Adani Airports: Adani Group attempting to dominate again through Adani Airports know company's plan in hindi

अडानी एयरपोट्स के जरिए अपनी छवि सुधारने की कोशिश में है अडानी ग्रुप, बनाई ये योजना

Adani Airports

Adani Airports: हिंडनबर्ग रिपोर्ट के बाद ग्लोबल मार्केट में एक के बाद एक झटके झेल रहा अडानी ग्रुप अब एयरपोर्ट के जरिए अपनी छवि सुधारने की कोशिश में है। अडानी ग्रुप अब अडानी एयरपोट्स के जरिए देश की प्रमुख एयरपोर्ट कंपनी बनने की योजना बना रहा है। अडानी ग्रुप के सीईओ अरुण बंसल के मुताबिक अडानी ग्रुप देश का प्रमुख एयरपोर्ट ऑपरेटर बनने के लिए पूरे भारत में और ज्यादा एयरपोर्ट के लिए बोली लगाएगा।

गौरतलब है कि  सरकार द्वारा हवाई अड्डे के प्राइवेटाइजेशन के फाइनल राउंड में अडानी एयरपोर्ट्स ने छह हवाई अड्डों के संचालन के लिए बोलियां जीती थी। भारत में अगले कुछ सालों में लगभग एक दर्जन से अधिक हवाईअड्डों का निजीकरण करने की उम्मीद है।

भारत में टॉप एयरपोर्ट डेलवलपमेंट ड्राइव में नवी मुंबई में अडानी ग्रुप का 2,866 एकड़ में फैला हवाई अड्डा शामिल है जो 2036 तक 90 मिलियन यात्रियों को संभालेगा। इसके अलावा दिल्ली में 70 मिलियन पैसेंजर्स को संभालेगा। 

बंसल ने कहा कि अडानी एयरपोर्ट्स देश के एविएशन मार्केट को लेकर उत्साहित है और अधिक एयरपोर्ट्स को कवर करना चाहता है। उन्होंने कहा कि पहले चरण के तहत नवी मुंबई एयरपोर्ट दिसंबर 2024 तक ऑपरेशन शुरू कर देगा। नवी मुंबई हवाई अड्डे के पहले चरण में यात्रियों को संभालने की क्षमता 20 मिलियन होगी। अडानी एयरपोर्ट्स मुंबई एयरपोर्ट का संचालन भी कर रहा है।

 

संवादपत्र

संबंधित लेख