नई कंपनी में जुड़ने से पहले इन 7 फायदों को देखें

आजकल कंपनियां कोशिश में जुटी हैं कि महिलाओं को अपनी घर और परिवार की जिम्मेदारी निभाते हुए नौकरी करने में मुश्किल न हो।

नई कंपनी में जुड़ने से पहले इन 7 फायदों को देखें

महिलाओं की मौजूदगी काम के माहौल को बेहतर बनाती हैं। लेकिन, महिलाओं पर घर चलाने और परिवार और बच्चों के देखभाल की जिम्मेदारी होने की वजह से उन्हें नौकरी में पुरुषों के मुकाबले ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है। इसलिए, महिलाओं को नौकरी करने के लिए प्रोत्साहन देने के लिए कंपनियां महिलाओं को अतिरिक्त सुविधाएं मुहैया कराती हैं।

नई कंपनी में नौकरी स्वीकारने के पहले आपको इन कुछ फायदों को देखना चाहिए:

1. कार्य समय में लचीलापन

कई कंपनियों ने अपने कर्मचारियों खासतौर पर महिलाओं को लचीला कार्य समय देने का फायदा समझ लिया है। महिलाओं पर घर के कामकाज को पूरा करने की अतिरिक्त जिम्मेदारी होती है, इसलिए उनके लिए कार्य समय में लचीलापन काफी फायदेमंद रहता है। इस तरह महिलाओं को न सिर्फ नौकरी करने में सुविधा होती है, बल्कि उनकी कार्यक्षमता भी बढ़ती है।

2. परिवहन भत्ता और यातायात साधन
अगर आप नौकरी के लिए नए शहर जा रहे हैं, तो आप नियोक्ता से हस्तांतरण के खर्च की भरपाई करने की मांग कर सकती हैं। कुछ कंपनियां रोजमर्रा के परिवहन खर्च भी देती हैं। ये आपके लिए फायदेमंद हो सकती है अगर आप ऑफिस से दूर रहती हैं और परिवहन पर आपको बड़ी रकम खर्च करनी पड़ती है। रात के वक्त महिलाओं के लिए सफर करना मुश्किल होता है। अगर आपकी कंपनी यातायात साधन मुहैया कराती है, तो आप उसका फायदा जरूर लें।

3. मातृत्व अवकाश और फायदे
भारत में अनिवार्य मातृत्व अवकाश 26 हफ्तों का होता है, लेकिन आप कंपनी की शर्तों और नीतियों को अच्छी तरह समझ लें क्योंकि कुछ कंपनियां चिकित्सा बोनस, गर्भावस्था के दौरान मुफ्त भोजन या कुछ समस्या होने पर अतिरिक्त छुट्टी जैसे फायदे भी महिलाओं को देती हैं। गर्भवती महिलाओं के लिए छोटी-छोटी सी बात भी बड़ी राहत दे सकती है।

4. कर्मचारियों के लिए शिक्षा अवसर
दुनियाभर में कंपनियां अपने कर्मचारियों को नए कौशल सीखने के लिए प्रोत्साहन देती हैं। इसलिए, कंपनियां कर्मचारियों की शिक्षा या विशिष्ट प्रशिक्षण का खर्चा भी उठाती हैं, ताकि कर्मचारी कंपनी के विकास में और योगदान दे पाएं। ये बात नई मांओं के लिए बेहतरीन है जो मातृत्व अवकाश के बाद फिर नौकरी शुरू करती हैं। नई शिक्षा या प्रशिक्षण के जरिए महिलाएं काम के मामले में बाकी कर्मचारियों के स्तर पर आ जाती हैं और साथ ही, वो खर्च की चिंता करे बिना उच्च शिक्षा प्राप्त कर सकती हैं।

5. स्वास्थ्य बीमा
कंपनियां अपने कर्मचारियों के स्वास्थ्य को लेकर जागरुक होती हैं। चिकित्सीय सेवाएं काफी महंगी हैं और इलाज पर काफी खर्च करना पड़ सकता है और ऐसे में अच्छा स्वास्थ्य बीमा काफी फायदा पहुंचा सकता है। महिलाओं के लिए गर्भावस्था और प्रसवत्तोर के बाद दोनों के लिए स्वास्थ्य बीमा कवर होना जरूरी है। इसलिए, आप नौकरी शुरू करने से पहले कंपनी द्वारा दिए जाने वाले स्वास्थ्य फायदे और बीमा को ठीक से परख लें।

नई कंपनी में जुड़ने से पहले इन 7 फायदों को देखें

6. घर से काम करने की सुविधा
महिलाओं पर घर और नौकरी दोनों संभालना भारी पड़ता है। ऐसा भी होता कि जब महिला को बीमार बच्चे या परिवार सदस्य की देखभाल करनी पड़ती है। इस स्थिति में घर से काम करने की सुविधा महिलाओं को फायदा पहुंचाती है। ज्यादातर कंपनियों ने घर से काम करने के दिनों की संख्या की सीमा तय कर रखी होती है, लेकिन महिलाओं को इस मामले थोड़ी छूट दी जाती है। नई कंपनी से जुड़ते वक्त आप इस कर्मचारी सुविधा को जरूर ध्यान में रखें, क्योंकि इससे आपको काफी राहत मिलेगी।

7. बाकी सुविधाएं
ऊपर दिए गए फायदों के अलावा कई कंपनियां महिलाओं को अतिरिक्त सुविधाएं देती हैं, ताकि वो अच्छे तरीके से अपना काम कर सकें। जैसे अगर आपकी कंपनी में वेलनेस रूम है तो आप अस्वस्थ्य होने पर वहां जाकर आराम कर सकती हैं। कुछ कंपनियां कर्मचारियों की हर महीने स्वास्थ्य जांच कराती हैं, जिससे सुनिश्चित हो पाए कि कर्मचारियों को स्वास्थ्य संबंधी परेशानी नहीं है। इसके अलावा ऐसा भी हो सकता है कि आपको ऑफिस जाना हो और बच्चों को संभालने के लिए कोई न हो। ऐसे में अगर आपकी कंपनी पालनाघर सेवा दे रही हो तो आप बिना किसी चिंता के काम कर सकती हैं।

संबंधित लेख