TomorrowMakers

मकान मालिकों के लिए अपने मकान का बीमा करवाना उसी तरह जरूरी है, जैसा कि वो खुद का, अपनी कार का या फिर अपने विदेशी सैर का बीमा करवाते हैं।

मकान मालिकों के लिए अपने मकान का बीमा करवाना उसी तरह जरूरी है, जैसा कि वो खुद का, अपनी कार का या फिर अपने विदेशी सैर का बीमा करवाते हैं। यह अनमोल है। किसी भी क्षति या तबाही के गंभीर भावनात्मक और वित्तीय नतीजे होते हैं। भावनात्मक नुकसान की तो भरपाई नहीं की जा सकती, लेकिन वित्तीय नुकसान को कुछ हद तक कम की जा सकती है। और इस काम में मदद करती है सही बीमा योजना। 

1. प्राकृतिक आपदा एक खतरनाक वास्तविकता है

नेपाल में 2015 में आए भूकंप से 5.6 लाख जिंदगियां प्रभावित हुईं। साथ ही इस भूकंप से 4,73,000 घर नष्ट हो गए जबकि ₹ 1,000 करोड़ से ज्यादा का वित्तीय नुकसान हुआ। सही घर बीमा योजना रहने पर आप सभी तरह की प्राकृतिक आपदाओं जैसे भूकंप, तूफान, चक्रवात, बाढ़, भूस्खलन आदि से खुद की रक्षा कर सकते हैं।

2. मानवनिर्मित जोखिम काफी नुकसान पहुंचा सकता है

तमाम तरह के सुरक्षा गैजट्स और सुरक्षा उपकरणों के बावजूद टीवी पर प्रसारित होने वाले सभी अपराध शो की तरह चोरी, डकैती, आतंकवाद, दंगे, हड़ताल आदि मानव निर्मित खतरा है। इन सब मानवनिर्मित खतरों के लिए भी कवर प्रदान किया जाता है, लेकिन हर बीमा कंपनी इन घटनाओं के खिलाफ अपने-आप से कवर प्रदान नहीं करती। आप उनसे इन खतरों के खिलाफ सुरक्षा के लिए राइडर के बारे पूछताछ कर सकते हैं।

3. आप कहीं भी रहें आपको कवर की जरूरत है

आप चाहे तो किराए के फ्लैट या अपार्टमेंट में रहें या फिर हाउसिंग सोसायटी में घर का बीमा कराना जरूरी है। उदाहरण के लिए, यदि आप एक हाउसिंग सोसायटी में रहते हैं और आपके पट्टे अनुबंध (लीसिंग कांट्रॅक्ट) में बीमा भी शामिल है, बावजूद इसके प्राकृतिक घटनाओं ( आओग-एक्ट ऑफ गॉड) के खिलाफ आपको सुरक्षा नहीं मिल सकती। एक किराएदार के रूप में आपको केवल आग और चोरी के खिलाफ सुरक्षा मिल सकती है।

4. हर चीज कीमती है

गृह बीमा आम तौर पर आपके घर का निर्माण और आपके घर के भीतर रखे सामान दोनों को सुरक्षा प्रदान करता है। जरा सोचिये, जब घर गिरता है तो क्या होता है? घर तो गिरा ही, उसमें रखे सामानों का भी नुकसान पहुंचता है। इसमें महंगे घरेलू उपकरणों, श्रव्य और दृश्य उपकरणों, बिजली से जुड़े सामान, फर्नीचर आदि भी हो सकते हैं।

हममें से कई सारे लोगों के घरों में भावनात्मक या कलात्मक सामान भी होते हैं। जैसे, विरासत में मिला आभूषण या पेंटिग्स बगैरह। जब भी आप बीमा करवाते हैं तो ध्यान रखिये कि आपके लिए जरूरी चीजें क्या है जिसका बीमा करवाना है। आप इसके लिए बीमा पॉलिसी का दस्तावेज ठीक से पढ़िये और अपनी जरूरत के हिसाब से एक या दो राइडर चुनिये।

5. कुछ दूसरे लोगों को भी सुरक्षा की जरूरत हो सकती है

कई बार जब आपके घर में कोई मेहमान आएं हो या कोई तीसरी पार्टी मौजूद हो, तो हो सकता है कोई दुर्भाग्यपूर्ण घटना घटित हो जाए। ऐसे ही घटनाओं से आपको सुरक्षा देने के काम करती है टाटा एआईजी का सार्वजनिक दायित्व लाभ (पब्लिक लाइयबिलिटी बेनेफिट) ऑफर। इसके तहत तीसरे पक्ष को क्षति या शारीरिक चोट के कारण हुए आर्थिक नुकसान पर मुआवजा दिया जाता है। साथ ही अगर कोई कानूनी खर्च आता हो, तो उसकी भी भरपाई की जाती है।

इसके अतिरिक्त, कभी कभी 'अन्य संरचना' जो आपकी संपत्ति का हिस्सा तो होती है, लेकिन आपके घर से जुड़ी हुई नहीं भी हो सकती है। जैसे, गेराज, शेड या आपके घरेलू नौकर के रहने लिए कमरे। सही राइडर लेकर आप अपने घर के इन भागों का भी बीमा करा सकते हैं।

6. आपको स्थान परिवर्तन के समय मदद की जरूरत पड़ सकती है

कई बार आपको कुछ कारणों से अपना घर बदलना पड़ता है। कभी कभी अचानक आपको नए ठिकाने की तलाश करनी पड़ सकती है। जैसे आपके घर का पुनर्निर्माण का काम चल रहा हो या फिर बाढ़, भूकंप, चक्रवात जैसी आपात स्थिति उत्पन्न हो जाए। 2015 में दक्षिण भारत में बाढ़ से करीब 18 लाख लोग विस्थापित हुए थे। कई बीमा कंपनियां संकट की इस घड़ी में आपको वित्तीय मदद देने के लिए तैयार रहती हैं। मान लिया कि आपका घर रहने लायक नहीं है, तो टाटा एआईजी आपको कवर के तौर पर तीन महीने के लिए ₹ 30,000 तक का किराया देती है। ऐसे में जबतक आपके घर का पुनर्निर्माण नहीं हो जाता, आप कुछ समय तक आराम से रह सकते हैं।

सावधानी की बातें:

एक ज़िम्मेदार पॉलिसीहोल्डर के नाते आप अपने/ अपने परिवार की वित्तीय सुरक्षा चाहते हैं, तो कुछ महत्वपूर्ण बातों का जरूर ध्यान रखें। गृह बीमा से जुड़े पॉलिसी दस्तावेज के नियम और शर्तें जरूर पढ़ लें। आप आश्वस्त हो लें कि आप जो पॉलिसी लेने जा रहे हैं वह घर में रखे हर भौतिक वस्तु के लिए है या फिर सिर्फ जंगल की आग के खिलाफ आपकी दीवारों की रक्षा करने के लिए।  आप पॉलिसी लेने से पहले सुनिश्चित कर लें कि जो आप चाहते हैं वह आपकी पॉलिसी में शामिल है या नहीं।

कुछ और सवाल-जवाब के लिए, पढ़ें:  वॉट इस होमे इन्षुरेन्स, वॉट इट कवर्स, आंड वाइ योउ नीड इट.

संबंधित लेख