: क्रिप्टो शब्द जिन्हें आपको जानना चाहिए: ब्लॉकचेन, DeFi, ऑल्टकॉइन, टोकन, माइनिंग, वॉलेट, कॉइन, व्हेल्‍स, एचओडीएल, टू द मून

इन शब्दों से क्रिप्टोकरेंसी मार्केट के बारे में और अधिक जानें

क्रिप्टो के 10 शब्द जो आपको पता होने चाहिए

क्रिप्टोकरेंसी मेनस्‍ट्रीम बन रही है, और ज्‍यादा से ज्‍यादा व्यक्ति इस नए क्रिप्टोकरेंसी मार्केट के बैंडवैगन पर कूद रहे हैं। जैसा कि भारत सरकार ने क्रिप्टोकरेंसी के लेनदेन पर करों का प्रस्ताव दिया था, इसने इसे अपनाने को बढ़ावा दिया है, और संभावना है कि यह जल्द ही कानूनी रूप से वैध हो सकता है। इसी उम्मीद के चलते, कई नए निवेशक बाजार में अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। एक बिगिनर के रूप में, क्रिप्टोकरेंसी मार्केट भ्रमित करने वाली लग सकती है, लेकिन जब आप बेसिक्‍स को समझने की कोशिश करते हैं तो यह बहुत सरल हो जाता है।

इस क्रिप्टोकरेंसी गाइड में, हम अक्सर उपयोग किए जाने वाले दस ऐसे क्रिप्टो शब्दों को कवर करेंगे, जिसे आपको निश्चित रूप से एक क्रिप्टोकरेंसी एक्‍सपर्ट कहा जाना चाहिए।

1. ब्लॉकचेन

ब्लॉकचेन हर क्रिप्टोकरेंसी के पीछे बुनियादी अंतर्निहित संरचनाएं हैं। जैसा कि नाम से ही स्पष्ट है कि इस तकनीक में सार्वजनिक रूप से उपलब्ध नेटवर्क पर इंटर्लिंक्‍ड डेटा के ब्लॉक शामिल हैं।
ब्लॉकचेन की एक अलग विशेषता है कि ब्लॉकचेन का हिस्सा बनने के बाद ब्लॉक को बदला नहीं जा सकता है। यह ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी को महत्वपूर्ण चीजों को स्‍टोर करने के लिए सबसे अच्छा विकल्प बनाता है जिसे कभी भी बदला नहीं जाना चाहिए। इसके कई अन्य फायदे हैं, और यह उन सभी क्रिप्टोकरेंसी के लगभग 90% को ताकत देता है जिनके बारे में आपने अब तक सुना है।

2. DeFi

DeFi डीसेंट्रलाइज्‍़ड फाइनेंस के लिए क्रिप्टो शब्द है। चीजों को डीसेंट्रलाइज्‍़ड करके लोगों को पावर ट्रांसफर करने के लिए क्रिप्टोकरेंसी का निर्माण किया गया था। एक डीसेंट्रलाइज्‍़ड फाइनेंस कॉइन या एक्‍सचेंज का अर्थ है कि कुछ करने की क्षमता कुछ लोगों के बीच केंद्रित नहीं है। इसके बजाय, यह यूज़र्स हैं जिनके पास कुछ भी करने की शक्ति है।
DeFi ट्रेडिशनल बैंकिंग के बुनियादी ढांचे का विरोध करता है जहां एक विश्वसनीय तीसरे-पक्ष के बिचौलिये के बिना लेनदेन नहीं हो सकता है। DeFi लेनदेन में दो पक्षों को एक-दूसरे से जुड़ने और किसी अन्य व्यक्ति के सत्यापन की आवश्यकता के बिना लेनदेन करने की अनुमति देता है।

