के सभी पड़ावों के लिए ज़रूरी है , चाहे आपकी वैवाहिक स्थिति जो भी हो।

शादी के बाद अपनी स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी को कैसे जारी रखें

जब शादी की घडी नज़दीक आ रही होती हैं, तो स्वास्थ्य बीमा vo आखिरी बात हो सकती है जो आपके मन में आये । आप अपने शादी के कपडे, अतिथि सूची, हनीमून, और अपने साथी के साथ अपने जीवन का अगला अध्याय शुरू करने के बारे में सोच रहे होंगे। हालांकि, आपके जीवन के उस नए अध्याय के लिए कुछ तकनीकी और वित्तीय विचारों की आवश्यकता होती है यदि इसे मजबूत और निर्विघ्न होना हो। अपने स्वास्थ्य की आर्थिक रूप से सुरक्षा के लिए एक व्यापक स्वास्थ्य बीमा कवर जारी रखना उनमें से एक है। 

निम्नलिखित परिदृश्यों के आधार पर आपके पास अपने स्वास्थ्य बीमा को पोर्ट करने के लिए विभिन्न विकल्प हैं:

1. व्यक्तिगत स्वास्थ्य बीमा योजना

यदि, आपकी शादी से पहले, आपके पास एक व्यक्तिगत स्वास्थ्य बीमा योजना है, तो आप शादी के बाद इसे जारी रख सकते हैं। आपके पॉलिसी लाभ या बीमित राशि के संदर्भ में कुछ भी नहीं बदलता है। आपको केवल अपनी बीमा कंपनी को सूचित करना होगा और अपने विवाह प्रमाण पत्र की एक प्रति जमा करनी होगी। यह आपके व्यक्तिगत विवरण जैसे आपका पता और आपका नाम और हस्ताक्षर में आवश्यक परिवर्तन करने के लिए है, वो भी यदि आप अपने पति के अंतिम नाम को अपने नाम से जोड़ रहे हो तो ।

आप अपने पति को अपनी सेहत बिमा योजना के दायरे में जोड़ सकती हैं। यह आपके साथी के स्वास्थ्य पर निर्भर कर सकता है, इसलिए अपनी बीमा कंपनी से इस विषय में जानकारी लें । ज्यादातर बीमाकर्ताओं को केवल विवाह प्रमाण पत्रऔर आपके साथी के केवाईसी दस्तावेज की प्रति की जरूरत होती है । 

2. पति की व्यक्तिगत स्वास्थ्य बीमा योजना

यदि आपके पति के पास पहले से ही एक व्यक्तिगत स्वास्थ्य बीमा योजना है, तो आप उस पॉलिसी के तहत कवर किए जाने पर विचार कर सकते हैं। यदि आप दोनों के पास अपनी अलग-अलग व्यक्तिगत स्वास्थ्य बीमा पॉलिसियां हैं, तो आप उनको ही जारी रखना चुन सकते हैं। दोनों पॉलिसियों (विशेष रूप से प्रदान किए गए लाभों और कवरेज) की तुलना करें, यह तय करें कि आपकी आवश्यकताओं के अनुसार कौन बेहतर है, और संयुक्त रूप से उस स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत कवर किया जाना चुनें ।

आपको जिन सुविधाओं की जांच करनी चाहिए उनमें से कुछ -नकदरहित अस्पताल में भर्ती लेना,नेटवर्क अस्पताल के नाम, बीमाकर्ता का दावा निपटान अनुपात, ग्राहक सेवा, सह-भुगतान और विभिन्न शर्तों के अंतर्गत प्रतीक्षा अवधि हैं। प्रीमियम राशि एक महत्वपूर्ण कारक है, लेकिन यह केवल एक चीज नहीं है जो आपके निर्णय को चलाना चाहिए। 

