Thematic mutual funds : नए जमाने के थीमैटिक फंड खरीदने से पहले देखें

क्या थीमैटिक फंड निवेश का अच्छा अवसर प्रदान करते हैं? वे ऐसा कर सकते हैं, लेकिन आप उनमें निवेश करने से पहले अपनी रिसर्च करें।

new age thematic funds

चाहे आप दोस्तों के साथ डिनर कर रहे हों या पारिवारिक समारोह में गपशप कर रहे हों, इस बात की बहुत संभावना है कि बातचीत हाइपरलूप ट्रांसपोर्ट या क्रिप्टोकरेंसी जैसे आधुनिक विषयों पर होगी। अब, इस तरह के हॉट टॉक के आसपास चर्चा एसेट मैनेजमेंट कंपनियों (AMC) को 'नई पीढ़ी के फंड' लॉन्च करने के लिए प्रोत्साहित कर रही है जैसा कि उन्हें म्यूचुअल फंड (MF) सर्किल्‍स में संदर्भित किया जाता है।

निप्पॉन इंडिया एक आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस फंड ऑफ फंड्स लॉन्च कर रही है, जबकि मिरे एसेट क्लाउड कंप्यूटिंग पर केंद्रित ETF लॉन्च कर रही है। अन्य AMC ने ब्लॉकचेन, इलेक्ट्रिक ट्रांसपोर्ट, क्‍लीन एनर्जी और डिफेंस पर केंद्रित फंड के लिए सेबी के पास ड्राफ्ट ऑफर डॉक्‍यूमेंट्स फाइल किए हैं। क्या ऐसे फंड निवेश का एक अच्छा अवसर प्रदान करते हैं, या यह एक ऐसा विचार है जिसका अभी समय नहीं आया है?

आइए इस मामले को विभिन्न दृष्टिकोणों से देखें:

  • द एएमसी

जबकि निच निवेश उत्पाद नए रुझानों का लाभ उठाने का अवसर प्रदान कर सकते हैं, फिर भी वे निवेशकों की रुचि को बढ़ाने और अधिक पूंजी या एसेट अंडर मैनेजमेंट (AUM) हासिल करने के लिए एक शक्तिशाली मार्केटिंग टूल के रूप में भी काम करते हैं। SEBI के निर्देशों के अनुसार, एक AMC के पास प्रत्येक फंड कैटेगरी में केवल एक फंड हो सकता है। एक न्‍यू फंड ऑफर (NFO) AMC को मौजूदा पोर्टफोलियो से कुछ स्‍टॉक्‍स को नए नाम से दोबारा पैक करने की सुविधा देता है।

  • द इन्‍वेस्‍टर

NFO 10 रुपए प्रति यूनिट के शुरुआती ऑफर प्राइस पर सस्ते होते हैं और निवेशकों को लंबी अवधि के मूल्य सृजन की संभावनाओं में जल्‍दी ऑन-बोर्ड होने की सुविधा देते हैं। पिछले 5-10 वर्षों में, कुछ थीमैटिक म्युचुअल फंड - जैसे कि बैंकिंग और वित्तीय सेवाओं, इन्‍फ्रास्‍ट्रक्‍चर और IT/ITES की ओर ध्यान आकर्षित करने वाले फंड्स ने अच्छा रिटर्न दिया है, इसलिए यह समझ में आता है कि निवेशक इस अवसर का जल्दी से लाभ उठाना क्यों चाहते हैं।

  • द एडवाइजरी

पोर्टफोलियो के सेक्‍टोरियल कंसन्‍ट्रेशन के कारण थीमैटिक फंड्स में निवेश करना स्वाभाविक रूप से जोखिम भरा होता है। यह उन निवेशकों के लिए और भी अधिक है जो शेयर बाजारों में नए हैं या जोखिम और अस्थिरता को संतुलित करने के लिए उनके एसेट मिश्रण में अन्य डायवर्सिफाइड निवेश विकल्प नहीं हैं। निवेशकों को यह आकलन करने की आवश्यकता होती है कि क्या कोई विशेष थीमैटिक फंड उनके वित्तीय लक्ष्यों और जोखिम उठाने की क्षमता के साथ फिट बैठता है।

यहां तक कि उन सेक्‍टर्स में भी जिनसे आप अच्छी तरह से वाकिफ हैं, उनके एक्‍सपोजर को आपके व्यक्तिगत वित्त लक्ष्यों के अनुरूप प्रबंधित किया जाना चाहिए। उदाहरण के लिए, यदि आप समझते हैं और आईटी और टेक्‍नोलॉजी फंड्स में निवेश करने के इच्छुक हैं, तो विशेष रूप से आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस या ब्लॉकचेन में निवेश करने वाले फंड्स में और ज्‍यादा भागीदारी अनुचित है। यह न केवल सेक्टर के लिए आपके आवंटन को बढ़ाता है, बल्कि दोनों पोर्टफोलियो में ओवरलैप होने वाले स्टॉक होने की भी उच्च संभावना होती है।

निष्‍कर्ष

वित्तीय नियोजन के मूलभूत स्तंभों में से एक ड्यू डिलिजेंस है। मौजूदा सनक या फैशन के आधार पर निवेश के फैसले न लें। थीमैटिक फंड का आधार जितना दिलचस्प लग सकता है, आपको ऊपर बताए गए सभी मापदंडों के आधार पर निवेश के फैसले पर सवाल उठाने की जरूरत है। यदि आपको पक्‍का नहीं पता है, तो किसी वित्तीय सलाहकार की सहायता लें। एक ज़िम्मेदार व्यक्ति आपका मार्गदर्शन कर सकता है कि क्या कोई विशेष थीमैटिक फंड आपके समय और धन के लायक है या नहीं।

संवादपत्र

संबंधित लेख