3. ऑल्टकॉइन

क्रिप्टोकरेंसी मार्केट में दो अलग-अलग समूह होते हैं: लार्ज-कैप कॉइन और ऑल्‍टकॉइन। लार्ज-कैप कॉइंस में बिटकॉइन और इथेरियम होता है, जबकि ऑल्‍टकॉइंस अन्य सभी कॉइंस हैं जो अभी तक बिटकॉइन और इथेरियम जितने बड़े नहीं हैं।
बिटकॉइन और इथेरियम क्रिप्टो की दुनिया के ब्लूचिप स्टॉक हैं, और वे लंबी अवधि और बिगिनर्स के लिए निवेश का एक अच्छा विकल्प हैं। ऑल्‍टकॉइन की कीमत कम होती है, और अगर आप समझदारी से निवेश करते हैं और शीर्ष पर पहुंचने तक बने रहते हैं, तो वे आपको अच्छा रिटर्न दे सकते हैं। इसके विपरीत, ऑल्‍टकॉइंस को निवेश पर हाई रिटर्न की अच्छी क्षमता वाला कमजोर स्टॉक माना जा सकता है।

यह भी पढ़ें: क्रिप्टोकरेंसी के प्रकार

4. कॉइन

बिगिनर्स के लिए, कॉइन और टोकन एक समान दिख सकते हैं, लेकिन दोनों के बीच एक महत्वपूर्ण अंतर है। कॉइन अपने खुद के ब्लॉकचेन और ईकोसिस्‍टम के साथ क्रिप्टोकरेंसी प्रोजेक्‍ट्स हैं। कॉइन अपना काम करने के लिए किसी अंतर्निहित बुनियादी ढांचे पर निर्भर नहीं करते हैं। इसके बजाय, वे अन्य क्रिप्टोकरेंसी टोकन के लिए बिल्डिंग ब्लॉक्स के रूप में कार्य करते हैं।
चूंकि कॉइंस का अपना खुद का ब्लॉकचेन होता है, वे आत्मनिर्भर होते हैं, और वे अक्सर एक अच्छा निवेश होते हैं क्योंकि अच्छे लोग हमेशा ऐसी बड़ी परियोजनाओं को चलाते हैं, और टीम के नियमित इनोवेशन से आपको शानदार रिटर्न मिल सकता है।

5. टोकन

दूसरी ओर, टोकन एक ऐसी क्रिप्टोकरेंसी हैं जो ब्लॉकचेन प्रोजेक्ट के अन्य ब्लॉकचेन या पैरा-चेन पर रहती है। टोकन प्रोजेक्‍ट्स के ट्रेडेबल एसेट्स हैं जो एक अंतर्निहित ब्लॉकचेन की कार्यशीलता को बढ़ाता है।
टोकंस में रहने के लिए अपने खुद का ब्लॉकचेन नहीं होता है, और इसलिए वे ERC20, बाइनेंस स्मार्ट चेन, और कई अन्य जैसे ब्लॉकचेन पर रहते हैं।
उदाहरण के लिए, पॉलीगॉन मैटिक एथेरियम के लिए एक लेयर 2 स्केलिंग सलूशन है, और यह मांग में वृद्धि के तहत कुशलतापूर्वक एथेरियम ब्लॉकचैन स्केल की मदद करता है।

6. माइनिंग

क्रिप्टोकरेंसी को ब्लॉक पर स्टोर किया जाता है, और उन्हें पाने के लिए, व्‍यक्ति को भारी एन्क्रिप्शन-डिक्रिप्शन प्रक्रियाओं की आवश्यकता होती है। इन प्रक्रियाओं को सामूहिक रूप से माइनिंग के रूप में जाना जाता है। कई जीपीयू और सीपीयू वाले शक्तिशाली कंप्यूटरों का उपयोग करके माइनिंग किया जाता है, और जब कंप्यूटर किसी ब्लॉक को सॉल्‍व कर देता है, तो ब्लॉकचेन उसे कुछ नेटिव कॉइंस से रिवॉर्ड करता है। इसलिए यदि आप बिटकॉइन माइनिंग कर रहे हैं, तो ब्लॉक को सॉल्‍व करने के बाद ही आपको बिटकॉइन मिलेगा।