3. परिवार फ्लोटर स्वास्थ्य बीमा योजना

संभावना है कि आप अपने माता पिता के साथ एक पारिवारिक स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत कवर किये जा रहे हो । शादी करने के बाद भी आप उस प्लान के दायरे में आते रहेंगे। अक्सर, हालांकि, पारिवारिक स्वास्थ्य बीमा योजनाओं में आश्रित बच्चों  के लिए आयु सीमा (आमतौर पर 21 से 25 वर्ष के बीच) होती है। इसलिए, आपकी वैवाहिक स्थिति से नहीं बल्कि आपकी उम्र से यह निर्धारित होता है कि आप पॉलिसी के तहत कवर किए जाएंगे या नहीं। यदि आप आयु सीमा के भीतर हैं, तो आपको शादी के बाद एक और स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी प्राप्त करने के बारे में चिंता करने की आवश्यकता नहीं है। कम से कम,अभी नहीं।

आप अपने पति की पारिवारिक स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत एक पत्नी के रूप में भी कवर किया जाना चुन सकते हैं, यदि ऐसी कोई पारिवारिक योजना मौजूद हो। इस मामले में, आप अपने परिवार के स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत कवर नहीं किये जाएंगे । पहले की तरह, आपको अपने विवाह प्रमाण पत्र और अपने केवाईसी दस्तावेजों की एक प्रति अपने पति के बीमाकर्ता को जमा करनी होगी।

4. नियोक्ता द्वारा प्रदान किया गया स्वास्थ्य बीमा

यदि आप जिस कंपनी के लिए काम करते हैं, वह स्वास्थ्य बीमा प्रदान करती है, तो बहुत अच्छा होगा । शादी करने के बाद भी यह नहीं बदलेगा। वास्तव में, अगर आपने अपने माता पिता को पहले से ही नामांकित नहीं किया है तो आपको अपने आश्रित के रूप में अपने पति को शामिल करने का विकल्प मिल सकता है। 

हालांकि, अगर नियोक्ता द्वारा प्रदान किया गया स्वास्थ्य बीमा आपके पास एकमात्र स्वास्थ्य कवर है, तो यह पर्याप्त नहीं होगा। यह कवरेज आमतौर पर पर्याप्त नहीं होता है और मातृत्व कवर जैसे महत्वपूर्ण ऐड-ऑन इसमें शामिल नहीं हो सकते हैं। आपको अपने वर्तमान नियोक्ता द्वारा प्रदान किए गए बीमा के पूरक के लिए अन्य स्वास्थ्य बीमा योजनाओं पर भी विचार करना चाहिए।

ध्यान रखने योग्य बातें

  • भारत में मातृत्व कवर के लिए प्रतीक्षा अवधि लगभग 3-4 साल है, जो एक लंबा समय है । इसलिए, भले ही आप निकट भविष्य में मातृत्व के लिए योजना नहीं बना रहे हैं, पर फिर भी अभी इस कवर को लेना सबसे अच्छा है ताकि आप आसानी से प्रतीक्षा अवधि को पूरा कर सकें। 
  • जब आप और आपके साथी साथ बैठें और अपने मौजूदा स्वास्थ्य बीमा योजनाओं की समीक्षा करें तो आप महसूस कर सकते हैं कि शादी के बाद आपकी आवश्यकताएं बदल गई हो। आपको उन्हें पूरा करने के लिए एक नई योजना का विकल्प चुनना पड़ सकता है, जिसकी या तो बीमा राशि ज्यादा हो या जो विशिष्ट ऐड-ऑन के साथ आये ।
  • एक महिला के रूप में, आपकी स्वास्थ्य देखभाल की जरूरतें पुरुषों से अलग हैं, इसलिए आपको यह सुनिश्चित करना चाहिए कि आपकी स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी उनका ख्याल रखे। स्तन कैंसर, अंडाशय के कैंसर आदि जैसी स्वास्थ्य स्थितियों को अक्सर पारंपरिक स्वास्थ्य बीमा योजनाओं के तहत कवर नहीं किया जाता है, इसलिए आपको महिला-विशिष्ट कवर का विकल्प चुनना पड़ सकता है।
  • यदि आपके परिवार और दोस्त आपको यह बताने के लिए तंग कर रहे हैं कि आपको शादी के लिए उनसे क्या उपहार चाहिए, तो क्यों न आपके उपहार की सूचि में आप एक व्यापक स्वास्थ्य बीमा योजना जोड़ें? एक बार जब आप अपनी पॉलिसी का चयन कर लेते हैं, तो आप उन्हें शादी के उपहार के रूप में प्रीमियम का भुगतान करने दे सकते हैं।
     

संबंधित लेख