किसी महिला के लिए कार बीमा लेने से पहले ध्यान रखने वाली 5 बातें

यहां कुछ ज़रूरी बातें बताई जा रही हैं जिसका कार बीमा लेते समय प्रत्येक महिला को ध्यान रखना चाहिए

किसी महिला के लिए कार बीमा लेने से पहले ध्यान रखने वाली 5 बातें

दुनिया बहुत तेज़ी से आगे बढ़ रही है और इस तेज़ी से होते विकास ने महिलाओं की जिंदगी को भी बदल दिया है। पुरूषों की तरह ही बहुत सी महिलाएं अब घर चलाने के साथ ही बाहर के कामों में भी आगे बढ़ रही हैं। इस विकास के साथ ख़तरे भी हैं। इन ख़तरों में से एक है सही कार बीमा का ना लेना। 

अब ज़्यादा से ज़्यादा महिलाएं अपनी कार खरीद रही हैं इसलिए सही कार बीमा खरीदना बहुत ज़रूरी हो जाता है। सही कार बीमा लेना सही स्वास्थ्य बीमा लेने जितना ही ज़रूरी है। यह काम थोड़ा मुश्किल है लेकिन अगर आप समझदारी से काम लें तो बिना किसी परेशानी के सही कीमत पर सही कार बीमा चुन सकती हैं। यहां कुछ बातें बताई जा रही हैं जिनका कार बीमा खरीदते समय हमेशा ध्यान रखें:  

1. पता करें कि आप किस तरह की कार चला रही हैं और आप को किस तरह के बीमा की ज़रूरत है: 

आप जो कार चला रही हैं वह कार किस प्रकार की है और उससे जुड़ी बातों - जैसे कार की लंबाई-चौड़ाई, इंजन क्षमता आदि की जानकारी होना सबसे ज़रूरी है। इससे यह पता चलेगा कि आपकी कार के लिए किस श्रेणी के बीमा की ज़रूरत है। इससे आपको बेहतर कीमत पर बीमा मिल सकता है क्योंकि कार के हिसाब से बीमा प्रीमियम भी अलग-अलग होता है। इस पर विचार करें कि आपको किस तरह का बीमा चाहिए। क्या एक बेसिक प्लान काफी होगा या आपको अतिरिक्त बीमा कवर की भी ज़रूरत होगी? इस पर पर विचार करके बीमा खरीदें।

2. गाड़ी चलाने का बेहतरीन रिकॉर्ड :

अगर आपका गाड़ी चलाने का रिकॉर्ड बेहतर नहीं है तो आपको  बीमा सही कीमत या छूट के साथ नहीं मिलेगा। अगर आपसे कोई दुर्घटना नहीं हुई होगी तो बीमा कंपनियां आपको कीमत में छूट दे सकती हैं। अगर आप युवा ड्राइवर हैं तो अपना बेसिक ड्राइविंग टेस्ट बहुत अच्छे अंकों से पास करने की कोशिश करें, इससे आपको बेहतर कीमत में बीमा मिल सकता है। 

3. अच्छी तरह पड़ताल करें: एक उत्पाद पर ही ना रुकें। बीमा लेने से पहले रिसर्च करें और बेहतर बीमा प्लान की खोज करें। देखें की क्या बीमा आपकी ज़रूरतों को पूरा करता है। पता नहीं कहां आपको बेहतर बीमा प्लान मिल जाए। बाज़ार में बहुत से बीमा उपलब्ध हैं और उनमें बहुत से अतिरिक्त फायदे जैसे इंजन सुरक्षा, सड़क सुरक्षा आदि मिलते हैं। इन सब पर नज़र डालें और अपनी ज़रूरत के हिसाब से प्लान चुनें। आजकल सारी जानकारी इंटरनेट पर मौजूद है, अलग-अलग बीमा कंपनियों की वेबसाइट से पूरी जानकारी लें और सही बीमा चुनें। आप इन बीमा उत्पादों के ग्राहकों द्वारा की गई समीक्षा भी पढ़ सकते हैं।  