7. वॉलेट

हर कोई जानता है कि वॉलेट और डिजिटल वॉलेट कोई असाधारण चीज नहीं हैं। ये सॉफ्टवेयर या हार्डवेयर वॉलेट हैं जहां आप अपनी क्रिप्टोकरेंसी को सुरक्षित रूप से स्टोर कर सकते हैं। बहुत से लोग जो अपनी क्रिप्टोकरेंसी को लंबे समय तक रखना पसंद करते हैं, वे उन्हें एक ऑफ़लाइन हार्डवेयर वॉलेट में स्‍टोर करके ऐसा करते हैं।
जिस तरह हम फिएट कैश रखने के लिए वॉलेट का उपयोग करते हैं, उसी तरह डिजिटल वॉलेट का उपयोग आपकी क्रिप्टोकरेंसी को सुरक्षित रखने और आपकी कस्टडी में सुरक्षित स्थान पर ले जाने के लिए किया जाता है।

8. व्हेल्‍स

हर कोई जानता है कि वास्तविक दुनिया में व्‍हेल एक विशाल जीव हैं, और वे अपने विशाल आकार के लिए जाने जाते हैं। इसी तरह, क्रिप्टो के शब्‍दों और फाइनेंस इंडस्‍ट्रीज़ में, व्हेल्‍स ऐसे व्यक्ति या संस्थान होते हैं जो किसी विशेष क्रिप्टोकरेंसी की बड़ी राशि को होल्‍ड करते हैं।
व्हेल क्रिप्टोकरेंसी मार्केट को रेग्‍युलेट करता है और चलाता है। इसलिए यदि वे खरीदारी की गतिविधि में हैं, तो बाजार तत्काल रिटर्न देगा, और यदि वे एक ही समय में बाजार में अपनी बड़ी हिस्सेदारी के कारण बेचने का फैसला करते हैं, तो यह बाजार को क्रैश कर सकता है।

यह भी पढ़ें: क्रिप्टोकरेंसी इतनी अस्थिर क्यों हैं?

9. एचओडीएल

क्रिप्टोकरेंसी मैक्सिमलिस्ट्स ने इस स्लैंग का बड़े पैमाने पर उपयोग किया। यह "होल्ड" शब्द का मिस्‍स्‍पेल वर्ज़न है, जिसका उपयोग पहली बार बिटकॉइन फोरम पर किया गया था। एचओडीएल वास्तविक जीवन में होल्‍ड का अनुवाद करता है, इसका उपयोग अक्सर तब किया जाता है जब किसी भी क्रिप्टोकरेंसी की कीमतों में काफी गिरावट आती है, और लोग एक-दूसरे को आश्वासन देते हैं कि कीमतें फिर से बढ़ेंगी, और यदि वे अपने टोकन नहीं बेचते हैं तो उनके नुकसान की भरपाई हो जाएगी।

10. टू द मून

जैसा कि नाम से पता चलता है, 'टू द मून' उन संभावित लाभों का वर्णन करता है जो एक कॉइन दे सकता है। लोग एक मेटफॉर के रूप में इसका उपयोग यह दिखाने के लिए करते हैं कि कीमतें कभी-कभी आसमान छू जाएंगी, जिसके परिणामस्वरूप इस विशेष कॉइन या टोकन को रखने वाले व्यक्ति को काफी फायदा होता है।
ये सभी शब्‍द आपके लिए आपकी क्रिप्टोकरेंसी को शुरू करने के लिए पर्याप्‍त हैं। जैसा कि आप इन शब्‍दों को जानते हैं, आप सभी क्रिप्टो की बातों को आसानी से समझेंगे और इस दुनिया में खुद को तल्लीन कर लेने से और अधिक जानेंगे।
 

