प्रत्यक्ष म्यूच्यूअल फंड्स में कैसे निवेश करें

: म्यूच्यूअल फंड निवेश को 'प्रत्यक्ष(डायरेक्ट) योजना' के माध्यम से करने से आपको कमिशन का खर्च बचता है और आपकी निवेश मूल्य भी बढ़ती है |

प्रत्यक्ष म्यूच्यूअल फंड्स में कैसे निवेश करें

म्यूच्यूअल फंड्स आजकल बहुत लोकप्रिय निवेश विकल्प है | वे आपके बदलते वित्तीय उद्देश्यों को पूरा करने के लिए काफी बहुमुखी होते हैं और निवेश करने के लिए सरल होते हैं | और आपको म्यूच्यूअल फंड में निवेश करने के लिए किसी ब्रोकर या मध्यस्थ की ज़रूरत नहीं है ;एक 'प्रत्यक्ष योजना' के लिए आवेदन करने से आप कमिशन पर बचत कर सकते हैं और अपने निवेश मूल्य को बढ़ा सकते हैं |

यदि आप जानते हैं कि आपको अपना पैसा कहाँ डालना है,तो आप निवेश करने के लिए ऑफलाइन या ऑनलाइन माध्यम चुन सकते हैं | यहां बताया गया है कि कैसे:

ऑफलाइन निवेश

एसेट मैनेजमेंट कंपनी (ए.एम.सी.) के नज़दीकी ऑफिस/ब्रांच पर जाएं जिसके फंड में आप निवेश करना चाहते हैं | अपने सबसे नज़दीकी प्रतिनिधि कार्यालय का पता लगाने के लिए, एसोसिएशन ऑफ़ म्यूच्यूअल फंड्स इन इंडिया द्वारा दिए गए लिंक पर जाएं | ड्राप-डाउन मेनू से , ए.एम.सी. और शहर चुनें ताकि आपके नज़दीकी ऑफिस का पता और टेलीफोन नंबर सुलभ कराया जा सके|

वैकल्पिक रूप से, आप रजिस्ट्रार और ट्रांसफर एजेंट (आर.टी.ए.) के माध्यम से निवेश कर सकते हैं | सी.ए.एम.एस.(कैम्स) और कर्वी ,दो सबसे बड़े आर.टी.ए. है और उनके पास सबसे अधिक ए.एम.सी. पंजीकृत हैं | ये आर.टी.ए., म्यूच्यूअल फंड निवेशों को उनके सम्बंधित म्यूच्यूअल फंड कंपनी की ओर से एकत्रित और प्रोसेस करते हैं | हालांकि यहां कैम्स के 280 से भी ज्यादा ब्रांच सूचीबद्ध है ,कर्वी के भारत भर में लगभग 900 ऑफिस हैं जहां आप जाकर भौतिक आवेदन कर सकते हैं |

ए.एम.सी. या आर.टी.ए. के साथ पहली बार निवेश करने पर, आपको हर उस फंड हाउस की के.वाई.सी. औपचारिकताओं को पूरा करना होगा जिसमे आप निवेश करना चाहते हैं | आपको अपने पैन कार्ड,पता का प्रमाण,विधिवत भरा सामान्य आवेदन पत्र या एस.आई.पी. फॉर्म,एक एन.ए.सी.एच.(राष्ट्रीय स्वचालित क्लीयरिंग हाउस) जो एस.आई.पी. के ऑटो-डेबिट के लिए ज़रूरी है,और शुरूआती निवेश राशि के लिए एक चेक या डिमांड ड्राफ्ट की कॉपी चाहिए होगी|

ऑनलाइन निवेश

ऑनलाइन प्रक्रिया भी लगभग वैसी ही है ,परन्तु यह और भी ज्यादा सुविधाजनक है क्यूंकि यह वेब-साइट्स और समर्पित ऐप्स के जरिये आपको आसान पहुँच प्रदान करती है | आपको पहले ए.एम.सी. ,रजिस्ट्रार या एक डिजिटल सलाहकार प्लेटफार्म में खाता बनाना होगा और अपना के.वाई.सी. और बैंक सम्बंधित विवरण अपलोड करना होगा | अधिकतर डिजिटल प्लेटफार्म में आपको अपने इ-मेल आई.डी. और ओ.टी.पी. के जरिये फ़ोन नंबर को सत्यापित करेगा| आपको बैंक खाते के विवरण को प्रमाणित करने के लिए अपने के.वाई.सी. दस्तावेजों और रद्द चेक की एक स्कैन की हुई कॉपी अपलोड करनी होगी |

ऑनलाइन निवेश प्रक्रिया क्लिक-और-सेलेक्ट विकल्पों द्वारा निर्देशित है|'प्लान टाइप' में 'डायरेक्ट' विकल्प को चुनें | जब ट्रांसेक्शन पूरा हो जाए, तो आपको इ-मेल और एस.एम.एस. द्वारा एक पुष्टिकरण प्राप्त होगा| एक बार जब पहला निवेश सफल हो जाये, तो आपको एक यूनिक फोलियो संख्या दी जाएगी जो ऑफलाइन या ऑनलाइन चैनलों के माध्यम से आगे के निवेश के लिए काम आएगी|

संबंधित लेख