6 सामान्य स्टॉक ट्रेडिंग गलतियां जिससे आपको बचना चाहिए

6 सामान्य स्टॉक ट्रेडिंग सम्बंधित गलतियों के बारे में जानें और यह भी कि उनसे कैसे बचा जाये |

 6 सामान्य स्टॉक ट्रेडिंग गलतियां जिससे आपको बचना चाहिए

 

यह सामान्य अवधारणा बन गई है कि केवल पैसे बचाना ही काफी नहीं है -आपको अपने वित्तीय भविष्य को सुरक्षित करने के लिए अपनी आमदनी को कहीं निवेश भी करना चाहिए | हालांकि, शेयर बाजार में निवेश करना आसान नहीं है क्यूंकि इसमें चुनौतियों,जोखिम और परिणामों का एक समूह होता है |

हालांकि शेयर बाजार में ट्रेडिंग करना जुआ खेलने जैसा प्रतीत हो सकता है ,पर आप अस्थिरता में पूंजी लगाने के लिए एक सोचा-समझा और विवेकपूर्ण निर्णय ले सकते हैं और कुछ शुरूआती गलतियों से बच सकते हैं| 6 सामान्य निवेश सम्बन्धी गलतियों की सूचि के बारे में जानने के लिए आगे पढ़िए |

1. त्वरित रिटर्न की आशा करना

एक सामान्य गलती जो इक्विटी में निवेश करने वाले लोग करते हैं वह यह है कि वो उम्मीद करते हैं कि रातो-रात उनका पैसा कई गुना बढ़ जाएगा | इससे लालच उत्पन्न होता है और आप ज़रूरत से ज्यादा ट्रेडिंग करने लग सकते हैं| या आप त्वरित रिटर्न्स के लिए इंट्राडे ट्रेडिंग या सुझावों पर आधारित सट्टे का सहारा ले सकते हैं | उदाहरण के लिए, महान निवेशक वारेन बफे ने अपने पहले स्टॉक (सिटीज सर्विस) से 6 शेयर्स 38 $ प्रति शेयर के भाव से खरीदे थे और उन्हें 40 $ प्रति शेयर के भाव से बेच दिए थे | हालांकि, जल्द ही उस शेयर की कीमत 200 $ तक पहुंच गई थी |

प्रो -टिप जब आप शेयर बाजार में पैसे निवेश करते हैं तो आपको समय का निवेश करने के लिए भी तैयार रहना चाहिए | यह मानते हुए कि आपने सही कंपनी में निवेश करने का निर्णय लिया है , आपको बस अपने पैसे के कई गुणा बढ़ने का संयमपूर्वक इंतज़ार करना है | स्टॉक मार्केट निवेश के रिटर्न्स आपके दीर्घकालिक लक्ष्यों को पूरा करने में मदद कर सकता है जैसे कि अपने सपनो के घर को खरीदना,अपने बच्चे की शिक्षा के लिए फंड जमा करना,अपना खुद का व्यवसाय शुरू करना आदि| यदि आप बहुत धैर्य रखें तो स्टॉक मार्केट के रिवॉर्ड आपके वित्तीय भविष्य को सुरक्षित करने में मदद कर सकते हैं|

2. स्मॉल कैप में निवेश करना

शुरुआत करने वाले लोगो द्वारा होने वाली अन्य गलती है- स्मॉल कैप कंपनियों में निवेश करना | स्मॉल-कैप कंपनियों में निवेश करना बहुत आकर्षक लग सकता है,खासतौर पर तब जब आप ऐसी कहानियां सुनें की 'फलाना के स्टॉक की कीमत एक हफ्ते में 10 रुपये से बढ़कर 75 रुपये हो गया |' हालांकि, स्मॉल कैप्स से ऐसे बेहतरीन रिटर्न कम ही देखने को मिलते हैं| अक्सर, स्मॉल कैप उद्योग के अस्थिर गतिविधियां काफी बड़ा नुकसान पहुंचा सकती है |

