High returns equity mutual fund schemes: हर साल 25% तक मुनाफा दे रही हैं ये इक्विटी स्कीमें

हर महीने 5000 रुपए के व्यवस्थित निवेश को एक करोड़ में बदलने का तरीका

लंबी अवधि के निवेश

Equity mutual fund schemes with high returns: साधारण तौर पर निवेशक पूंजी बाजार में इसलिए पैसे लगाते हैं ताकि उन्हें बेहतर मुनाफा मिले। कंजर्वेटिव यानी ऐसे निवेशक, जो जोखिम लेना नहीं चाहते हैं, वे अक्सर छोटी बचत और निवेश वाली ऐसी स्कीमों पर ध्यान देते हैं, जहां मुनाफा भले कम हो, पर वह निरंतर मिलता रहे। वहीं जो लोग जोखिम लेने का तैयार रहते हैं, वे इक्विटी में निवेश करते हैं। इक्विटी एक ऐसा जरिया है, जहां अगर निवेश की सही पहचान हो जाए तो पलक झपकते अमीर बना जा सकता है। इसमें भी म्यूचुअल फंड में निवेश करना, सीधे इक्विटी में निवेश से अधिक सुरक्षित होता है। बाजार में ऐसी बहुत सी इक्विटी स्कीमें हैं जिन्होंने बहुत अच्छा लाभ दिया है।

एक्सपर्ट म्यू्चुअल फंड में सिस्टमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान के जरिए निवेश की सलाह देते हैं। यहां आपका पैसा एक बार में नहीं फंसता, बल्कि हर महीने एक तय रकम निवेश करने का विकल्प मिलता है। अगर आप चाहें तो समय-समय पर एसआईपी टॉप-अप भी करा सकते हैं, यानी निवेश की जानेवाली रकम बढ़ा भी सकते हैं। लंबी अवधि के निवेश में एसआईपी से अधिक लाभ है, क्योंकि इसमें कंपाउंडिंग यानी चक्रवृद्धि का पूरा लाभ मिलता है। यहां ऐसी ही 5 फंड्स के बारे में जानकारी दी जा रही है, जिनमें 5000 रुपए का मासिक निवेश 20 साल में 1 करोड़ से ज्यादा बन गया है। 

यह भी पढ़ें: वैल्यू फंड दूसरे फंडों से कैसे अलग है?

लगातार बेहतर मुनाफा देने वाली पांच कंपनियां 

1. निप्पॉन इंडिया ग्रोथ फंड ने 20 साल में 24.45% सीएजीआर (चक्रवृद्धि वार्षिक वृद्धि दर) दिया है। इसका मतलब है कि 5000 रुपए के मासिक निवेश या एसआईपी का मूल्य 1.60 करोड़ रुपए हो गया है। 31 अगस्त, 2022 को इसकी कुल परिसंपत्ति 13,225 करोड़ रुपए आंकी गई है। 31 जुलाई 2022 तक कंपनी का एक्सपेंस रेश्यो 1.87 प्रतिशत रहा है। इसमें न्यूनतम एसआईपी यानी सिस्टेमेटिक इन्वेस्टमेंट प्लान की राशि 100 रुपए है। 

2. सुंदरम मिड कैप फंड ने 20 साल में 24.25% सीएजीआर (चक्रवृद्धि वार्षिक वृद्धि दर) दिया है। इसका मतलब है कि 5000 रुपए के मासिक निवेश या एसआईपी का मूल्य 1.60 करोड़ रुपए हो गया है। 31 अगस्त, 2022 को इसकी कुल परिसंपत्ति 7515 करोड़ रुपए की आंकी गई है। 31 जुलाई 2022 तक कंपनी का एक्सपेंस रेश्यो 1.85 प्रतिशत रहा है। इसमें न्यूनतम एसआईपी यानी सिस्टेमेटिक इन्वेस्टमेंट प्लान की राशि 100 रुपए है।  

3. फ्रैंकलिन इंडिया प्राइमा फंड ने 20 साल में 22.40% सीएजीआर (चक्रवृद्धि वार्षिक वृद्धि दर) दिया है। इसका मतलब है कि 5000 रुपए के मासिक निवेश या एसआईपी का मूल्य 1.27 करोड़ रुपए हो गया है। 31 अगस्त, 2022 को इसकी कुल परिसंपत्ति 7582 करोड़ रुपए की आंकी गई है। 31 जुलाई 2022 तक कंपनी का एक्सपेंस रेश्यो 1.88 प्रतिशत रहा है। इसमें न्यूनतम एसआईपी यानी सिस्टेमेटिक इन्वेस्टमेंट प्लान की राशि 500 रुपए है।  

4. डीएसपी फ्लेक्सी कैप फंड ने 20 साल में 22.12% सीएजीआर (चक्रवृद्धि वार्षिक वृद्धि दर) दिया है। इसका मतलब है कि 5000 रुपए के मासिक निवेश या एसआईपी का मूल्य 1.22 करोड़ रुपए हो गया है। 31 अगस्त, 2022 को इसकी कुल परिसंपत्ति 7990 करोड़ रुपए की आंकी गई है। 31 जुलाई 2022 तक कंपनी का एक्सपेंस रेश्यो 1.92 प्रतिशत रहा है। इसमें न्यूनतम एसआईपी यानी सिस्टेमेटिक इन्वेस्टमेंट प्लान की राशि 500 रुपए है।  

5. एचडीएफसी फ्लेक्सी कैप फंड ने 20 साल में 22% सीएजीआर (चक्रवृद्धि वार्षिक वृद्धि दर) दिया है। इसका मतलब है कि 5000 रुपए के मासिक निवेश या एसआईपी का मूल्य 1.20 करोड़ रुपए हो गया है। 31 अगस्त, 2022 को इसकी कुल परिसंपत्ति 30473 करोड़ रुपए की आंकी गई है। 31 जुलाई 2022 तक कंपनी का एक्सपेंस रेश्यो 1.77 प्रतिशत रहा है। इसमें न्यूनतम एसआईपी यानी सिस्टेमेटिक इन्वेस्टमेंट प्लान की राशि 100 रुपए है।

यह भी पढ़ें: शुरुआत से अपना म्यूच्यूअल फण्ड पोर्टफोलियो बनाने के सुझाव

शुरुआत से अपना म्यूच्यूअल फण्ड पोर्टफोलियो बनाने के सुझाव

M Stock

संवादपत्र

संबंधित लेख