यह भी पढ़ें: निवेश के लिए सबसे अच्‍छी क्रिप्‍टोकरेंसी कैसे चुनें
 

क्रिप्टोकरेंसी मेनस्‍ट्रीम बन रही है, और ज्‍यादा से ज्‍यादा व्यक्ति इस नए क्रिप्टोकरेंसी मार्केट के बैंडवैगन पर कूद रहे हैं। जैसा कि भारत सरकार ने क्रिप्टोकरेंसी के लेनदेन पर करों का प्रस्ताव दिया था, इसने इसे अपनाने को बढ़ावा दिया है, और संभावना है कि यह जल्द ही कानूनी रूप से वैध हो सकता है। इसी उम्मीद के चलते, कई नए निवेशक बाजार में अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। एक बिगिनर के रूप में, क्रिप्टोकरेंसी मार्केट भ्रमित करने वाली लग सकती है, लेकिन जब आप बेसिक्‍स को समझने की कोशिश करते हैं तो यह बहुत सरल हो जाता है।

इस क्रिप्टोकरेंसी गाइड में, हम अक्सर उपयोग किए जाने वाले दस ऐसे क्रिप्टो शब्दों को कवर करेंगे, जिसे आपको निश्चित रूप से एक क्रिप्टोकरेंसी एक्‍सपर्ट कहा जाना चाहिए।

1. ब्लॉकचेन

ब्लॉकचेन हर क्रिप्टोकरेंसी के पीछे बुनियादी अंतर्निहित संरचनाएं हैं। जैसा कि नाम से ही स्पष्ट है कि इस तकनीक में सार्वजनिक रूप से उपलब्ध नेटवर्क पर इंटर्लिंक्‍ड डेटा के ब्लॉक शामिल हैं।
ब्लॉकचेन की एक अलग विशेषता है कि ब्लॉकचेन का हिस्सा बनने के बाद ब्लॉक को बदला नहीं जा सकता है। यह ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी को महत्वपूर्ण चीजों को स्‍टोर करने के लिए सबसे अच्छा विकल्प बनाता है जिसे कभी भी बदला नहीं जाना चाहिए। इसके कई अन्य फायदे हैं, और यह उन सभी क्रिप्टोकरेंसी के लगभग 90% को ताकत देता है जिनके बारे में आपने अब तक सुना है।

2. DeFi

DeFi डीसेंट्रलाइज्‍़ड फाइनेंस के लिए क्रिप्टो शब्द है। चीजों को डीसेंट्रलाइज्‍़ड करके लोगों को पावर ट्रांसफर करने के लिए क्रिप्टोकरेंसी का निर्माण किया गया था। एक डीसेंट्रलाइज्‍़ड फाइनेंस कॉइन या एक्‍सचेंज का अर्थ है कि कुछ करने की क्षमता कुछ लोगों के बीच केंद्रित नहीं है। इसके बजाय, यह यूज़र्स हैं जिनके पास कुछ भी करने की शक्ति है।
DeFi ट्रेडिशनल बैंकिंग के बुनियादी ढांचे का विरोध करता है जहां एक विश्वसनीय तीसरे-पक्ष के बिचौलिये के बिना लेनदेन नहीं हो सकता है। DeFi लेनदेन में दो पक्षों को एक-दूसरे से जुड़ने और किसी अन्य व्यक्ति के सत्यापन की आवश्यकता के बिना लेनदेन करने की अनुमति देता है।