प्रो -टिप स्मॉल कैप निवेश अच्छे निवेश दे सकते हैं यदि आप सही स्टॉक खरीदें | अच्छे स्टॉक्स को चुनने की तरकीब कुशल अनुसंधान और निवेश अनुभव से आती है| कायदे के अनुसार, स्मॉल कैप में रातो-रात पैसे दोगुना होने के सपने देखकर उनमे निवेश करने से बचना समझदारी होगी और इसके बजाय आपको जानी-मानी कंपनियों के शेयर में निवेश करना चाहिए |

3. शहर में जिसकी चर्चा हो रही है,उसमे फंसना

आपके निवेश से जो रिटर्न का स्तर आप प्राप्त कर सकते हैं,उसे निर्धारित करने वाला मुख्य कारक आपके निवेश का समय है| यदि आप किसी स्टॉक में उसके पिछले हफ्ते के प्रदर्शन के बारे में पढ़कर निवेश करते हैं तो आप पुराने मूल्य आंदोलन के हिसाब से निवेश कर रहे हैं | यह अच्छा निवेश नहीं होगा क्यूंकि आपके स्टॉक का प्रदर्शन उसके भविष्य पर निर्भर करता है न कि अतीत पर |और तो और, मूल्य पर पिछली बढ़त, भविष्य में बढ़ौतरी की कोई पक्की सूचक नहीं होती है | बाजार में अक्सर यह होता है कि स्टॉक की कीमत में भारी वृद्धि के तुरंत बाद ही वापस मंदी हो जाती है |

पेशेवर के सुझाव : यदि आपको एक स्टॉक खरीदना हो या खरीदने की चाहत हो,जो सुर्ख़ियों में है ,तो उसमे दीर्घकालिक दृष्टिकोण से निवेश करें | यह सुनिश्चित करेगा कि आपके स्टॉक की कीमत अल्पावधि के उतार-चढ़ाव से प्रभावित न हो | आपको यह भी सलाह दी जाती है कि आप स्टॉक के फंडामेंटल के बारे में स्वयं ही शोध करें और किसी और के ज्ञान पर निर्भर न रहे |

4. विविधीकरण पर ध्यान न देना

नए निवेशक ,आमतौर पर, पोर्टफोलियो में ज़रूरी विविधीकरण नहीं कर पाते हैं | केवल एक या दो स्टॉक में निवेश करने पर ध्यान केंद्रित करने से उन्हें लगता है कि वे कुछ ज़बरदस्त रिटर्न पा लेंगे| यह अक्सर वांछित रिटर्न देने में असफल होते हैं |

प्रो -टिप जिन लोगो को अपने निवेश किये जाने वाले स्टॉक की गहरी जानकारी होती है ,उनके लिए एकाग्रता की सलाह दी जाती है | निवेश में विविधता लाने के लिए आर्थिक उतार-चढ़ाव के लिए विभिन्न एक्सपोजर वाले उद्योगों में स्टॉक खरीदना शामिल है, जिससे पोर्टफोलियो के जोखिम में पर्याप्त विविधता आती है। इससे आपके पोर्टफोलियो में प्रतिभूतियों की उचित संतुलन सुनिश्चित होती है जिससे बाजार की अस्थिरता से होने वाली बड़ी हानि की संभावनाओं से बचा जा सकता है |

5. मार्जिन के माध्यम से बड़े मुनाफों को लक्षित करना

मार्जिन ट्रेडिंग में आप शेयरों को उनकी वास्तविक कीमत से कम दाम पर अपने खाते के फंड को लिवरेज करके खरीद सकते हैं , इस वादे के साथ कि आप मार्जिन राशि को ब्याज के साथ निर्धारित समय पर वापस चूका देंगे (आमतौर पर कुछ दिनों के अंदर )| यह एक आकर्षित प्रस्ताव जैसा लग सकता है क्यूंकि यह आपको उच्च कीमत वाले शेयरों को कम दाम में खरीदने का मौका देता है,इस उम्मीद के साथ कि आपके पैसे कई गुणा बढ़ेंगे - जिससे आप मार्जिन राशि को एक अच्छे-खासे लाभ के साथ वापस कर पाएंगे| हालांकि, बाजार में ऐसी स्थिति आदर्श रूप से देखने को कम ही मिलती है; यदि स्थिति खराब हो जाये तो यह आपके नुकसानों की तीव्रता को और बढ़ा देती है |

