LIC Bachat Plus Plan scheme gives you good returns tax exemption and loan facility see details in hindi

एलआईसी की बचत प्लस योजना में निवेश कर मिलेगा तगड़ा रिटर्न, टैक्स छूट, लोन सुविधा।

LIC Bachat Plus Plan

LIC Bachat Plus Plan: देश की सबसे बड़ी जीवन बीमा कंपनी एलआईसी यानी भारतीय जीवन बीमा निगम में लाखों-करोड़ों लोग निवेश करते हैं। एलआईसी हर वर्ग, श्रेणी और सबके बजट के हिसाब से अलग-अलग स्कीम चलाती है। एक तरह से देखा जाए तो भारतीय जीवन बीमा निगम की योजनाएं काफी भरोसेमंद मानी जाती हैं। कुछ ऐसी ही है एलआईसी की बचत प्लस योजना। इस स्कीम में निवेश कर आपको बढ़िया रिटर्न भी मिलेगा साथ ही आपके पैसे भी सुरक्षित रहेंगे। चलिए विस्तार से जानते हैं बचत प्लस योजना के बारे में। 

कैसे भरें प्रीमियम?

एलआईसी की बचत प्लस योजना में आप अपनी सुविष अनुसार, पाँच साल की अवधि के लिए एक बार में प्रीमियम जमा कर सकते हैं। आप चाहे तो वार्षिक (साल भर में एक बार), छमाही (छह महीने में एक बार), तिमाही (तीन महीने में एक बार) या फिर मासिक (महीने में एक बार) आधार पर जमा कर सकते हैं प्रीमियम। 

इस स्कीम में निवेशक को प्रीमियम जमा करने के लिए 30 दिन का ग्रेस पीरियड भी दिया जाता है। ध्यान देने वाली बात ये है कि अगर आप ग्रेस पीरियड में प्रीमियम जमा करने से चूक जाते हैं तो आपकी पॉलिसी लैपस मान ली जाएगी और इसका फायदा आपको नहीं मिलेगा। 

लोन सुविधा 

जी हां, बचत प्लस योजना के तहत पॉलिसी धारक को लोन भी ले सकता है। अगर आप लिमिटेड प्रीमियम पेमेंट का ऑप्शन चुनते है तो आपको 2 साल प्रीमियम भरने के बाद लोन मिल पाएगा लेकिन अगर आप सिंगल प्रीमियम का ऑप्शन सेलेक्ट करते हैं तो पॉलिसी लेने के तीन महीने बाद या  फ्री लुक पीरियड कंप्लीट होने के बाद कभी भी लोन सुविधा उठा सकते हैं।

बचत प्लस योजना  में कैसे करें निवेश? 

इस बचत प्लस योजना को अगर आप लेना चाहते हैं तो ऑफलाइन या ऑनलाइन किसी भी तरीके से ले सकते हैं। एलआईसी की आधिकारिक वेबसाइट www.licindia.in पर जाकर जरूरी जानकारी भरकर आप पॉलिसी ले सकते हैं। इस योजना से आपको इनकम टैक्स सेक्शन 80C के तहत छूट की सुविधा भी मिलती है।  

कितनी होगी बीमा राशि?
एलआईसी की इस बचत प्लान के अंतर्गत बीमा राशि कम से कम 1 लाख रुपये होना चाहिए जबकि अधिक निवेश के लिए कोई लिमिट नहीं है।

संवादपत्र

संबंधित लेख