अपनी शादी के लिए सोने में निवेश करने के 7 आसान कदम

यदि आप एक आधुनिक, स्वतंत्र महिला हैं, तो ये सुझाव आपको सफलतापूर्वक योजना बनाने और अपनी शादी के लिए सोने की संपत्ति जमा करने और एक उज्ज्वल वित्तीय भविष्य सुनिश्चित करने में मदद करेंगे।

अपनी शादी के लिए सोने में निवेश करने के 7 आसान कदम

सोने ने हजारों साल से पुरुषों और महिलाओं को एक समान मोहित किया हुआ है । यह मनुष्यों के लिए जानी जाने वाली पहली कीमती धातुओं में से एक है और यह दिव्यता, रॉयल्टी और शक्ति का चिन्ह मानी जाती है। भारतीयों ने सोने को दिल से अपनाया है, जिससे यह शादियों का अनिवार्य हिस्सा बन गया है । युगों से, इस धातु को भारतीय शादियों में अत्यधिक शुभ माना जाता है, जहां दुल्हन को सोलाह श्रींगर (16 प्रकार के आभूषण के रूप में ) के लिए गहने भेंट किए जाते हैं।

सोने के प्रति सबका लगाव लगातार बना हुआ है, लेकिन आधुनिक भारतीय महिला अपनी शादी के खर्चों को उठाने के लिए पूरी तरह से अपने माता-पिता या परिवार के सदस्यों पर निर्भर नहीं होना चाहती है । आज की महिला स्वतंत्र, स्मार्ट है, और जानती है कि वह क्या चाहती है। यदि आप अपने आप को उनमें से एक मानते हैं, तो यह जानने के लिए आगे पढ़ें कि आप अपनी शादी के लिए सोना कैसे जमा कर सकते है और अपने भविष्य को सुरक्षित ।

  • बजट और समय सीमा निर्धारित करें : किसी भी लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए, आपको एक योजना या रोडमैप बनाने की आवश्यकता होती है। कुछ और करने से पहले यह तय कर लें कि दुल्हन के रूप में आप कितना सोना चाहेंगी। इसके बाद, आपको एक समय सीमा तय करनी होगी - मान लें,पांच या दस साल। एक बार जब आप ये सब निर्धारित कर लेते हैं, तो आपस पीछे की ओर योजना बनाएं और हिसाब लगाएं कि आप हर महीने कितना पैसा इसके लिए अलग रखना चाहते हैं।
  • शुद्धता और उद्देश्य को समझें: सोना कई शुद्धता मापों में आता है। जबकि 24 कैरेट सोने का शुद्धतम रूप होता है, आभूषण 22 कैरेट, 18 कैरेट आदि से बनाए जाते हैं। सोने की कीमतें आसमान छूने के साथ ही 16 कैरेट और 14 कैरेट के आभूषण भी लोकप्रिय हो रहे हैं। सभी सोने के आभूषणों का पुनर्विक्रय मूल्य होता है, लेकिन आपको अपनी इच्छा अनुसार शुद्धता के बारे में निर्णय लेने की आवश्यकता है। आप अपने जीवन में विशेष लोगों को छोटे से सोने के सिक्के उपहार में देना चाहते होंगे। इसलिए, आप 1, 2, 4, 8 ग्राम के 22 कैरेट सोने के सिक्के भी खरीदने की योजना बना सकते हैं।
  • विकल्पों में निवेश बांटना : सोने को खरीदने और निवेश करने के कई तरीके हैं। आप आभूषण, सिक्के और ईंटों के रूप में भौतिक सोना खरीद सकते हैं। आप गोल्ड ईटीएफ (एक्सचेंज ट्रेडेड फंड), एसजीबी (सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड्स) और गोल्ड म्यूचुअल फंड्स के जरिए इलेक्ट्रॉनिक रूप से सोना भी खरीद सकते हैं। जब भी आप चाहें, आप अपनी पसंद के मूल्यवर्ग में गोल्ड ईटीएफ में निवेश कर सकते हैं, लेकिन एसजीबी में निवेश सीमा और लॉक-इन अवधि होती है। यदि आपकी निवेश क्षितिज 5 से 10 वर्षों के बीच है, तो विभिन्न निवेश विकल्पों पर तरलता और जोखिम बांटना सही होगा।