प्रो -टिप: नए निवेशकों को स्टॉक्स खरीदने के लिए मार्जिन्स को लिवरेज करने से बचना चाहिए | यदि फिर भी आप ऐसा करते हैं , तो आपको प्रतिष्ठित कंपनियों से स्टॉक खरीदने में इसका उपयोग करना चाहिए और अपने खुद के पैसे को और जोखिमपूर्ण या अधिक महत्वाकांक्षी निवेशों के लिए इस्तेमाल करना चाहिए |

6. स्टॉप-लॉस आर्डर को प्रभावी तरीके से उपयोग न करना

एक स्टॉप-लॉस आर्डर वह आर्डर होता है जो आप अपने ब्रोकर/पोर्टफोलियो प्रबंधक को देते हैं जिसमे आप उन्हें किसी स्टॉक को पहले से निर्धारित मूल्य पर बेचने या खरीदने के निर्देश दे सकते हैं | उदाहरण के लिए, यदि आपने 200 रुपये के मूल्य के शेयर लिए हैं और 180 रुपये पर स्टॉप लॉस आर्डर लगाया है ,तो आप यह सुनिश्चित करते हैं कि आपका अधिकतम नुकसान 20 रुपये ही होगा | स्टॉप-लॉस आर्डर यह सुनिश्चित करता है कि आपके स्टॉक्स स्वतः ही बिक जाएं जब शेयर की कीमत उस स्तर पर आती है | नए निवेशकों के लिए, स्टॉप-लॉस आर्डर का उपयोग न करना एक महत्वपूर्ण गलती है क्यूंकि यह हानियों को कम करते हुए जोखिम को कम कर सकता है |नए ट्रेडर्स बड़े रूप में अपनी पूंजी खो देते हैं क्यूंकि वह स्टॉप-लॉस आर्डर का उपयोग नहीं करते हैं |

पेशेवर के सुझाव : स्टॉप-लॉस ,यक़ीनन ट्रेडिंग में बहुत महत्वपूर्ण अभ्यास है | ट्रेडिंग मानव व्यवहार से उतना ही प्रभावित होता है जितना संख्याओं और चार्ट से |यदि किसी ने अपने मन में किसी स्टॉक पर कोई स्टॉप लॉस आर्डर निर्धारित किया भी हो,तो हो सकता है कि वे अनुसाशन की कमी के कारण उसे निष्पादित न कर पाएं | इसीलिए, यह सलाह दी जाती है कि ट्रेडर्स को ट्रेडिंग सत्र के शुरू होने से पहले ही स्टॉप-लॉस निर्धारित करें और स्टॉक के स्टॉप-लॉस तक पहुँचने का इंतज़ार न करें |

अंतिम पंक्तियाँ :

रोम एक दिन में नहीं बनाया गया था परन्तु हिरोशिमा और नागासाकी कुछ ही पल में तबाह हो गए थे|निवेश करियर के साथ भी ऐसी ही स्थिति है| संपत्ति का निर्माण लम्बी अवधि में होता है जबकि आप ये सामान्य गलतियां करके अपने सारे खाते को पलभर में साफ़ कर सकते हैं |

डिस्क्लेमर: यह लेख केवल सामान्य जानकारी उद्देश्यों के लिए है और इसे निवेश या कर या कानूनी सलाह के रूप में नहीं लगाया जाना चाहिए। इन क्षेत्रों में निर्णय लेते समय आपको अलग से सलाह प्राप्त करनी चाहिए ।

संबंधित लेख