3. ऑल्टकॉइन

क्रिप्टोकरेंसी मार्केट में दो अलग-अलग समूह होते हैं: लार्ज-कैप कॉइन और ऑल्‍टकॉइन। लार्ज-कैप कॉइंस में बिटकॉइन और इथेरियम होता है, जबकि ऑल्‍टकॉइंस अन्य सभी कॉइंस हैं जो अभी तक बिटकॉइन और इथेरियम जितने बड़े नहीं हैं।
बिटकॉइन और इथेरियम क्रिप्टो की दुनिया के ब्लूचिप स्टॉक हैं, और वे लंबी अवधि और बिगिनर्स के लिए निवेश का एक अच्छा विकल्प हैं। ऑल्‍टकॉइन की कीमत कम होती है, और अगर आप समझदारी से निवेश करते हैं और शीर्ष पर पहुंचने तक बने रहते हैं, तो वे आपको अच्छा रिटर्न दे सकते हैं। इसके विपरीत, ऑल्‍टकॉइंस को निवेश पर हाई रिटर्न की अच्छी क्षमता वाला कमजोर स्टॉक माना जा सकता है।

यह भी पढ़ें: क्रिप्टोकरेंसी के प्रकार

4. कॉइन

बिगिनर्स के लिए, कॉइन और टोकन एक समान दिख सकते हैं, लेकिन दोनों के बीच एक महत्वपूर्ण अंतर है। कॉइन अपने खुद के ब्लॉकचेन और ईकोसिस्‍टम के साथ क्रिप्टोकरेंसी प्रोजेक्‍ट्स हैं। कॉइन अपना काम करने के लिए किसी अंतर्निहित बुनियादी ढांचे पर निर्भर नहीं करते हैं। इसके बजाय, वे अन्य क्रिप्टोकरेंसी टोकन के लिए बिल्डिंग ब्लॉक्स के रूप में कार्य करते हैं।
चूंकि कॉइंस का अपना खुद का ब्लॉकचेन होता है, वे आत्मनिर्भर होते हैं, और वे अक्सर एक अच्छा निवेश होते हैं क्योंकि अच्छे लोग हमेशा ऐसी बड़ी परियोजनाओं को चलाते हैं, और टीम के नियमित इनोवेशन से आपको शानदार रिटर्न मिल सकता है।

5. टोकन

दूसरी ओर, टोकन एक ऐसी क्रिप्टोकरेंसी हैं जो ब्लॉकचेन प्रोजेक्ट के अन्य ब्लॉकचेन या पैरा-चेन पर रहती है। टोकन प्रोजेक्‍ट्स के ट्रेडेबल एसेट्स हैं जो एक अंतर्निहित ब्लॉकचेन की कार्यशीलता को बढ़ाता है।
टोकंस में रहने के लिए अपने खुद का ब्लॉकचेन नहीं होता है, और इसलिए वे ERC20, बाइनेंस स्मार्ट चेन, और कई अन्य जैसे ब्लॉकचेन पर रहते हैं।
उदाहरण के लिए, पॉलीगॉन मैटिक एथेरियम के लिए एक लेयर 2 स्केलिंग सलूशन है, और यह मांग में वृद्धि के तहत कुशलतापूर्वक एथेरियम ब्लॉकचैन स्केल की मदद करता है।

6. माइनिंग

क्रिप्टोकरेंसी को ब्लॉक पर स्टोर किया जाता है, और उन्हें पाने के लिए, व्‍यक्ति को भारी एन्क्रिप्शन-डिक्रिप्शन प्रक्रियाओं की आवश्यकता होती है। इन प्रक्रियाओं को सामूहिक रूप से माइनिंग के रूप में जाना जाता है। कई जीपीयू और सीपीयू वाले शक्तिशाली कंप्यूटरों का उपयोग करके माइनिंग किया जाता है, और जब कंप्यूटर किसी ब्लॉक को सॉल्‍व कर देता है, तो ब्लॉकचेन उसे कुछ नेटिव कॉइंस से रिवॉर्ड करता है। इसलिए यदि आप बिटकॉइन माइनिंग कर रहे हैं, तो ब्लॉक को सॉल्‍व करने के बाद ही आपको बिटकॉइन मिलेगा।