सोने में निवेश करने का एक और लोकप्रिय तरीका, ज्वैलर्स द्वारा पेश की जाने वाली सोने की योजनाओं के माध्यम से है । यह सोने की खरीद को सस्ता बनाता है क्योंकि आप एक साल के लिए मासिक किश्तों का भुगतान कर सकते हैं और फिर वर्ष के अंत में आभूषण या सोने के सिक्कों की खरीद के लिए जमा राशि का उपयोग कर सकते हैं। ज्वैलर्स आपके आखिरी किस्तों का भुगतान करने या बनावट शुल्क पर भारी छूट जैसे इंसेंटिव भी दे सकते हैं।

  • कम सहायक शुल्क वाले निवेश विकल्प चुनें: सभी सोने के निवेश में संबंधित शुल्क जैसे बनावट शुल्क, ब्रोकरेज, और होल्डिंग और डिलीवरी शुल्क शामिल होते हैं। आपको इन सभी का मूल्यांकन करने, उनकी तुलना करने और जिस निवेश विकल्प में सबसे कम खर्च शामिल हैं ,इस आधार पर एक निर्णय पर पहुंचने की आवश्यकता है और साथ ही आपको अपने लक्ष्य को प्राप्त करने में मदद करता है।
  • एक व्यवस्थित दृष्टिकोण का पालन करें: कई बूंदें मिलकर एक सागर बनाते हैं। जैसा कि पहले उल्लेख किया गया है, आपको एक व्यवस्थित योजना बनाने की आवश्यकता है जहां आप अपने मासिक वेतन या आय की एक निश्चित राशि का निवेश करें । इसके अलावा उन कारकों को जांचें जहां किसी भी बोनस या झटके में मिले पैसे को आप तुरंत निवेश कर सकते हैं| अपने मासिक निवेश का अनुमान लगाने का एक सरल तरीका यह है-समय सीमा (आपकी क्षमता अनुसार,महीनों की संख्या में )के हिसाब से अपने सोने की आवश्यकता को विभाजित करना। उदाहरण के लिए, यदि आप 5 साल में 500 ग्राम सोना जमा करना चाहते हैं, तो आपकी मासिक खरीद होनी चाहिए: 500 / 60 = 8.33 या लगभग 8.5 से 10 ग्राम सोना हर महीने।
  • कीमतों के उतार चढ़ाव पर नजर रखें: सोने की कीमतें वर्तमान में एक सर्वकालिक उच्च दर पर हैं । वे भी अस्थिर हैं, जिसमे दरें लगभग हर दिन बदल जाते हैं । कीमतों पर नज़र रखना और उनकी चाल किस प्रकार है, इस पर ध्यान देना अनिवार्य है यदि आप स्मार्ट निवेश करना चाहते हैं। निवेश पर अधिकतम रिटर्न पाने के लिए,इसकी कीमत में गिरावट आने पर आप सोना खरीदना चाहेंगे। अपने फोन पर अलर्ट सेट करें या एक ऐप डाउनलोड करें जो आपको दैनिक आधार पर कीमतों में बदलाव को ट्रैक करने में मदद करे । इससे आपको सोने की खरीद करते समय एक सूचित निर्णय लेने में मदद मिलेगी।
  • समय-समय पर अपनी निवेश योजना की समीक्षा करें: स्वाभाविक रूप से, किसी भी योजना में परिवर्तनीय कारक हो सकते हैं। आपकी आय बढ़ सकती है, या सोने की मात्रा के संदर्भ में आपका लक्ष्य बदल सकता है। समय-समय पर अपनी योजना पर फिर से गौर करें ,यह देखने के लिए कि क्या यह अभी भी आपके लक्ष्यों के साथ संरेखित है या नहीं। योजना में बदलाव करने में संकोच न करें ताकि यह आपके भविष्य की वित्तीय जरूरतों के बेहतर अनुकूल हो।

अंतिम शब्द

अपनी शादी के लिए सोने जोड़ने के लिए हमारे ऊपर उल्लिखित सरल सात चरण की योजना का पालन करें । न केवल यह आपको अपने अनुसार अपने सपनो अनुसार उस खास दिन की योजना बनाने में मदद करेगा; यह आपको अपनी शर्तों पर ऐसा करने का मौका देगा। 




संबंधित लेख