4. महिला केन्द्रित बीमा उत्पादों का पता करें : बीमा खरीदते समय ऐसे बीमा उत्पादों का पता करें जो खासतौर से महिलाओं को ध्यान में रखकर लाए गए हों। इस तरह का बीमा ना केवल आपकी ज़रूरतों को सही से पूरा करेगा बल्कि आपको छूट के साथ सही बीमा भी मिल सकेगा। उदाहरण के लिए: बजाज एलायंस पॉलिसी महिलाओं के लिए 24/7 स्पॉट असिस्टेंस देती है जिसमें आपात स्थिति में पास के चिकित्सा केन्द्र तक ले जाना, 50 किलोमीटर की परिधि में टैक्सी की सेवा, 3 लीटर तक पैट्रोल/डीज़ल भरवाना, ज़रूरत पड़ने पर 1000 रूपये प्रतिदिन होटल में रहने का खर्च आदि बातें शामिल है।

5. डिडक्टबल्स और लिमिट्स की जानकारी लें:जब आप सही कार बीमा की तलाश करें तो डिडक्टबल्स की जानकारी लें। डिडक्टबल्स वह राशि है जो आपकी कार में किसी तरह की दुर्घटना होने पर आपको अपनी ज़ेब से भरनी होगी। उदाहरण के लिए, मान लेते हैं कि किसी दुर्घटना के बाद आपके वाहन को ठीक करवाने का खर्च 32,000 रूपये आया और आपके बीमा में डिडक्टबल्स 10,000 रूपये हैं। तो आपको खर्च के 10,000 रूपये खुद भरने होंगे और शेष 22,000 बीमा कंपनी के द्वारा भरे जाएंगें।

6. एआरएआई सदस्यता छूट : अगर आप एआरएआई (ऑटोमोटिव रिसर्च एसोसिएशन ऑफ इंडिया) की सदस्य हैं तो कार बीमा लेते समय 5% या उससे ज़्यादा की छूट मिल सकती है। इसके अलावा, छूट लेने के लिए आप एआरएआई से मान्यता प्राप्त एंटी-थेफ्ट डिवाइस भी  अपनी कार में लगवा सकते हैं। ये छूट एसोसिएशन के सदस्यों और गैर-सदस्यों दोनों पर लागू होगी। एक अच्छा एंटी-थेफ्ट डिवाइस लगा होने से आप अपनी कार को चोरी से बचा सकते हैं। अकेले नई दिल्ली में कार चोरी की घटनाओं में 38% की बढ़ोतरी देखी गई है, इसलिए एक बेहतर एंटी-थेफ्ट डिवाइस लगवाना और भी ज़रूरी हो जाता है। इसके अलावा एंटी-थेफ्ट डिवाइस लगाने पर बीमा कंपनियां अतिरक्त छूट भी देती हैं। क्योंकि इस डिवाइस के लगने से ना केवल चोरी के मामलों में कमी आती है बल्कि कंपनियों के पास चोरी से जुड़े दावे भी कम आते हैं।

इसी तरह, पता करें कि दुर्घटना होने पर आपको अधिकतम कितना पैसा मिलेगा। अगर किसी दुर्घटना के बाद गाड़ी को ठीक करवाने का खर्च 55,000 रूपये आता है और आपका बीमा कवर  50,000 रूपये का है तो बाकि बची रकम आपको चुकानी होगी। इन खर्चों से सावधान रहें।

आखिरी लेकिन ज़रूरी बात, बहुत सी कार बीमा कंपनियां महिलाओं के लिए 24X7 रोडसाइड असिस्टेंस (आरएए) की सुविधा देती हैं, जिसमें पास के चिकित्सा केन्द्र तक ले जाना, कार और ड्राइवर को कहीं छोड़ना और पास के होटल में रूकने की सुविधा देना शामिल होता है।इसलिए बीमा की तलाश करते समय प्लान के बारे में ज़रूरी सूचना जमा करें जिससे आपको सही निर्णय लेने में आसानी हो।

तो परेशान ना हों; ऊपर बताई सलाहों का पालन करें और अपने लिए बेहतर बीमा प्लान खरीदें!

संबंधित लेख

Most Shared