7. वॉलेट

हर कोई जानता है कि वॉलेट और डिजिटल वॉलेट कोई असाधारण चीज नहीं हैं। ये सॉफ्टवेयर या हार्डवेयर वॉलेट हैं जहां आप अपनी क्रिप्टोकरेंसी को सुरक्षित रूप से स्टोर कर सकते हैं। बहुत से लोग जो अपनी क्रिप्टोकरेंसी को लंबे समय तक रखना पसंद करते हैं, वे उन्हें एक ऑफ़लाइन हार्डवेयर वॉलेट में स्‍टोर करके ऐसा करते हैं।
जिस तरह हम फिएट कैश रखने के लिए वॉलेट का उपयोग करते हैं, उसी तरह डिजिटल वॉलेट का उपयोग आपकी क्रिप्टोकरेंसी को सुरक्षित रखने और आपकी कस्टडी में सुरक्षित स्थान पर ले जाने के लिए किया जाता है।

8. व्हेल्‍स

हर कोई जानता है कि वास्तविक दुनिया में व्‍हेल एक विशाल जीव हैं, और वे अपने विशाल आकार के लिए जाने जाते हैं। इसी तरह, क्रिप्टो के शब्‍दों और फाइनेंस इंडस्‍ट्रीज़ में, व्हेल्‍स ऐसे व्यक्ति या संस्थान होते हैं जो किसी विशेष क्रिप्टोकरेंसी की बड़ी राशि को होल्‍ड करते हैं।
व्हेल क्रिप्टोकरेंसी मार्केट को रेग्‍युलेट करता है और चलाता है। इसलिए यदि वे खरीदारी की गतिविधि में हैं, तो बाजार तत्काल रिटर्न देगा, और यदि वे एक ही समय में बाजार में अपनी बड़ी हिस्सेदारी के कारण बेचने का फैसला करते हैं, तो यह बाजार को क्रैश कर सकता है।

यह भी पढ़ें: क्रिप्टोकरेंसी इतनी अस्थिर क्यों हैं?

9. एचओडीएल

क्रिप्टोकरेंसी मैक्सिमलिस्ट्स ने इस स्लैंग का बड़े पैमाने पर उपयोग किया। यह "होल्ड" शब्द का मिस्‍स्‍पेल वर्ज़न है, जिसका उपयोग पहली बार बिटकॉइन फोरम पर किया गया था। एचओडीएल वास्तविक जीवन में होल्‍ड का अनुवाद करता है, इसका उपयोग अक्सर तब किया जाता है जब किसी भी क्रिप्टोकरेंसी की कीमतों में काफी गिरावट आती है, और लोग एक-दूसरे को आश्वासन देते हैं कि कीमतें फिर से बढ़ेंगी, और यदि वे अपने टोकन नहीं बेचते हैं तो उनके नुकसान की भरपाई हो जाएगी।

10. टू द मून

जैसा कि नाम से पता चलता है, 'टू द मून' उन संभावित लाभों का वर्णन करता है जो एक कॉइन दे सकता है। लोग एक मेटफॉर के रूप में इसका उपयोग यह दिखाने के लिए करते हैं कि कीमतें कभी-कभी आसमान छू जाएंगी, जिसके परिणामस्वरूप इस विशेष कॉइन या टोकन को रखने वाले व्यक्ति को काफी फायदा होता है।
ये सभी शब्‍द आपके लिए आपकी क्रिप्टोकरेंसी को शुरू करने के लिए पर्याप्‍त हैं। जैसा कि आप इन शब्‍दों को जानते हैं, आप सभी क्रिप्टो की बातों को आसानी से समझेंगे और इस दुनिया में खुद को तल्लीन कर लेने से और अधिक जानेंगे।
 

यह भी पढ़ें: निवेश के लिए सबसे अच्‍छी क्रिप्‍टोकरेंसी कैसे चुनें
 

Expert Article block example

संवादपत्र

संबंधित लेख